थैंक्यू नरेंद्र मोदी…कनाडा की सड़कों पर छाए पीएम के होर्डिंग्स, जानें वजह

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में भारत ने जिस तरह से अन्य देशों की मदद की है, उसकी वजह से दुनियाभर में जयजयकार हो रही है। नेपाल से लेकर कनाडा तक को भारत ने कोरोना वायरस की वैक्सीन देकर यह बताने की कोशिश की है कि संकट के दौर में भारत हमेशा अपने पड़ोसियों और मित्र राष्ट्रों के साथ खड़ा रहता है। यही वजह है कि कनाडा की सड़कों पर पीएम मोदी के बैनर-बोर्ड छाए हुए हैं। कनाडा को वैक्सीन मुहैया कराने के लिए ‘धन्यवाद मोदी’ के नाम से बिलबोर्ड (एक तरह के इलेक्ट्रिक बोर्ड) लगाए गए हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई ने इसकी दो तस्वीरें ट्वीट की हैं, जिसमें कनाडा को वैक्सीन देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा किया गया है। ये बिलबोर्ड ग्रेटर टोरंटों के इलाके में लगे हैं। इस पर पीएम मोदी की तस्वीर भी लगी हुई है। भारत और कनाडा की दोस्ती का जिक्र किया गया है।

बता दें कि कोरोना वायरस से पार पाने के लिए भारत ने कनाडा को भी वैक्सीन दी थी। पिछले हफ्ते ही भारत की वैक्सीन कनाडा पहुंची थी। भारत में बने कोरोना वायरस टीके की 5 लाख खुराक 4 मार्च को कनाडा के टोरंटो पहुंची थी एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की यह 5 लाख खुराक की खेप पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ओर से भेजी गई।

कनाडा की सार्वजनिक सेवा और खरीद मंत्री अनीता आनंद ने कहा कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो वादा किया था, वह निभाया। भारत की सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से तैयार की गई कोविशील्ड वैक्सीन की पांच लाख डोज की पहली खेप आज सुबह कनाडा पहुंची। उन्होंने कहा कि  हम भविष्य में भारत को सहयोग देने के लिए तत्पर हैं।

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने फोन कर प्रधानमंत्री मोदी से कोरोना वैक्सीन मुहैया कराने के लिए अनुरोध किया था। इस पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा था, “मुझे मेरे मित्र जस्टिन ट्रूडो का फोन आने पर खुशी हुई। कनाडा ने कोरोना वैक्सीन की जितनी डोज की मांग की है, उसकी सप्लाई पूरी तरह सुनिश्चित करने के लिए भारत सभी प्रयास करेगा।”

बता दें कि कोरोना वायरस से पार पाने के लिए भारत ने कनाडा को भी वैक्सीन दी थी। पिछले हफ्ते ही भारत की वैक्सीन कनाडा पहुंची थी। भारत में बने कोरोना वायरस टीके की 5 लाख खुराक 4 मार्च को कनाडा के टोरंटो पहुंची थी एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की यह 5 लाख खुराक की खेप पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ओर से भेजी गई।

कनाडा की सार्वजनिक सेवा और खरीद मंत्री अनीता आनंद ने कहा कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो वादा किया था, वह निभाया। भारत की सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से तैयार की गई कोविशील्ड वैक्सीन की पांच लाख डोज की पहली खेप आज सुबह कनाडा पहुंची। उन्होंने कहा कि  हम भविष्य में भारत को सहयोग देने के लिए तत्पर हैं।

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने फोन कर प्रधानमंत्री मोदी से कोरोना वैक्सीन मुहैया कराने के लिए अनुरोध किया था। इस पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा था, “मुझे मेरे मित्र जस्टिन ट्रूडो का फोन आने पर खुशी हुई। कनाडा ने कोरोना वैक्सीन की जितनी डोज की मांग की है, उसकी सप्लाई पूरी तरह सुनिश्चित करने के लिए भारत सभी प्रयास करेगा।”

 

यह भी देखे:-

वैष्णो देवी मंदिर परिसर में लगी भीषण आग, कोई हताहत नहीं   
पुष्कर सिंह धामी होंगे उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री, राजभवन के लिए रवाना
PRAYAGRAJ POLICE: साथ पढ़ाई, दोस्ती, प्यार और फिर यौन शोषण ,किया ब्लैकमेल, ,वीडियो कर दी वायरल, आरो...
घरेलू सहायिका ने लगाई फांसी, मालिक पर लगा आरोप
रंजीत हत्‍याकांड ; गुरमीत राम रहीम सहित पांच दोषी करार, सजा का एलान 12 अक्टूबर को
दीपावली पर्व की पूर्व संध्या पर जेल बंदियों की आध्यात्मिक उन्नति हेतु ध्यान, योग एवं प्रवचन एवं का “...
PARA ASIAN GAMES 2018 में वरुण भाटी ने झटका सिल्वर मेडल , गाँव में ख़ुशी की लहर
रोड को डुबो रहा है खुले नाले का गंदा पानी , नोएडा प्राधिकरण बेपरवाह
हर घर जल योजना 2019 के शुरुआत के बाद भी ग्रामीण पीने के पानी को है मजबूर
IEML पदाधिकारियों ने राज्यपाल नाईक व सीएम योगी से की मुलाकात , विश्व आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिक...
बच्चों को संक्रमित नहीं कर पाएगी कोरोना की तीसरी लहर, डाक्टरों का दावा
किसान आयोग बनने से ही सुधरेगी किसान की हालत : ठाकुर भानुप्रताप सिंह
आज का पंचांग, 16 जून 2020, जानिए शुभ -अशुभ मूहर्त
समसारा विद्यालय ने मनाया योग दिवस
लखनऊ: श्मशान हुए फुल तो अंतिम संस्कार के लिए ढूंढ़ ली नई जगह, दो घाटों पर 173 चिताएं जलीं
बच्चों पर भी पड़ सकता है कोरोना का गहरा प्रभाव, जानिए क्या हैं इसके प्रमुख लक्षण