दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर अगले महीने से लगेगा टोल, एनएचएआई ने मंत्रालय को भेजा प्रस्ताव 

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर दौड़ने वाले वाहनों को अगले माह ( 31 मार्च तक) से टोल अदा करना होगा। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने केंद्रीय सड़क एवं रिवहन राजमार्ग मंत्रालय को टोल दरों का प्रस्ताव भेज दिया है, जिन्हें 15 मार्च तक स्वीकृति मिलने की उम्मीद है। प्रस्ताव के तहत दिल्ली-मेरठ के बीच 135 रुपये टोल वसूले जाने की तैयारी है। पहले और दूसरे चरण यानी सराय काले खां से डासना के बीच टोल की वसूली ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रीडर (एएनपीआर) की मदद से चलती हुई गाड़ी से दूरी के हिसाब टोल कटेगा, जबकि चौथे चरण में तीन जगहों पर टोल बूथ पर फास्टैग से टोल कटेगा।  होलसेल प्राइज इंडेक्स के आधार पर एनएचएआई ने 1.50 से 200 रुपये प्रति किमी के हिसाब से टोल लगाने के प्रस्ताव दिया है। इस हिसाब से दिल्ली-मेरठ के बीच कार से 69 किमी सफर करने वालों को एक तरफ से 135 रुपये टोल अदा करना होगा। दूसरे चरण में यूपी गेट से डासना के बीच अलीगढ़ रेल लाइन पर अभी रेलवे ओवर ब्रिज (आरओबी) का काम बाकी है, जिसमें अंतिम रूप से तैयार होने में अभी एक साल का वक्त लगेगा। ऐसे में एनएचएआई ने करीब 500 मीटर लंबे हिस्से को टोल दरों में शामिल नहीं किया है। उम्मीद है कि मंत्रालय प्रस्ताव दरों पर मुहर लगा सकता है। क्योंकि अभी तक बाकी सभी एक्सप्रेसवे पर इसी हिसाब से टोल दरें ली जा रही हैं।

एनएचएआई का दावा 31 मार्च तक दौड़ेंगे वाहन
केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी भले ही जून में एक्सप्रेसवे के उद्घाटन की बात कही हो, लेकिन एनएचएआई का दावा है कि अलीगढ़ रेल लाइन को छोड़कर बाकी सारा हिस्सा 31 मार्च तक तैयार कर यातायात के लिए खोल दिया जाएगा। इसके लिए मशीनों से लेकर मैन पावर को बढ़ा दिया गया है। तीन शिफ्टों में बांटकर काम किया जा रहा है।

ये हैं टोल की प्रस्तावित दरें
कहां से कहां                दूरी   (किमी)                 प्रस्तावित टोल दरें
सराय काले खां – यूपी गेट    8                                      20-25 रुपये
सराय काले खां – डासना     27                                     45-55 रुपये
सराय काले खां – मेरठ       69                                      120-135 रुपये
नोट : प्रस्तावित दरें कारों की हैं।

पहले और चौथे चरण में बढ़ेगा टोल
जहां पर एलिवेटेड रोड व पुल बनाए जाते हैं, वहां पर निर्माण लागत करीब 10 गुना बढ़ जाती है। उदाहरण के तौर पर पिलखुवा में पांच किमी की एलिवेटेड रोड बनी है। इस चरण में 125 रुपये का टोल छिजारसी में लिया जाता है, जिसमें करीब 75 रुपये अकेले एलिवेटेड रोड के तौर पर लिए जा रहे हैं। यही कारण हैं कि दिल्ली-मेरठ के बीच एक्सप्रेसवे 69 किमी का डेढ़ रुपये, जिसमें 100 रुपये टोल होना चाहिए था लेकिन यमुना पुल, हिंडन व हिंडन कैनाल, दो बड़े आरओबी व 700 मीटर की एलिवेटेड रोड के निर्माण के चलते 120 से 135 रुपये टोल वसूली का प्रस्ताव दिया गया है।

