बंगाल चुनाव: नंदीग्राम सीट से कांग्रेस-लेफ्ट गठबंधन ने किया उम्मीदवार का ऐलान, जानें ममता और शुभेंदु के सामने किसे उतारा

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव की शुरुआत इस महीने के आखिरी से होने जा रही है। जिन सीटों पर करोड़ों लोगों की नजरें हैं, उनमें से एक सीट नंदीग्राम है। नंदीग्राम विधानसभा सीट पर खुद राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं तो बीजेपी से उनके सामने शुभेंदु अधिकारी हैं। वहीं, अब कांग्रेस, लेफ्ट और आईएसएफ गठबंधन ने भी उम्मीदवार का ऐलान कर दिया है। गठबंधन की ओर से सीपीआई (एम) की मीनाक्षी मुखर्जी को नंदीग्राम सीट से उम्मीदवार बनाया गया है।

CPM की युवा विंग की नेता हैं मीनाक्षी: सीपीएम की यूथ विंग डीवाईएफआई यानी डेमोक्रेटिक यूथ फेडरेशन ऑफ इंडिया की पश्चिम बंगाल यूनिट की अध्यक्ष के तौर पर मीनाक्षी मुखर्जी जिम्मेदारी संभालती रही हैं। छात्रों और युवाओं के बीच अच्छी पकड़ रहने वाली मुखर्जी को उतारकर लेफ्ट और कांग्रेस ने एक तरह से महिला कार्ड खेला है। इसके जरिए लेफ्ट और कांग्रेस यह कह सकेंगे कि हमने ममता बनर्जी के मुकाबले एक युवा महिला को मौका दिया है। बता दें कि इस सीट से बीजेपी ने शुभेंदु अधिकारी को उतारा है, जो 2016 में इस सीट पर जीते थे। हालांकि तब वह ममता बनर्जी के सिपहसालार हुआ करते थे। टीएमसी के टिकट पर उन्हें 67 फीसदी वोट मिले थे। अब वह खुद को भूमिपुत्र बताते हुए चुनावी समर में उतरे हैं।

नंदीग्राम सीट से ममता बनर्जी से भरा नामांकन: मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को नंदीग्राम विधानसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया और जीतने का विश्वास जताते हुए कहा कि वह नंदीग्राम से कभी खाली हाथ नहीं लौटी हैं। इस सीट पर उनका मुकाबला पूर्व में अपने सहयोगी और अब भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी से होगा। बनर्जी ने तृणमूल प्रदेश अध्यक्ष सुव्रत बक्शी की उपस्थिति में हल्दिया सब डिविजनल कार्यालय में नामांकन दाखिल किया। इससे पहले उन्होंने दो किलोमीटर लंबे रोड शो में हिस्सा लिया और एक मंदिर में पूजा अर्चना की। नामांकन दाखिल करने में बाद बनर्जी एक और मंदिर गईं। उन्होंने कहा, ”मुझे विश्वास है कि मैं नंदीग्राम सीट से जीत हासिल करूंगी। मैं आसानी से भवानीपुर सीट से चुनाव लड़ सकती थी। मैं जब जनवरी में नंदीग्राम आई थी तब यहां से कोई विधायक नहीं था क्योंकि तत्कालीन विधायक ने इस्तीफा दे दिया था। मैंने आम लोगों के चेहरे को देखा और यहां से चुनाव लड़ने का निर्णय लिया।”

यह भी देखे:-

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर विशेषः जम्मू में बनेगा प्रदेश का पहला तारामंडल
ठेकेदार पर ग्रेनो प्राधिकरण ने लगाया जुर्माना, जानिए क्यों
नॉएडा विधायक पंकज सिंह 'नोवरा अवार्ड' से सम्मानित
ग्रेटर नोएडा-नोएडा में कल , 7 अक्टूबर को मतदान विशेष अभियान
मध्य प्रदेश: भोपाल और इंदौर में भी लगा नाइट कर्फ्यू, 8 शहरों में बाजारों पर पाबंदी
ब्रेकिंग: ग्रेटर नोएडा ईस्टर्न पेरीफेरल हाईवे पर लगा भीषण जाम
CBSE ने जारी की 10वीं और 12वीं के एग्जाम की डेट शीट, ऐसे करें चेक
विश्व पृथ्वी दिवस पर करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने लगाए पौधे
कोरोना प्रभावित ज़रूरत मंदों की ऐसे सहायता कर रहा है NTPC महिला संस्था जागृति समाज
उत्कृष्ट पत्रकारिता : "कलम के सिपाही" अवार्ड से सम्मानित हुए पत्रकार
नर्सों के चार हजार पद खाली, मरीजों की देखभाल प्रभावित, अस्पतालों में सृजित पदों के अनुपात में नर्सों...
यमुना प्राधिकरण के पूर्व सीईओ पीसी गुप्ता पर सीबीआई का शिकंजा
Whatsapp: वाट्सअप का पालिसी मनवाने का नया पैंतरा, बच नही पाएँगे आप
चुनावी हिंसा : वाराणसी ग्राम प्रधान पद के प्रत्याशी की गोलियां बरसाकर हत्या, इलाके में सनसनी
बड़ी लापरवाही: कोरोना की जगह लग गया एंटी रैबीज का टीका, डीएम ने बैठाई जांच, जानें क्या है पूरा मामला
14 साल पहले घर से चला गया था बेटा, लौटा तो लग्जरी कार और ट्रकों का मालिक बनकर, दिलचस्प है ये कहानी