कोवैक्सीन के तीसरे चरण के प्रभावी नतीजे, लोगों में बढ़ेगी जागरुकता; लेंगे वैक्सीन की खुराक

नई दिल्ली, । देश में कोरोना वायरस वैक्सीन के प्रभावी आंकड़ों की भारतीय डॉक्टरों व राजनीतिज्ञों ने प्रशंसा की है। जनवरी में इमरजेंसी अप्रूवल दिए गए वैक्सीन के लिए प्रभावी आंकड़ों को देखते हुए उनकी ओर से गुरुवार को कहा गया कि इससे लोगों में वैक्सीन को स्वीकार करने की प्रक्रिया को बढ़ावा मिलेगा। दरअसल इस वैक्सीन के अंतिम चरण का ट्रायल पूरा नहीं हुआ था जिसके कारण लोगों के मन में हिचक बनी हुई है।

सरकारी आंकड़े https://dashboard.cowin.gov.in पर है जिसके अनुसार देश की कुल जनसंख्या 12.6 मिलियन का मात्र 10 फीसद हिस्सा ही इम्यून हुआ है जिसने कोवैक्सीन की खुराक ली है। बता दें कि अंतिम चरण के ट्रायल में इस वैक्सीन को 81 फीसद प्रभावी बताया गया। यह जानकारी बुधवार को वैक्सीन विकसित करने वाली कंपनी भारत बायोटेक ने दी। विपक्ष के सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने भारत बायोटेक के ऐलान का स्वागत किया है।

बता दें कि भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन को लेकर पहले कई सवाल उठ रहे थे। भारत बायोटेक की तरफ से बताया गया है कि तीसरे फेज के क्लिनिकल ट्रायल में 25,800 वॉलंटियर शामिल थे। किसी वैक्सीन पर भारत में हुआ यह अब तक का सबसे बड़ा ट्रायल बताया गया है। कोवैक्सीन के ट्रायल के बाद भारत बायोटेक की तरफ से कहा गया, ‘आज के तीसरे फेज के ट्रायल किए गए हैं। पहले, दूसरे और तीसरे चरण के ट्रायल में 27,000 वॉलंटियर्स शामिल रहे।’ भारत बायोटेक की तरफ से बताया गया है कि ट्रायल में पाया गया कि जिनको पहले संक्रमण नहीं हुआ है उनको कोवैक्सीन देने के बाद यह टीका कोरोना संक्रमण रोकने में अंतरिम रूप से 81 फीसदी प्रभावी है।

उल्लेखनीय है कि इस वैक्सीन को तीसरे फेज के ट्रायल के बिना ही इमरजेंसी अप्रूवल दी गई थी। हालांकि देश में वैक्सीनेशन का दूसरा फेज जारी है। इस फेज में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वयं वैक्सीन की पहली खुराक लगवाई और लोगों को संदेश दिया था। कोवैक्सीन पूरी तरह से स्वदेशी कोविड-19 वैक्सीन है। इसे भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) के सहयोग से विकसित किया गया है।

यह भी देखे:-

साम्प्रदायिक नारेबाजी मामले को लेकर एक्शन में दिल्ली पुलिस, अश्विनी उपाध्याय समेत 6 गिरफ्तार
एटीएस की पूछताछ में बड़ा खुलासा, दीवाली पर होता बड़ा धमाका, धनतेरस से थी शुरुआत
यूपी पंचायत चुनाव : एक वोटर को डालने होंगे चार वोट, जानें क्यों
रफ्तार के रोमांच के दौरान बीएमडब्ल्यू और सुजुकी हायाबुशा में हुई टक्कर में दो बाइकर्स की गई जान
देखें VIDEO, UP CM योगी आदित्यनाथ का ग्रेटर नोएडा- नोएडा की जनता को शानदार तोहफा
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव त्यागी की पत्नी ने कहा,  मेरे पति की मौत का जिम्मेवार संवित पात...
गले में मेडल डालकर फुटपाथ पर रात-दिन गुजार रहा हाकी खिलाड़ी तालिब, PDA ने किश्त नहीं जमा करने पर किय...
टोक्यो में तिरंगा लहराने के बाद दिल्ली पहुंचे पैरा ओलिम्पियन प्रवीण कुमार,  जेवर व दिल्ली के लोगों न...
Samrat Mihir Bhoj Controversy: शिलापट पर मिहिर भोज के नाम के आगे लिखा गया 'गुर्जर सम्राट'
केजरीवाल की अपील: कोविड नियमों का करिए पालन क्योंकि कोरोना से बचना है और अर्थव्यवस्था को भी पटरी पर ...
उत्तराखंड की धरती फ़िर कांपी कई इलाकों में महसूस हुए भूकंप के तेज झटके, 4.0 रही तीव्रता,कहाँ हुए ज़्या...
LOCKDOWN के दौरान छात्र नेता प्रभांशु नागर की शानदार मुहिम
चीन पर बढ़ रहा कोरोना वायरस की उत्पत्ति की जांच का दबाव, वैज्ञानिक कर रहे स्पष्ट सबूतों की मांग
जिन्ना विवाद : बसपा सुप्रीमो मायावती बोलीं- यूपी का माहौल खराब कर रही सपा-भाजपा
कानपुर सेंट्रल स्टेशन : ट्रेन मे थे लगभग 1.40 करोड़ रुपये, पंचायत चुनाव मे थी खपाने की योजना, जीआरपी...
अपहरण व रिश्वत मांगने के आरोप साइबर थाने का कांस्टेबल समेत 2 गिरफ्तार, दारोगा समेत पाँच कांस्टेबल फ...