अपराध: अब नही बचेंगे माफ़िया, सीएम योगी ने दिया यह सख्त आदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माफियाओं के खिलाफ जारी प्रदेशव्यापी अभियान को और तेज करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि माफियाओं को नेस्तनाबूद करने के लिए जो कुछ भी जरूरी हो, पूरी तत्परता से करें। हर एक कार्रवाई योजनाबद्ध ढंग से की जाए। इसमें किसी तरह की सुस्ती स्वीकार्य नहीं है।

वह सभी जोनल अपर पुलिस महानिदेशकों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश की कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान समीक्षा बैठक में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, डीजीपी एचसी अवस्थी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद और एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने सभी जोनल एडीजी को साफ तौर पर निर्देशित किया कि वे थाना और सर्किल स्तर की गतिविधियों पर स्वयं नजर रखें। इसकी रिपोर्ट बनाएं और मुख्यमंत्री कार्यालय को भेजें। यह सुनिश्चित करें कि पुलिस घटनाओं के दृष्टिगत प्रो-एक्टिव रहे। मुख्यमंत्री ने अपर मुख्य सचिव गृह से माफियाओं के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट व अन्य कानूनों के तहत हुई कार्रवाई और वसूली गई संपत्तियों के विवरण भी लिया।

खराब रिकॉर्ड वालों को फील्ड पोस्टिंग न दें

प्रदेश में जल्द होने जा रहे पंचायत चुनावों और अगले तीन माह के भीतर पड़ने वाले पर्व-त्योहारों का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने सभी जोनल एडीजी को निर्देश दिया कि वे जिलाधिकारियों और एसएसपी/एसपी से संवाद करते हुए यह सुनिश्चित करें कि किसी भी दशा में खराब रिकॉर्ड अथवा संदिग्ध छवि वाले पुलिसकर्मियों को महत्वपूर्ण पोस्टिंग न मिले। बेहतर हो ऐसे पुलिसकर्मियों की सूची तैयार की जाए। थाना और सर्किल स्तर से ऐसी शिकायतें प्राप्त होना उचित नहीं है। इस पर गंभीरता से कार्रवाई हो। अगर कहीं कोई समस्या हो तो तत्काल शासन से संपर्क करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति बीते चार वर्षों में बहुत अच्छी हुई है, इसे और बेहतर बनाए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जारी किए गए शस्त्र लाइसेंसों की सतत समीक्षा की जाए। पंचायत चुनावों के दृष्टिगत शस्त्र जमा कराने की कार्रवाई भी तेजी से पूरी की जाए। उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव, अगले वर्ष के विधानसभा चुनाव के लिए रिहर्सल सरीखा है। अराजक और आपराधिक प्रवृत्ति के लोग अपनी कुत्सित कोशिश करेंगे। ऐसे लोगों पर एडीजी कार्यालय स्तर से भी नजर रखी जानी चाहिए। उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से फेक न्यूज अथवा समाज में वैमनस्य फैलाने वालों की सतत मॉनीटरिंग करने के भी निर्देश दिए।

यह भी देखे:-

Naxal Attack: नक्सलियों ने भेजी अगवा जवान की तस्वीर, भाई ने कहा- इसपर विश्वास नहीं
Bengal Election: ममता ने बिहारियों को कहा गुंडा तो तेजस्वी चुप, राजनीति गरमाई तो लालू भी आए याद
Anaemia blood test and health awareness camp in Udayan Kendra
वर्चुअल आर्ट एग्जीबिशन देखें Indigalleria.com पर कल 15 अगस्त से 
भारी मात्रा में गांजा के साथ तीन तस्कर गिरफ्तार
खुशखबरी: BLW से मोजांबिक के लिए दो रेल इंजनों को आज रवाना करेंगे रेल मंत्री
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर सपाईयों ने दिया डीएम को ज्ञापन
दिल्ली पुलिस की जाबांज सिपाही स्वर्गीय शैली बैंसला की श्रद्धांजलि सभा आयोजित
सेक्टर ईटा - 1 में स्वच्छता अभियान चलाकर की सैक्टर की सफाई
मार्च में रिकॉर्ड GST संग्रह ने बदली तस्वीर, बदलते हालात में 9.3 फीसद पर रुक सकता है घाटे का आंकड़ा
सपा कार्यकर्ताओं ने महान क्रांन्तिकारी को किया नमन 
IEML पदाधिकारियों ने राज्यपाल नाईक व सीएम योगी से की मुलाकात , विश्व आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिक...
शक्ति राय बनीं एडमीरिया मिसेज इंडिया
सीएम योगी आदित्यानाथ ने लगवाई कोरोना वैक्सीन की पहली डोज
एल्गार परिषद-भीमा कोरेगांव मामला, नोएडा में प्रोफेसर के घर छापा