महंगे खाद्य तेलों के लिए रहें तैयार,रिकॉर्ड ऊंचाई पर सूरजमुखी व सरसों तेल का भाव

शादी-विवाह के सीजन और त्योहारी मांग बढ़ने के साथ-साथ खाद्य तेलों का स्टॉक खाली होने से बीते सप्ताह दिल्ली तेल-तिलहन बाजार में विभिन्न खाद्य तेल-तिलहन कीमतों में सुधार का रुख रहा और कीमतों में पर्याप्त सुधार आया। सूरजमुखी तेल का भाव देश में 205 रुपये किलो की रिकॉर्ड ऊंचाई पर जा पहुंचा है तो सरसों दादरी तेल में 900 रुपये प्रति क्विंटल की तेजी दिखी।

सरसों और देशी तेलों की मांग बढ़ी

बाजार के जानकार सूत्रों ने बताया कि सोयाबीन उत्पादक देश अर्जेन्टीना में गर्मी की वजह से लगभग 2,000 हेक्टेयर में लगी फसल झुलस गई, जबकि दूसरे उत्पादक देश ब्राजील में अधिक बरसात की वजह से सोयाबीन उत्पादन में पर्याप्त गिरावट आ सकती है। उन्होंने कहा कि विदेशी आयातित तेलों के महंगा होने की वजह से सरसों और देशी तेलों की मांग बढ़ी है और हालत यह है कि राजस्थान में लगभग 30 साल से बंद पड़ी सरसों मिलों को दोबारा काम मिलना शुरू हो गया है।

खाद्य तेल कीमतों की वैश्विक तेजी

बाजार सूत्रों का मानना है कि खाद्य तेल कीमतों की वैश्विक तेजी से जहां तेल-तिलहनों की घरेलू कीमतों में भी सुधार हुआ है, वहीं इसकी वजह से देश में आगे तिलहन उत्पादन के बढ़ने की भी संभावना है। मौजूदा साल में सरसों और सोयाबीन के लिए जिस तरह किसानों को बढ़ा हुआ न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) मिला, वह आगे जारी रहा तो किसान गेहूं और धान की जगह तिलहनों की बुवाई का रकबा बढ़ा सकते हैं। इससे न केवल खाद्य तेलों के आयात पर करोड़ों रुपये की विदेशी मुद्रा बचेगी, बल्कि अधिशेष उत्पादन के निर्यात होने से हमें विदेशी मुद्रा प्राप्त होगी।

सरसों में मिलावट की संभावना कम

सूत्रों ने कहा कि मांग बढ़ने से जहां सरसों तेल-तिलहनों में सुधार आया वहीं स्थानीय के साथ-साथ निर्यात मांग के कारण मूंगफली तेल-तिलहनों की कीमतें भी लाभ में रहीं। मौजूदा आयात शुल्क मूल्य के हिसाब से सोयाबीन डीगम की कीमत देश में 136 रुपये किलो बैठती है, जबकि सरसों का दाम 132 रुपये किलो बैठता है। इसलिए सरसों में मिलावट की संभावना भी कम रह जाती है, जो उपभोक्ताओं के स्वास्थ्य के लिहाज से एक बेहतर खबर है।

 

उन्होंने कहा कि कुछ तेल कारोबारियों ने 90,000 टन खाद्य तेल आपूर्ति के फर्जी सौदे किए थे, जिसकी मार्च-अप्रैल में आपूर्ति होनी थी लेकिन तेल रिफाइनिंग करने वाली कंपनियों को इनकी डिलिवरी नहीं हो पा रही है। इसमें से 60,000 टन सोयाबीन डीगम तेल भी था। इसके अलावा 20,000 टन सरसों के सौदे थे और 10,000 टन पामोलीन के सौदे थे।  पामोलीन की वैश्विक मांग बढ़ने के बीच मौजूदा स्थितियों में सीपीओ और पामोलीन तेल कीमतों में भी सुधार आया। मलेशिया और शिकॉगो एक्सचेंज में भी बीते सप्ताह ज्यादातर तेजी का रुख बना रहा।

बीते सप्ताह घरेलू के साथ विदेशों में सोयाबीन के तेल रहित खल (डीओसी) की भारी मांग होने से सोयाबीन तेल-तिलहनों के भाव में भी पर्याप्त सुधार दर्ज हुआ। वित्त वर्ष 2019-20 के अक्टूबर से फरवरी माह के दौरान 3.45 लाख टन डीओसी का निर्यात हुआ था, जो 2020-21 की समान अवधि में लगभग चार गुना होकर 14 लाख 35 हजार टन हो गया है।

सोयाबीन 6,600 रुपये क्विन्टल के रिकॉर्ड भाव पर

पूरे वैश्विक स्तर पर सोयाबीन की मांग बढ़ी है। विशेषकर देश में सोयाबीन की बड़ियां बनाने वाली कंपनियों को सोयाबीन के बेहतर दाने 6,600 रुपये क्विन्टल के रिकॉर्ड भाव पर खरीदना पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीते सप्ताह सोयाबीन का भाव अपने पिछले सप्ताहांत के 1,250 डॉलर प्रति टन से बढ़कर 1,325 डॉलर हो गया जबकि सीपीओ का भाव पहले के 1,120 डॉलर से बढ़कर 1,170 डॉलर प्रति टन हो गया। वहीं सूरजमुखी तेल का भाव देश में 205 रुपये किलो की रिकॉर्ड ऊंचाई पर जा पहुंचा है।

