अगर आप करते है हवाई यात्रा तो ये ख़बर आपके लिए है, मास्क सम्बन्धी नए नियम

अगर आप हवाई यात्रा करते हैं तो यह खबर आपके लिए महत्वपूर्ण है। हवाई यात्रा के दौरान अगर आपने ठीक से मास्क नहीं पहना तो आपके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। दिल्ली हाईकोर्ट ने यह फरमान सुनाया। हाईकोर्ट ने हवाई यात्रियों द्वारा मास्क ठीक से न पहनने को लेकर स्वत: संज्ञान लिया। हाईकोर्ट ने नियम के सख्त अनुपालन के लिए घरेलू एयरलाइंस और डीजीसीए को दिशानिर्देश जारी किए। इसमें उल्लंघन करने वालों के लिए दंडात्मक कार्रवाई और विमान की समय-समय पर जांच शामिल है।

न्यायमूर्ति सी हरि शंकर की पीठ ने देखा कि यात्रियों ने हवाई अड्डे से उड़ान तक जाने के दौरान ठीक से मास्क नहीं पहन रखा था। इस स्थिति का स्वत: संज्ञान लिया और तत्काल दिशानिर्देश जारी किए। हाईकोर्ट ने कहा कि वह एक खतरनाक स्थिति के कारण आदेश पारित करने के लिए विवश हैं, जिसे न्यायाधीश ने गत 5 मार्च को कोलकाता से नई दिल्ली के लिए एयर इंडिया की उड़ान के दौरान खुद देखा था। उन्होंने कहा कि सभी यात्रियों ने मास्क लगा रखे थे, लेकिन कई ने मास्क ठुड्डी के नीचे पहन रखा था। यह व्यवहार न केवल हवाई अड्डे से विमान में जाने के दौरान, बल्कि फ्लाइट के भीतर भी देखा गया। यात्रियों को बार-बार टोके जाने पर कहीं जाकर उन्होंने मास्क ठीक से पहना।

न्यायमूर्ति ने कहा कि चालक दल के सदस्यों से पूछने पर बताया कि यात्रियों को मास्क पहनने के निर्देश हैं, लेकिन यदि कोई पालन नहीं करता तो वे असहाय हैं। पीठ ने कहा कि ऐसी स्थिति तब है जब देश में कोविड-19 के मामले बढ़ रहे हैं। न्यायाधीश ने कहा कि किसी उड़ान में यात्री बंद वातानुकूलित वातावरण में होते हैं। यात्रियों में से अगर कोई एक भी संक्रमित हो तो भी अन्य यात्रियों पर खतरनाक प्रभाव हो सकता है।

अदालत ने क्या निर्देश दिए
पीठ के दिशानिर्देशों में चालक दल के सदस्यों द्वारा विमान की आवधिक जांच करना शामिल है, ताकि सुनिश्चित हो सके कि यात्री प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। यदि याद दिलाए जाने के बावजूद वह प्रोटोकॉल का पालन करने से इंकार करते हैं तो यात्री के खिलाफ डीजीसीए या स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार कार्रवाई की जानी चाहिए। इसमें उसे या तो स्थायी या एक निर्धारित अवधि के लिए नो-फ्लाई व्यवस्था में डालना शामिल है।

वेबसाइट पर प्रोटोकॉल प्रदर्शित हो
हाईकोर्ट ने डीजीसीए को अपनी वेबसाइट पर यात्रियों और विमान के चालक दल के सदस्यों द्वारा दिशानिर्देशों और प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देशों को तुरंत और प्रमुखता से प्रदर्शित करने के लिए कहा। पीठ ने कहा कि मामले को एक जनहित याचिका के रूप में पंजीकृत किया जाना चाहिए और 17 मार्च को जनहित याचिका की सुनवाई करने वाली एक उपयुक्त पीठ के समक्ष सूचीबद्ध किया जाना चाहिए। पीठ ने डीजीसीए और एयर इंडिया को दिशानिर्देशों के अनुपालन के संबंध में पीठ के समक्ष अपनी रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है।

यह भी देखे:-

PM मोदी के साथ कल मंच साझा कर सकते हैं मिथुन चक्रवर्ती, बंगाल की ब्रिगेड रैली में रहेंगे मौजूद
देखें VIDEO , जेवर में पीएम मोदी  के प्रस्तावित जेवर एयरपोर्ट शिलान्यास कार्यक्रम से पहले स्थलीय निर...
नोएडा : निर्माणाधीन बिल्डिंग की दीवार गिरी, दो की मौत, तीन घायल
नोएडा पुलिस के हत्थे चढ़े असलाह तस्कर, पिस्टल व तमंचा बरामद
नोएडा में सुन्दर भाटी गैंग का दो लाख का ईनामी बदमाश पुलिस एनकाउंटर में ढेर
आज रात 10 से गौतमबुद्ध नगर में लगा नाईट कर्फ्यू, पुलिस को गश्त का आदेश ,पढ़ें पूरी खबर 
AKTU: प्रो. विनीत कंसल को मिला एकेटीयू के कुलपति का प्रभार, प्रो. विनय पाठक 2 अगस्त को हुए थे सेवानि...
डेथ ऑडिट में खुलासा: 21-50 की आयु वालों पर ज्यादा भारी पड़ी कोरोना की दूसरी लहर
एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप: भारत के सात पदक पक्के, आज से शुरू हो रहा टूर्नामेंट
अगर एक हफ्ते में से सेक्टर डेल्टा टू की समस्याओं का समाधान नहीं होता है तो सेक्टर वाशी प्राधिकरण का ...
सोशल डिसटेंसिंग पर विशेष ध्यान देने की जरुरत : अलोक सिंह कमिश्नर पुलिस
देश के माथे पर एक कलंक की तरह था इंदिरा का आपातकाल, 10 बिंदुओं में जानें- इससे जुड़ी कुछ खास बातें
U.P. POLICE: 75 निरीक्षक हुए प्रोमोट मिला पुलिस उपाधीक्षक का पद
कोरोना : देश में थम रही रफ्तार, जानें क्‍या कहते हैं आंकड़े
WHO बोला- 53 देशों में कोरोना वायरस की नई लहर का खतरा, यूरोप कोरोना महामारी का केंद्र
किसानों का हक छीन रही है सरकार : सुरेन्द्र सिंह नागर, जेवर में सपा कार्यकर्ताओं का सम्मेलन सम्पन्न