मुंबई: महलों के बाद अब आर्थर जेल मे रहेगा भगोड़ा मोदी, तैयार है “स्पेशल सेल”

पंजाब नेशनल बैंक को हजारों करोड़ रुपये का चूना लगाने वाले भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के मामले में ब्रिटेन की अदालत के फैसले के बाद उसे भारत लाने का रास्ता साफ हो गया है। नीरव के प्रत्यर्पण के खिलाफ दायर केस हारते ही भारत में उसके लिए प्रशासन तैयारियां में जुट गया है। उसके आने से पहले ही इस बात का फैसला हो गया है कि वह किस जेल में रहेगा और उसका बैरक नंबर क्या होगा। उसे सलाखों के पीछे बंद करने के लिए मुंबई की आर्थर रोड जेल ने एक विशेष सेल तैयार की हुई है। इसकी जानकारी शुक्रवार को एक अधिकारी ने दी।
जेल अधिकारी ने कहा कि एक बार जब नीरव मोदी को मुंबई लाया जाएगा, तो उसे बैरक नंबर 12 की तीन सेल में से एक में रखा जाएगा। यह एक उच्च सुरक्षा बैरक है। उन्होंने कहा, ‘नीरव मोदी को जेल में बंद करने की तैयारी पूरी हो चुकी है और जब भी उसका भारत में प्रत्यर्पण होगा, उसके लिए जेल की सेल तैयार है।’
भारतीय अधिकारियों को गुरुवार को प्रत्यर्पण ममाले में जीत मिली। अपना फैसला सुनाते हुए ब्रिटेन के एक न्यायाधीश ने कहा कि भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को न केवल भारतीय अदालतों में जवाब देना है बल्कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि उसे भारत में निष्पक्ष सुनवाई नहीं मिलेगी।
फैसला आने के बाद भारत ने कहा है कि नीरव मोदी के मामले में ब्रिटेन की अदालत के फैसले के बाद नीरव के प्रत्यर्पण के लिए जल्द संपर्क किया जाएगा। नीरव सभी आधारों पर प्रत्यर्पण के खिलाफ दायर अपनी लगभग दो साल लंबी कानूनी लड़ाई हार गया। 49 वर्षीय कारोबारी को मार्च 2019 में अपनी गिरफ्तारी के बाद से लंदन जेल में बंद रखा गया था। आरोपों की गंभीरता के कारण बार-बार उसकी जमानत को खारिज कर दिया गया था।
महाराष्ट्र जेल विभाग ने 2019 में नीरव मोदी को रखने के लिए जेल की स्थिति और सुविधाओं के बारे में केंद्र के साथ जानकारी साझा की थी। अधिकारी ने कहा कि केंद्र ने राज्य के गृह विभाग से इसके बारे में जानकारी मांगी थी क्योंकि तब नीरव मोदी के प्रत्यर्पण की कार्यवाही ब्रिटेन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत में एडवांस (अग्रिम) चरण में थी। राज्य सरकार ने केंद्र को उन सुविधाओं के बारे में आश्वासन का एक पत्र सौंपा था, जिसे वे जेल के अंदर प्रदान करेंगे।

यह भी देखे:-

गोरखपुर दौरा: आज दो विश्वविद्यालयों की सौगात देंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, यहां देखें पूरा शेड्यूल
वाराणसी : इंजेक्शन की किल्लत से ब्लैक फंगस के मरीजों की बढ़ी परेशानी , बीएचयू में 78 का चल रहा इलाज
इलेक्रामा-2020 की शानदार शुरुआत - 1300 से अधिक प्रदर्शकों ने किया दुनिया को ऊर्जा देने वाले इनोवेशंस...
Kanwar Yatra : सरकार की प्राथमिकता जानमाल की सुरक्षा- उत्तराखंड के सीएम पुष्कर धामी
वोकल फॉर लोकल :प्रधानमंत्री शनिवार को पहले 'भारत खिलौना मेला' का वर्चुअल उद्घाटन करेंगे
बच्चों ने पड़ोसी के उपले तोड़े, बड़ों में हुई कहासुनी खूनी संघर्ष में बदली, एक कि मौत
नोएडा में एनसीआर में हार्ट के सबसे बड़े अस्पताल समूह मेट्रो ग्रुप के दो अस्पतालो पर इनकम टैक्स डिपार्...
51 यजमानों के सहभागिता के साथ संकट मोचन महायज्ञ का समापन
जेवर एयरपोर्ट : देश का होगा सबसे बड़ा एयरपोर्ट, दो से छह रनवे को मिली मंजूरी
प्राविधिक शिक्षा परिषद लखनऊ दिसंबर 2019 परीक्षा का शांतिपूर्ण रूप से समापन
कराटे बेल्ट एग्जाम में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा
गौतमबुद्ध नगर: जिले के तीनों तहसील में अधिकारियों ने सुनी जनता की समस्या
महाकुंभ 2021: प्रवास के लिए हरिद्वार आने वाले हर वीआईपी को भी करानी होगी कोरोना की जांच
भारत बायोटेक की आज डब्ल्यूएचओ के साथ बैठक, कोवैक्सीन को मान्यता देने पर होगा फैसला
करप्शन फ्री इंडिया संगठन द्वारा मीठे शरबत का वितरण
हिमाचल : छह बार मुख्‍यमंत्री रहे वीरभद्र सिंह का निधन,तीन दिन का राजकीय शोक घोषित