गर्मी के मौसम शुरू होने के साथ वैश्विक स्तर पर पामोलीन की मांग काफी बढ़ी है। इसके अलावा देश में शादी-विवाह के सीजन और त्योहारी मांग के कारण सीपीओ और पामोलीन तेल कीमतों में भी समीक्षाधीन सप्ताहांत में पर्याप्त सुधार आया। सूत्रों ने कहा कि सोयाबीन दाना और लूज के भाव पिछले सप्ताहांत के मुकाबले क्रमश: 155 रुपये और 170 रुपये के सुधार के साथ क्रमश: 5,535-5,585 रुपये और 5,400-5,450 रुपये प्रति क्विन्टल पर बंद हुए।

सोयाबीन दिल्ली 900 रुपये उछला

सोयाबीन दिल्ली, सोयाबीन इंदौर और सीयाबीन डीगम तेल का भाव क्रमश: 900 रुपये, 950 रुपये और 650 रुपये के सुधार के साथ क्रमश: 14,000 रुपये, 13,650 रुपये और 12,650 रुपये प्रति क्विन्टल पर बंद हुआ। वहीं,   बाजार में मांग बढ़ने से सरसों के भाव में सुधार रहा और गत सप्ताहांत सरसों दाना 70 रुपये का सुधार दर्शाता 5,970-6,020 रुपये क्विन्टल पर बंद हुआ। सरसों दादरी तेल 900 रुपये सुधार के साथ 13,200 रुपये क्विन्टल पर बंद हुआ। सरसों पक्की घानी तेल की कीमत 65-65 रुपये लाभ के साथ क्रमश: 2,075-2,165 रुपये और 2,205 -2,320 रुपये प्रति टिन पर बंद हुई।

 

दूसरी ओर निर्यात गतिविधियों में आई तेजी के बीच मूंगफली दाना सप्ताहांत में 195 रुपये सुधार के साथ 6,215-6,280 रुपये क्विन्टल और मूंगफली गुजरात तेल 300 रुपये के सुधार के साथ 15,150 रुपये क्विन्टल पर बंद हुआ। मूंगफली सॉल्वेंट रिफाइंड की कीमत भी समीक्षाधीन सप्ताहांत में 60 रुपये सुधरकर 2,440-2,500 रुपये प्रति टिन बंद हुई।

कच्चे पाम तेल (सीपीओ) का भाव 500 रुपये बढ़ा

समीक्षाधीन सप्ताहांत में कच्चे पाम तेल (सीपीओ) का भाव 500 रुपये सुधरकर 11,500 रुपये प्रति क्विंटल हो गया। जबकि पामोलीन दिल्ली और पामोलीन कांडला तेल के भाव क्रमश: 900 रुपये और 700 रुपये सुधरकर क्रमश: 13,400 रुपये और 12,400 रुपये प्रति क्विन्टल पर बंद हुए। बीते सप्ताह तिल मिल डिलिवरी 500 रुपये सुधरकर 14,000-17,000 रुपये, बिनौला मिल डिलिवरी (हरियाणा) 550 रुपये सुधरकर 12,550 रुपये और मक्का खल 35 रुपये सुधरकर 3,565 रुपये क्विन्टल पर बंद हुआ।

यह भी देखे:-

हरिद्वार कुंभ से लौटे नेपाल के पूर्व राजा ज्ञानेंद्र शाह व उनकी पत्‍नी कोरोना पॉजिटिव, पतंजलि योग पी...
ग्रेटर नोएडा की सुपर मॉम्स ने राष्ट्रीय डान्सिंग मॉम में परचम लहराया
एकेटीयू के छात्रों को नौकरी पाने का है सुनहरा अवसर, अप्तारा कॉर्पोरेशन कराने जा रही है कैंपस प्लेसमे...
जो पूछते थे 2022 में कौन आएगा, उन्‍हें पंचायत चुनाव के नतीजों ने दे दिया जवाब- सीएम योगी
बिसरख धाम पहुंचे महामंडलेश्वर स्वामी प्रबोधानंद गिरी जी महाराज, जल्द होगा हिन्दू रक्षा सेना ईकाई का ...
समसारा विद्यालय को प्राप्त हुआ ‘द इंडिया स्कूल मेरिट अवार्ड 2022-23’ का सह-पाठयक्रम शिक्षा वर्ग में ...
डेल्टा वेरिएंट : WHO की चेतावनी, जल्द ही विश्व स्तर पर बन जाएगा सबसे प्रमुख कोरोना का स्ट्रेन
पुलिस को चकमा देकर फरार हुआ आरोपी, दोषी पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज
गौतमबुद्ध नगर में कोरोना का कहर : नौ माह के बच्चे और अस्सी साल के बुजुर्ग समेत चार संक्रमित
LOC पार 25 लांच पैड सक्रिय: स्वतंत्रता दिवस पर हमले की फिराक में आतंकी संगठन, खुफिया एजेंसी सतर्क
ग्रेटर नोएडा : रामलीला कमेटी के तत्वावधान मे राम कथा और भूमि पूजन
घंघोला गाँव की बेटियों ने कुश्ती में जीता स्वर्ण
पांच अगस्त: सीएम योगी हॉकी टीम को बधाई देते हुए बोले- लो आज एक और इतिहास बन गया
कोविड-19 महामारी के दौरान  एनटीपीसी दादरी प्रबंधन का सराहनीय सहयोग 
बाइक बोट के मालिक की रिमांड पूरी , उगले ये राज , पढ़ें पूरी खबर
Global Warming :हालात होंगे और ख़राब, यूपी सहित बिहार मे बढेगा हिट वेव