यूपी: 11 साल की बच्‍ची से दरिंदगी और हत्‍या के आरोपी को फांसी की सजा, 7 महीने में अदालत ने किया इंसाफ

उत्‍तर प्रदेश के जौनपुर में 11 साल की बच्‍ची से रेप और हत्‍या करने वाले दरिंदे को अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है। सात महीने पहले उसने बच्‍ची के साथ इस जघन्‍य वारदात को बेहद निर्ममता से अंजाम दिया था। उसने बच्‍ची को मौत के घाट उतारने के बाद उसके चेहरे को एसिड से जला भी दिया था। उसके पकड़े जाने के बाद से अदालत में मामले की सुनवाई चल रही थी। छह मार्च को अदालत ने उसे दोषी ठहरा दिया था।

जौनपुर के मड़ियाहूं थाना क्षेत्र में यह वारदात हुई थी। बच्‍ची के साथ दरिंदगी की इस वारदात के खिलाफ जबरदस्‍त जनाक्रोश देखने को मिला था। लोगों ने तब इस मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर सड़क पर उतरकर आंदोलन किया था। छानबीन के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ करीब सात महीने तक चली सुनवाई के बाद सोमवार को अपर सत्र न्‍यायाधीश पॉक्‍सो प्रथम रवि यादव ने आरोपी को फांसी की सजा सुनाई।

बच्‍ची को टॉफी-बिस्‍कुट से फुसलाकर खेत मेंं ले गया था आरोपी

मुकदमे की सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष के अधिवक्‍ता ने न्‍यायालय को बताया कि ईंट-भट्टे पर काम करने वाला चंदौली का बालगोविंद उर्फ गोविंदा अपनी ससुराल मड़ियाहूं में रह रहा था। पिछले साल (वर्ष-2020) छह अगस्त को उसने 11 वर्षीय बच्‍ची और उसकी बहन को एक दुकान से टॉफी और बिस्‍कुट दिलाया। इसके बाद छोटी बहन को घर भेज दिया और बड़ी को बहला फुसलाकर मक्के के खेत में ले जाकर दुष्कर्म किया। मामला कहीं खुल न जाए इस डर से उसने बच्‍ची की गला और मुंह दबाकर हत्या कर दी।

इसके बाद चेहरे पर एसिड डालकर जला दिया और शव को खेत में छिपाकर भाग गया। छोटी बहन ने घर जाकर बताया तो घर वाले खोजबीन करने लगे। दो दिन बाद गांव वालों ने बताया कि बालिका का शव खेत में है। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया। जिसमें मृतका के साथ दुष्कर्म होने और सांस रुकने से मौत की पुष्टि हुई।

चंदौली से पकड़ा गया था दरिंदा

पुलिस ने आरोपित को चंदौली से गिरफ्तार किया और कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की। गत 26 नवंबर 2020 को आरोप तय हुआ। मृत बालिका की छोटी बहन व जिस दुकान से आरोपित ने टाफी -बिस्किट जाकर खरीदा था, दोनों ने कोर्ट में आरोपित का नाम लेते हुए गवाही दी। विशेष लोक अभियोजक राजेश उपाध्याय व एडीजीसी वीरेंद्र मौर्य ने 11 गवाह पेश किया। कोर्ट ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद छह मार्च को आरोपित को अपहरण, दुष्कर्म, हत्या, साक्ष्य छिपाने व पाक्सो एक्ट की धाराओं में दोषी करार दिया था। सोमवार को उसे फांसी की सजा सुनाई गई।

यह भी देखे:-

भयानक सड़क हादसा: ओवरलोड ट्राला पलटा, एक की मौत 
दिल्ली में रोहिंग्याओं के अवैध कब्जे को हटाएगी योगी सरकार, अरबों रुपए की है जमीन
गृह मंत्रालय का राज्यों को सख्त निर्देश, कहा- सावधानी से हटाएं लॉकडाउन की पाबंदियां, अनलॉक को लेकर द...
कोरोना का कहर : अब रेलवे परिसर में मास्क नहीं पहनना दंडनीय अपराध, लगेगा 500 रुपये तक का जुर्माना
यूपी पंचायत चुनाव: मैनपुरी में मुलायम सिंह की भतीजी संध्या यादव ने भाजपा के टिकट पर किया नामांकन
केंद्र सरकार के 48 लाख कर्मियों को डबल फायदा, डीए के बाद बढ़ेगा एचआरए, जानिए कितना इजाफा हो सकता है?
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन
जीबीयू में गांधी दर्शन केन्द्र का हुआ उद्घाटन
हिंदू बनी मुस्लिम लड़की ने सुरक्षा के लिए इलाहाबाद हाई कोर्ट से लगाई गुहार, कोर्ट ने SSP मेरठ को दिय...
श्री धार्मिक रामलीला कमेटी सेक्टर पाई: शूर्पणखा की नाक कटी, रावण ने किया सीता का हरण
प्रियंका का पाठ : आंदोलन का फायदा तभी, जब कांग्रेस संगठन हो मजबूत
बच्चों की वैक्सीन: सितंबर तक आ रही है वैक्सीन, वैक्सीन के बारे मे पढें पूरी रिपोर्ट
हिंदू गौ माता रक्षा दल (सैनी) ने बचाई नंदी की जान
फ्रिज, वाशिंग मशीन, एयर कंडीशनर के लिए PLI स्कीम को कैबिनेट में मिली मंजूरी: पीयूष गोयल
ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण की 123 वीं बोर्ड में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय, जानिए
'राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड' अब होगा 'मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवार्ड- PM मोदी