नर्सों के चार हजार पद खाली, मरीजों की देखभाल प्रभावित, अस्पतालों में सृजित पदों के अनुपात में नर्सों की संख्या है आधी

प्रदेश के अस्पतालों में स्टाफ नर्स के चार हजार पद खाली हैं। इनमें से 2987 पद वर्ष 2016 से रिक्त हैं। इन पदों पर भर्ती के लिए प्रस्ताव बनाकर दिसंबर 2019 में उप्र लोक सेवा आयोग को भेजा गया था। पर, अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है। इसके अलावा 696 पद वर्ष 2020 और फिर हाल ही प्रोन्नति होने से 429 स्टाफ नर्स के पद रिक्त हो गए हैं। प्रदेश में चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग में नर्सों के 7866 पर स्वीकृत हैं। 100 बेड के अस्पताल पर 30 स्टाफ नर्स की तैनाती का मानक हैं। जबकि एक सामुदायिक केंद्र पर तीन नर्सों के पद का मानक है। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर एक भी नर्स का पद सृजित नहीं है। इस तरह प्रदेश में बेड के अनुपात में कहीं भी नर्सों की तैनाती नहीं है। इसके चलते मरीजों की देखरेख प्रभावित हो रही है। स्थिति यह है कि अस्पतालों में सृजित पदों के अनुपात में आधी ही नर्सें ही उपलब्ध हैं। इसके चलते ड्यूटी पर तैनात नर्सों पर दोगुना से अधिक काम करना पड़ रहा है।

स्वास्थ्य महानिदेशालय ने 06 नवंबर 2019 को स्टाफ नर्सों के 696 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आयोग को पत्र लिखा था। इसके बाद दिसंबर 2019 को 2987 पदों पर भर्ती के लिए आयोग को पत्र लिखा गया। जब कोई कार्यवाही नहीं हुई तो 04 दिसंबर 2020 को एक बार फिर से निदेशक स्वास्थ्य को रिक्त पदों पर भर्ती के लिए प्रस्ताव भेजने की जानकारी मांगी गई। फिर भी अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। इसी बीच 429 स्टाफ नर्स की असिस्टेंट और डिप्टी नर्सिंग ऑफिसर के पद पर प्रोन्नति हो गई। इससे स्टाफ नर्स के खाली पदों की संख्या और बढ़ गई है। इस संबंध में महानिदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य डॉ. डीएस नेगी का कहना है कि स्टाफ नर्स के खाली पदों को भरने के लिए यूपीपीएससी को फिर से पत्र भेजा जाएगा।

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा : किसानों ने स्थगित किया धरना
शफ़ीपुर गांव में बाढ़ से फसल को खतरा, ग्रामीण परेशान
कोरोना आंखों के संक्रमण से करें बचाव, जानिए कैसे
Vaccine Side effects: कोरोना वायरस वैक्सीन लगने के बाद इन लोगों में दिख सकते हैं साइड इफेक्ट्स, स्टड...
जेईई मेन रिजल्ट 2021 : काव्या चोपड़ा ने रचा इतिहास, 300/300 अंक हासिल करने वाली पहली महिला 
राम भक्त केजरीवाल सरकार : दिल्ली के बुजुर्गों को मुफ्त कराएगी अयोध्या की यात्रा
नोएडा: पार्किंग में खड़ी बस बनी आग का गोला, घमाके के साथ हो रही आवाज, मची अफरा-तफरी
जल संरक्षण पर नुक्कड़ नाटक द्वारा दिया गया रचनात्मक सन्देश
जमालपुर कांड के बाद दनकौर पुलिस हुई सतर्क, लोगों से की अपराधिक घटनाओं की तुरंत जानकारी देने की अपील
CBSE, ICSE, State Board  की बची हुई परीक्षाओं के ल‍िए गृह मंत्रालय ने जारी की गाइडलाइन
समाजवादी लोग मंदिर में चंदा नहीं दक्षिणा देते हैं- अखिलेश यादव, राम मंदिर में भी वही देंगे
केंद्रीय राज्य मंत्री मनोज सिन्हा का भाजपाइयों ने किया स्वागत
कोरोना योद्धाओ के लिए जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह को उपलब्ध कराई पीपीई किट व सैनेटाइजर
राम मंदिर सुनवाई:19 जनवरी 1885 से 2019 तक के न्यायालय का सफर आखिरी पड़ाव पर..
कोरोनिल पर पतंजलि ने लिया यू टर्न, कहा- कोरोना की नहीं बनाई दवा
वारियर्स पर हमला या बदसलूकी करने पर होगी जेल, 50 हजार से लेकर 5 लाख तक होगा जुर्माना : अलोक सिंह