यूपी पंचायत चुनाव : ख़ुद को मौका नही मिला तो जुगाड़ मे लगें नेता जी, सामान्य और ओबीसी के दावेदारों ने शुरू की नई तलाश

पंचायत चुनाव को लेकर ग्रामसभाओं में गहमागहमी तेज हो गई है। ग्राम सभाओं में इस बार सीट एससी के लिए आरक्षित होने के आसार भांपकर भावी उम्मीदवारों को डर सताने लगा है। जिन ग्राम सभाओं में इस बार सीट एससी होने की आशंका बनी है। वहां सामान्य और ओबीसी वर्ग के उम्मीदवार एससी कोटे से अपने खासमखास को प्रधानी का उम्मीदवार बनाने की फिराक में लग गए हैं। सामान्य और ओबीसी के उम्मीदवार सालों से प्रधान बनने का सपना संजोए थे। अब ऐसे सभी लोग ऐसा उम्मीदवार उतारने में जुटे हैं जो सिर्फ नाम का ही प्रधान रहे, ताकि वे अपने काम साध सकें।

कई ग्रामसभाओं में ऐसे कई उम्मीदवार हैं जो कि अगर इस बार चुनाव नहीं लड़ पाए तो गंवई राजनीति से गायब हो जाएंगे। ज्यादातर सामान्य व ओबीसी वर्ग के ऐसे लोग प्रधानी की सीट एससी होने पर जिला पंचायती का चुनाव लड़ने की तैयारी भी करने लगे हैं। ग्राम सभाओं में सीट एससी के लिए आरक्षित होने की आशंका से उम्मीदवारों का समीकरण भी बदल गया है। बैठकबाजी भी तेज हो गई है। सीट एससी होने की उम्मीद में पूर्व प्रधानों व सामान्य एवं ओबीसी पद के उम्मीदवारों से भी एससी उम्मीदवारों ने अब संपर्क बढ़ाना तेज कर दिया

आरक्षण से पहले डीपीआरओ को मिलेगी ट्रेनिंग :

आगामी पंचायत चुनावों में विभिन्न पदों के लिए दावेदारों को अभी तीन मार्च तक आरक्षण सूची का इंतजार करना पड़ेगा। जिसके लिए डीपीआरओ कुमार अमरेंद्र तीन दिवसीय ट्रेनिंग लेने के लिए लखनऊ गए हुए है। ट्रेनिंग में जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार जिले की ग्राम पंचायतों, जिला पंचायत सदस्य, ब्लाक प्रमुख, बीडीसी व पंचायत सदस्यों के पदों पर आरक्षण की स्थिति साफ की जाएगी।

बागपत जनपद के छह ब्लाकों में 244 ग्राम पंचायतें, 505 बीडीसी, 3332 पंचायत सदस्यों के पद पर चुनावों की तैयारी जोरों पर चल रही है। जिसके लिए गांव-गांव पंचायतों का दौर भी चल रहा है। विभिन्न पदों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे दावेदारों के मंसूबों पर शासन की तरफ से जारी की गई आरक्षण की गाइडलाइन ने पानी फेर दिया। जिसमें जिला पंचायत अध्यक्ष पद एससी महिला के आरक्षित कर दिया गया है तो वहीं ग्राम पंचायत, बीडीसी, ब्लाक अध्यक्ष के अलावा अन्य पदों पर भी आरक्षण को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। जिसको लेकर प्रशासनिक अमला भी लगातार मंथन कर रहा है। डीपीआरओ कुमार अमरेंद्र ने बताया कि सभी पदों पर आरक्षण की सूची 3 मार्च को जारी की जाएगी। जिसके लिए उन्हें ट्रेनिंग के लिए लखनऊ बुलाया गया है। तीन दिवसीय ट्रेनिंग में आरक्षण तय करने की स्थिति आदि समझाई जाएगी। जिसका बारीकी से अध्ययन करने के बाद ही आरक्षण सूची जारी की जाएगी।

यह भी देखे:-

बहुजन समाज पार्टी का नया गौतमबुद्ध नगर लोकसभा प्रभारी नियुक्त
दर्जनों भाजपाई सपा में शामिल
पीएम मोदी व भागवत का पुतला फूँक रहे युवा कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार
उत्तर प्रदेश में पुलिस उपाधीक्षकों के तबादले
नरेन्द्र सिंह भाटी से मिलकर अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा के कार्यकर्ताओं ने किया आभार व्यक्त
बिसरख मंडल में भाजपा कार्यकर्ताओं ने मनाया पंडितदीनदयाल उपाध्याय जयंती 
नव नियुक्त सपा जिलाध्यक्ष बीर सिंह यादव ने किया बीजेपी पर कटाक्ष
सहोदया स्कूल कॉम्पेक्स ,एन सी आर " " पंचम वार्षिक सम्मेलन 2021 "
Unnao case: किशोरी ने शुरू किया खाना पीना, आज दर्ज हो सकते हैं बयान, वेंटीलेटर सपोर्ट हटाया गया
कार्यकर्ताओं के त्याग, तपस्या परिश्रम से ही भाजपा विश्व का सबसे बड़ा राजनीतिक दल :प्रिंस भारद्वाज
U.P. सरकार का बड़ा कदम, 16 अंक की यूनीक आइडी से रुकेगी जमीन की धोखाधड़ी
भ्रष्टाचार में घिरे दो आईपीएस  खिलाफ सख्त कार्रवाई की सिफारिश
अधिवक्ता सभा का अध्यक्ष बनने पर नितीश बैसोया का हुआ भव्य स्वागत
गुर्जर समाज के सैकड़ों लोगों ने आजाद समाज पार्टी की सदस्यता ग्रहण की
30 फीसदी तक बढ़ा घरेलू विमान सेवाओं का किराया,
Rinku Sharma: जिसकी पत्नी को खून देकर बचाई थी जच्चा बच्चा की जान, उसी ने कर दी हत्या