पति की गुलाम या संपत्ति नहीं है पत्नी, साथ रहने को नहीं किया जा सकता मजबूर: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एक मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि पत्नी अपने पति की गुलाम या विरासत नहीं होती है जिसे पति के साथ जबरन रहने को कहा जाए। कोर्ट ने यह बयान एक ऐसे मामले की सुनवाई के दौरान दिया जिसमें पति ने कोर्ट से गुहार लगाकर अपनी पत्नी को साथ रहने के आदेश देने की मांग की थी।

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस संजय किशन और हेमंत गुप्ता ने कहा, ‘आपको क्या लगता है? क्या एक महिला गुलाम या संपत्ति है जो हम ऐसे आदेश दें? क्या महिला कोई संपत्ति है जिसे हम आपके साथ जाने को कहें?’

विवाद के मूल में दांपतिक अधिकारों की बहाली पर एक अप्रैल 2019 का आदेश है, जो कि गोरखपुर के फैमिली कोर्ट ने हिंदू विवाह ऐक्ट के सेक्शन 9 के तहत पति के हक में दिया गया था। महिला का दावा था कि साल 2013 में शादी के बाद से ही उसे दहेज के लिए पति ने प्रताड़ित किया।

साल 2015 में महिला ने गोरखपुर कोर्ट में याचिका दायर कर पति से गुजारा-भत्ता की मांग की थी। कोर्ट ने पति को 20 हजार रुपये हर महीने पत्नी को देने का आदेश दिया था। इसके बाद पति ने कोर्ट में दांपतिक अधिकारों की बहाली के लिए अपनी याचिका दायर की थी।

गोरखपुर के फैमिली कोर्ट के आदेश के बाद पति ने हाई कोर्ट का रुख किया और याचिका दायर कर गुजारा-भत्ता दिए जाने पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब वह अपनी पत्नी के साथ रहने को तैयार है तो इसकी जरूरत क्यों है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यह याचिका खारिज कर दी जिसके बाद शख्स ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया।

अपने बचाव में महिला ने यह दलील दी कि उसके पति का पूरा खेल गुजारा-भत्ता देने से बचने के लिए है। महिला के वकील ने कोर्ट को यह भी कहा कि पति तभी फैमिली कोर्ट भी गया जब उसे पत्नी को गुजारा भत्ता देने का आदेश मिला।

पति की ओर से लगातार पत्नी को साथ रहने का आदेश दिए जाने की मांग पर सुप्रीम कोर्ट ने यह टिप्पणी दी और पति की उस याचिका को भी खारिज कर दिया जिसमें उसने अपने दांपतिक अधिकारों को बहाल करने की मांग की थी।

यह भी देखे:-

गाजीपुर बॉर्डर पर दिल्ली से गाजियाबाद जाने वाला रास्ता फिर से बंद, आज सुबह ही खोला गया था एक छोर
देह व्यापार के आरोप में कॉलगर्ल सहित सात गिरफ्तार
आजादी से अब तक के कांग्रेस अध्यक्षों का सफर और अब नई सियासत की संभावना
गौतमबुद्ध नगर पुलिस : कई कोतवाल हटाए गए , 10 इंस्पेक्टर समेत 13 के तबादले
अजब-गजब मंजर : दूल्हे का चेहरा देखते ही भागी दुल्हन बिना दुल्हन ही लौटी बारात फिर हुआ ये जानें पूरा ...
आदर्श रामलीला सूरजपुर : पुत्र वियोग में महाराजा दशरथ ने त्यागे प्राण, अयोध्या में शोक , दर्शक हुए भा...
जहाँगीरपुर पब्लिक इंटर कॉलेज में विद्यार्थीयों को किये गये बैग वितरित
गलगोटियास विश्वविद्यालय में छात्राओं ने जाना, कैसे चटाएं मनचलों को धूल, सीखे आत्मरक्षा के गुर
इनामी अंतरराज्यीय वाहन चोर वाहिद उर्फ डॉक्टर समेत तीन गिरफ्तार, चोरी के वाहन, फर्जी नंबर प्लेट, वाहन...
उम्मीद एक सामाजिक संस्था - तम्बाकू से होने वाले खतरे के बारे में बताया , दिलाई शपथ
AUTO EXPO 2018 : पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन ने AFTEK के 'SCORPION' को किया लॉन्च
दिनदहाड़े गांव भुन्ना जाटान में गोली मारकर हत्या
गलगोटिया विश्विद्यालय के सहयोग से सार्थक एडू-विज़न एक्सपो का आयोजन   
CBSE 10th 12th Exams 2020 : जुलाई से होने वाली परीक्षा रद्द, पढ़ें विस्तृत खबर
समाजवादी पार्टी बूथ कार्यकर्ताओं के सम्मलेन में बोले सांसद सुरेन्द्र सिंह नागर , भाजपा ने देश को किय...
LOCK DOWN में इस गाँव के घर में चल रहा था कच्ची शराब बनाने का धंधा, दो गिरफ्तार