एक्सप्रेसवे के निर्माण में देरी रेलवे की तरफ से की गई है। हमने 2500 मीट्रिक टन वजन का पुल बनाने का प्रस्ताव रखा था, जिसे रेलवे ने बढ़ाकर 4700 मीट्रिक टन कर दिया। अब काम तेज गति से चल रहा है। एक हिस्से में आरओबी को छोड़कर बाकी काम 31 मार्च तक पूरा किया जाएगा। उससे पहले टोल दरों को लेकर भेजे गए प्रस्ताव पर भी मुहर लग जाएगा। मंत्रालय की कोशिश रहेगा कि किसी एक हिस्से में लोगों पर ज्यादा बोझ न पड़े। इसलिए औसत हिसाब से ही टोल लगाने की कोशिश रहेगी।
– जनरल वीके सिंह, केंद्रीय सड़क एवं परिवहन राजमार्ग राज्यमंत्री

किसानों ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे का काम बंद कराया
एक समान मुआवजा और सर्विस रोड आदि की मांग को लेकर किसानों ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे बंद करने का एलान कर दिया। शुक्रवार को किसानों ने गाजियाबाद क्षेत्र के मुुरादाबाद गांव के पास फिनिशिंग का काम रुकवा दिया। प्रशासन ने किसानों को मंगलवार तक का आश्वासन दिया है।

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के चौथे चरण डासना से मेरठ तक 32 किमी का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो गया है। डासना ओवरब्रिज और फिनिशिंग का कार्य बचा है। इसी को देखते हुए सपा नेता पवन गुर्जर और पूर्व जिला पंचायत सदस्य सतीश राठी के नेतृत्व में मांगों को लेकर 26 गांवों के किसानों ने प्रदर्शन किया।

उनका कहना है कि जिस तरह से भोजपुर गांव में टोल बूथ बनाकर सर्विस रोड बनाई गई है, उसी तरह से सैदपुर गांव की ओर भी ऐसा ही कट बनाकर व्यवस्था की जाए। किसानों ने शुक्रवार सुबह 10 बजे से दोपहर तीन बजे तक एक्सप्रेसवे को बंद रखा। प्रशासन द्वारा समझाने और जिलाधिकारी से मंगलवार को वार्ता कराने के आश्वासन पर किसान माने।

 

यह भी देखे:-

सिविल जज ऋतु नागर को करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने किया सम्मानित
ग्रेटर नोएडा : साईं बाबा की आज निकलेगी पालकी यात्रा
कोरोना योद्धाओं के लिए LONGLI TECHNOLOGY ने PPE KIT समेत मास्क व सेनेटाईजर दान दिया
पंचशील हायनिष सोसायटी में नवस्थापित मंदिर में हुआ सुंदरकांड पाठ और भंडारे का आयोजन
कोविड 19 की रोकथाम : प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिये आयुष विभाग द्वारा दवाई का वितरण
नोएडा में खुले प्राथमिक स्कूल, बढ़ी चहल-पहल
राष्ट्रपिता को अपना बनाने की होड़ में पूर्व प्रधान मंत्री लाल बहादुर शास्त्री को भूल रहे लोग
ग्रेटर नोएडा : बिसहड़ा में सीएम योगी की जनसभा , प्रियंका पर वार
UNCCD COP14:भूमि क्षरण को रोकने के लिए 14 अफ्रीकी देशों ने अपनाया 3S का फार्मूला
वाराणसी :- जारी हो गया कोरोना कर्फ्यू का नया आदेश, जानिए कौन सी दुकान कितने बजे तक खुलेगी
गौर सिटी स्टेडियम में हुआ रामलीला मंचन, जलाया गया 50 फुट का रावण
हर माह बन रही 8.5 करोड़ वैक्सीन, पर मई के पहले तीन हफ्ते में आवंटन 3.6 करोड़ का
कोरोना: मरीज की मौत के बाद निष्क्रिय हो जाता है वायरस, एम्स के विशेषज्ञों का खुलासा
गोरखपुर दौरे पर योगी दो कोविड अस्पताल जनता को करेंगे समर्पित, एम्स करेंगे निरीक्षण
कोरोना संक्रमित ध्‍यान दें... खान-पान में इन चीजों का करें प्रयोग, बिना जरूरत अस्‍पताल में न हों भर्...
कोरोना के बढ़ते मामलों पर रेलवे बोर्ड अलर्ट, एसी बोगियों का बढ़ेगा तापमान, हेपा फिल्टर भी लगेंगे