सीट बंटवारे को लेकर अन्य पार्टियां कैसे बढ़ा रही हैं कॉंग्रेस की मुश्किलें, जानिए

बिहार विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन के बाद कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ गई हैं। केरल सहित सभी चुनावों राज्यों में सहयोगी दल अधिक सीट हासिल करने का दबाव बना रहे हैं। सहयोगी दलों की दलील है कि कांग्रेस के मुकाबले उनका स्ट्राइक रेट बेहतर रहा है, इसलिए चुनाव में जीत के लिए सहयोगियों को पिछले चुनाव के मुकाबले अधिक सीट मिलनी चाहिए।

यूडीएफ में शामिल लगभग सभी दल अधिक सीट की मांग कर रहे
केरल विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की अगुआई वाले यूडीएफ में शामिल लगभग सभी दल अधिक सीट की मांग कर रहे हैं। इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग 30 से ज्यादा सीट की दावेदारी कर रही है। जबकि वर्ष 2016 में 23 सीट पर चुनाव लड़ा था। आईयूएमएल के दूसरे घटल दल भी सीट बंटवारे में ज्यादा हिस्सेदारी चाहते हैं। ऐसे में कांग्रेस की चुनौती बढ़ सकती हैं।

आईयूएमएल के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में हमारा प्रदर्शन कांग्रेस के मुकाबले बहुत बेहतर था। एक माह पहले हुए स्थानीय निकाय के चुनाव में भी आईयूएमएल की स्थिति बेहतर रही। इसलिए, कांग्रेस को अधिक सीट पर चुनाव लड़ने के बजाए सहयोगियों को ज्यादा सीट देकर विधानसभा चुनाव में जीत सुनिश्चित करनी चाहिए।

कांग्रेस को यूडीएफ में नए सिरे से सीट बंटवारा करने के दबाव की एक वजह केरल कांग्रेस (मणि) और लोकतांत्रिक जनता दल के यूडीएफ से अलग होना भी हैं। इन दोनों पार्टियों ने पिछले चुनाव में 22 सीट पर चुनाव लड़ा था। कांग्रेस इनमें से आठ सीट केरल कांग्रेस (मणि) से बगावत करने वाले केरल कांग्रेस (जोसेफ) को देना चाहती थी और बाकी सीट अपने पास रख रही है। आईयूएमएल और दूसरे दल इन 14 सीट पर अपना हक जता रहे हैं।

पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 87 सीट पर लड़ा था चुनाव
वर्ष 2016 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 87 सीट पर चुनाव लड़ा था। पर पार्टी सिर्फ 22 सीट जीत पाई। पार्टी का स्ट्राइक रेट सिर्फ 25 फीसदी था। केरल कांग्रेस (मणि) के जोस के मणि के अलग होने से ईसाई मतदादाओं में यूडीएफ का दबदबा कम हुआ है। ऐसे में कांग्रेस पर आईयूएमएल और दूसरे दलों की अधिक सीट की मांग का दबाव और बढेगा।

यह भी देखे:-

जीबीयू की रिमोट प्राक्टर्ड ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा में छात्रों की अच्छी उपस्थिति
ग्रेनो में बिजली कट पर एनपीसीएल ने बताई ये वजह
देखें VIDEO, 26 फ़रवरी को आयोजित होने वाले दीक्षांत समारोह पर रिपोर्ट
Diwali Celebrations at Ryan Greater Noida
अंतरिक्ष में होगा भारतीय स्टार्टअप्स के सैटेलाइट्स का दबदबा, ISRO ने पहली बार की प्राइवेट उपग्रहों क...
इलाहाबाद हाईकोर्ट का निर्देश यूपी में 30 अप्रैल से 15 मई के बीच कराएं पंचायत चुनाव
"नई मंजिल" योजना का दादरी में शुभारंभ , क्षेत्र में फैलेगी शिक्षा की रोशनी
चारा घोटाला: तीसरे मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को सुनाई गई सजा
LPG Price: आम आदमी को लगा महंगाई का झटका, बढ़ गईं घरेलू LPG सिलेंडर की कीमतें, जानिए नया रेट
प्राविधिक शिक्षा परिषद लखनऊ दिसंबर 2019 परीक्षा का शांतिपूर्ण रूप से समापन
तीन तलाक पीड़िताओं पर यूपी सरकार का फैसला,
ईशान आयुर्वेद में गुरुनानक देव की जयंती गुरु पर्व पर वैदिक हवन का आयोजन
Summer Camp at Ryan Greater Noida
COVID-19 : बिहार में कोरोना से हुई पहली मौत
जी. डी. गोयंका में गुड फ्राईडे एवं ईस्टर का सन्देश छात्रों को आॅन लाइन
यूपी पंचायत चुनाव : ख़ुद को मौका नही मिला तो जुगाड़ मे लगें नेता जी, सामान्य और ओबीसी के दावेदारों ने ...