दिल्ली सरकार:: दुनिया की बनी पहली ऐसी सरकार जो अब सिर्फ इलेक्ट्रिक वाहनों का करेगी इस्तेमाल

दिल्ली सरकार के सभी विभाग अब सिर्फ इलेक्ट्रिक वाहनों का इस्तेमाल करेंगे। दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गुरुवार को इस बारे में घोषणा की। सिसोदिया ने कहा कि अगले छह महीनों के भीतर सभी गाड़ियों को इलेक्ट्रिक वाहनों से बदल दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के बेड़े में 2,000 से ज्यादा कारें हैं। सरकार को उम्मीद है कि उसके इस फैसले से देश और दुनिया के अन्य शहरों को प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन के मामलों से निपटने के लिए प्रेरणा मिलेगी, जिसकी गंभीरता और तत्परता से जरूरत है। आम आदमी पार्टी की अगुवाई वाली सरकार ने अगले तीन वर्षों में निजी वाहनों के मालिकों को इलेक्ट्रिक वाहनों में स्थानांतरित करने और अपने परिसर के भीतर चार्जिंग प्वाइंट स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए एक अभियान शुरू किया है। उप-मुख्यमंत्री के इसके एक दिन बाद यह घोषणा की।

सिसोदिया ने ट्वीट कर लिखा, “यह ऐतिहासिक पल है! दिल्ली को ‘इलेक्ट्रिक व्हीकल कैपिटल’ बनाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के विजन से प्रेरित, दिल्ली सरकार आज सिर्फ भारत ही नहीं, दुनिया में ऐसा करने वाली पहली सरकार बन गई, जिसने अपनी किराए पर लेनेवाले पूरे कार के बेड़े को इलेक्ट्रिक के साथ बदलने के लिए 6 महीने की एक समय सीमा तय की है। ‘स्विच दिल्ली’ की शुरुआत घर से होती है।उन्होंने कहा, “इस फैसले से 2,000 से ज्यादें कारें प्रभावित होंगी और अगले 6 महीनों में ईवी में परिवर्तित हो जाएंगी। हमें उम्मीद है कि यह निर्णय भारत और दुनिया भर के शहरों और सरकारों को प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन की समस्या से निपटने के लिए प्रेरित करेगा और जिसकी गंभीरता और तत्परता से आवश्यकता है।” ।

दिल्ली सरकार ने वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए पिछले साल अगस्त में एक इलेक्ट्रिक वाहन नीति की शुरुआत की थी। इस नीति के तहत, उसने राष्ट्रीय राजधानी में वाहनों के पंजीकरण शुल्क, रोड टैक्स माफ करने और नई कारों के लिए 1.5 लाख तक का प्रोत्साहन देने का वादा किया था।

Download Amar Ujala App for Breaking News in Hindi & Live Updates. https://www.amarujala.com/channels/downloads?tm_source=text_share

यह भी देखे:-

खतरे की घंटी : कोरोना 'निगल' रहा है बच्चों की सेहत, लंबे समय से घर में रहते हुए चिड़चिड़े
शिव महापुराण कथा में शिव पार्वती विवाह का रोचक प्रसंग सुनाया
इंटरमीडिएट के छात्रों को किया सम्मानित
बनारस की बेटी ने ममता बनर्जी को भेजा 51 हज़ार राम-नाम से उकेरा राम दरबार
सम्पूर्ण समाधान दिवस में डीएम-एसएसपी ने जनता की समस्या का किया निस्तारण
अंतिम यात्रा : अलीगढ़ से अतरौली लाई गई पूर्व CM कल्याण सिंह की पार्थिव देह
इन 3 और गुंडों पर लगाया गया गैंगस्टर
जेवर एयरपोर्ट को लेकर योगी के कैबनेट का ये अहम फैसला, पढ़े पूरी खबर
मेट्रो में होंगे आठ आठ कोच, भीड़ से मिलेगी राहत, नहीं करना होगा इंतजार
बाबतपुर एयरपोर्ट पर शारजाह से आए यात्री के पास से मिला सोना
औषधि विभाग की टीम ने मेडिकल स्टोर पर मारा छापा
प्राचीनकालीन ऐतिहासिक बाराही मेला, रागिनी कलाकारों ने बांधा समां, दर्शक हुए मंत्रमुग्ध
किसानों की समस्या को लेकर बीकेयू लोकशक्ति ने निकाला पैदल मार्च
प्रोजेक्ट मैनेजर के रूप में सभी लेखपाल करें अपना कार्य- डीएम
कोविड 19 के इलाज से हटी ये दवाएं, पढ़ें स्वास्थ्य मंत्रालय की नई गाइडलाइन
मोनिका सुखीजा ने जीता एम्प्रेस यूनिवर्स 2018 कंट्री राउंड , पेश है बातचीत के कुछ अंश