अब बीमा कंपनियां का भी होगा निजीकरण ,सरकार कर रही विचार, क्या आपका भी पैसा जमा है इनमें

नई दिल्ली, पीटीआइ। ओरिएंटल इंश्योरेंस या यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस में पूंजी लगाने के बाद इनकी वित्तीय स्थिति में सुधार दिख रहा है, जिससे सरकार कंपनी के निजीकरण पर विचार कर सकती है। मालूम हो कि सरकार सार्वजनिक क्षेत्र की सामान्य बीमा कंपनियों की वित्तीय स्थिति को बेहतर बनाने के लिए चालू तिमाही में अतिरिक्त तीन हजार करोड़ रुपये डालने वाली है। मामले से जुड़े लोगों ने इसकी जानकारी दी।

सूत्रों के मुताबिक, ओरिएंटल इंश्योरेंस और चेन्नई स्थित यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस दोनों की स्थिति बेहतर है इसलिए निजी क्षेत्र की दिलचस्पी इनमें हो सकती है। सूत्रों ने बताया कि निजीकरण के लिए एक बेहतर कंपनी चुनने की प्रक्रिया की शुरुआत हो चुकी है और इसे तय करने में कुछ समय लगेगा। उन्होंने कहा कि लिस्टेड न्यू इंडिया एश्योरेंस के चुने जाने से की भी संभावना है। योजना के मुताबिक, नीति आयोग निजीकरण के लिए सरकार को सिफारिश करेगा और इसके बाद वित्त मंत्रालय का निवेश एवं सार्वजनिक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) इस प्रस्ताव पर फैसला लेगा।

गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2021-22 में दो सार्वजनिक बैंकों और एक सामान्य बीमा कंपनी के निजीकरण की घोषणा की थी।  न्यू इंडिया एश्योरेंस में सरकार की 85.44 प्रतिशत हिस्सेदारी है। एक फरवरी को पेश हुए बजट में सीतारमण ने कहा था कि अगले वित्त वर्ष में एलआईसी का आईपीओ लॉन्च किया जाएगा। एलआईसी संशोधन अधिनियम को वित्त विधेयक का हिस्सा बनाया गया है, जिसमें देश के सबसे बड़े जीवन बीमाकर्ता के आईपीओ को लॉन्च करने के लिए आवश्यक विधायी संशोधन लाया गया है।

उधर, वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने पिछले दिनों कहा था कि भारतीय जीवन बीमा निगम के आईपीओ के इश्यू साइज के 10 फीसद तक का हिस्सा पॉलिसीधारकों के लिए आरक्षित रहेगा। उन्होंने यह भी कहा था कि वित्त राज्यमंत्री ने आगे कहा कि सरकार एलआईसी में बहुसंख्यक शेयरधारक बनी रहेगी।

यह भी देखे:-

कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर केंद्र ने राज्यों को दी जांच बढ़ाने की हिदायत, सम्भल के रहने की ज़रूरत
बीएचयू आईआईआईटी दीक्षांत समारोह : कॉलेज-विश्वविद्यालय ही नहीं, समाज भी है बड़ा शिक्षक
5 पुलिसवालों की लाशों को एक के ऊपर एक रखकर जलाना चाहता था,विकास दुबे
ब्रेकिंग ग्रेटर नोएडा ईस्टर्न पेरिफेरल हाईवे पर सुबह तड़के कुर्सियों टेम्पो में अज्ञात वाहन ने मारी ...
Weather Updates: कोहरे की चादर मे लिपटा दिल्ली-NCR , पड़ोसी राज्यों मे भी ठंड बढ़ने के आसार
India News
मिशन रक्तदान 2021: ग्रेटर नोएडा के यथार्थ अस्पताल में महिला उन्नति संस्था और SAFE संस्था के संयुक्त ...
बीएसएनएल दफ्तर में भी बनेगा आधार कार्ड, दूरसंचार दफ्तरों में अलग से बनाए गए काउंटर
एनटीपीसी दादरी अस्पताल में 238 सीआईएसएफ यूनिट के स्टाफ सदस्यों (फ्रंट लाइन वारियर्स) को कोविड-19 वैक...
किसान आंदोलन पर स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने कहा- प्रदर्शन करने वालों को भगवान सद्बुद्धि दे
Bihar election 2020: तेजस्वी के रिकांउटिंग की मांग को चुनाव आयोग ने किया खारिज
नोएडा :कोर्ट के आदेश पर 5 डॉक्टरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज
UNCCD COP14 का इंडिया एक्सपो मार्ट सेंटर ग्रेटर नोएडा में आगाज़
ग्रेटर नोएडा: महिलाओं की आवाज़ बुलंद करने वाले डॉ. राहुल वर्मा हुए सम्मानित
जब संसद में निर्मला सीतारमण ने दिलाई 'दामाद' की याद, 'हम दो हमारे दो' पर राहुल को घेरा
स्कूल बस में सीएनजी गैस रिसाव होने से अफरातफरी