UP मे आनंद लीजिये मेट्रो के बाद अब पॉड टैक्सी का, खूबियां जानने के बाद आप भी कहेंगे वाह!

नोएडा/ग्रेटर नोएडा। यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण यानी यीडा सिटी में फिल्म सिटी से नोएडा एयरपोर्ट के बीच पॉड टैक्सी मैटरिनो चलाई जा सकती हैं। यमुना प्राधिकरण जल्द ही इसकी व्यावहारिकता रिपोर्ट दिल्ली-मुंबई रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) से तैयार कराएगा। इससे नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को मेट्रो कनेक्टिविटी दी जाएगी। बता दें कि जेवर में बनने जा रहे एयरपोर्ट को दिल्ली-एनसीआर के तकरीबन सभी दर्जनभर शहरों से जोड़ने की योजना है। खासकर दिल्ली, गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा-ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद से। इससे लाखों लोगों को सफर आसान होगा।

★ प्राधिकरण जल्द DMRC से रिपोर्ट बनवाएगा:–

पॉड टैक्सी यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण जल्द ही इसकी व्यावहारिकता रिपोर्ट दिल्ली-मुंबई रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) से तैयार कराएगा। इससे नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को मेट्रो कनेक्टिविटी दी जाएगी। इससे दिल्ली-एनसीआर के लोगों को सफर भी आसाम हो जाएगा। पॉड टैक्सी की प्रति किमी लागत 50 करोड़ रुपये के करीब है।

 

★ क्या है नंबर गेम :—
5.5 किमी लंबा होगा रूट। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को दी जाएगी मेट्रो कनेक्टिविटी। 25 से घटाकर छह स्टेशन रखने का फैसला, ऐसा एयरपोर्ट के लिए एक्सप्रेस मेट्रो की जरूरत को देखते हुए किया गया। 50 करोड़ रुपये के करीब है पाड की प्रति किमी लागत 4 से 6 लोग एक पाड में एक साथ बैठ सकते हैं। 100 किमी प्रतिघंटा होगी इसकी अधिकतम रफ्तार

★ किसको होगा फ़ायदा :–
एयरपोर्ट व फिल्म सिटी के मध्य पड़ने वाले औद्योगिक सेक्टर, मेडिकल डिवाइस पार्क में काम करने वालों को होगी आसानी। फिल्म सिटी घूमने के लिए आने वाले पर्यटकों को भी एयरपोर्ट तक आवाजाही के लिए मिलेगा अच्छा विकल्प।

★ वाराणसी, हरिद्वार मे भी चलेगी पॉड टैक्सी:–

गुरुग्राम से मानेसर के बीच 70 किमी रूट पर इसे चलाने की योजना है। इसके अलावा वाराणसी, हरिद्वार जैसे शहरों में भी पाड संचालन करने की योजना पर काम हो रहा है।

डॉ.अरुणवीर सिंह (सीईओ, यमुना प्राधिकरण) का कहना है कि फिल्मी सिटी व नोएडा एयरपोर्ट के बीच पाड टैक्सी चलाने की योजना है। इसकी व्यावहारिकता रिपोर्ट जल्द तैयार कराई जाएगी।

★ पॉड टैक्सी किसे कहते है :—
इसका वजन 820 किलो है और इसमें 500 किलो तक वजन एक साथ ले जाने की क्षमता होगी। इसे संकरी गलियों, मॉल, होटल, ऑफिस व हॉस्पिटल के गेट के सामने से ट्रैक बनाकर चलाया जा सकता है। इसकी रफ्तार 40 किमी प्रति घंटे होगी। यह बैटरी से चलने वाली छोटी कार जैसी टैक्सी है, जो एलिवेटेड रोड पर रबर के टायर से बिना ड्राइवर के चलती है। छह सीटर टैक्सी में कोई भी बैठकर जा सकता है। पब्लिक ट्रांसपोर्ट में यह पहला कंप्यूटर ऑपरेटेड वाहन होगा, जिसमें पैसेंजर के टिकट खरीदते ही कंप्यूटर पॉड टैक्सी को संकेत देगा और टैक्सी स्टेशन पर आपका इंतजार करेगी। जब टैक्सी स्टेशन पर रहेगी, तब तक यह रिचार्ज होती रहेगी। मेट्रो की तुलना में लागत कम पाड टैक्सी की निर्माण लागत मेट्रो की तुलना में एक तिहाई है। संचालन खर्च भी कम, चालक की नहीं होती जरूरत। पूर्व निर्धारित स्थान पर पाड रुकती है और स्वचलित दरवाजे खुल जाते हैं। यात्रियों को गंतव्य की सूचना फीड करनी होती है। यह सकरी जगह में संचालित की जा सकती है।

यह भी देखे:-

फिजियोथेरेपिस्ट डॉ राहुल त्यागी को किया गया सम्मानित
यूपी ब्रेकिंग : भीषण टक्कर के बाद ट्रक और बस बने आग का गोला, दो दर्जन यात्रियों के जल कर मरने की आश...
सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश का पूरा स्टाफ कोरोना पॉजिटिव, जानें अब तक कितने कर्मचारी हुए संक्रमित
कस्बा जेवर में खेल के मैदान की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए: प्रिंस भारद्वाज 
किसान आंदोलन : पीएम ने दिया संसद मे जवाब, कृषि बिल पे आ सकता है नया फार्मूला।
Lockdown 2021 Extension: LG-सीएम की अहम बैठक आज, अरविंद केजरीवाल कर सकते हैं कई कड़े नियमों का एलान
नोएडा में सांस लेना हुआ मुश्किल
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन
गंगा एक्सप्रेस वे का स्वागत , हाई कोर्ट पश्चिमी बेंच पर निर्णय ले सरकार : डॉ. आनंद आर्य
असहयोग आन्दोलन को वापस लेने से आजादी में विलंब हुआ - प्रो.भगवती प्रकाश शर्मा
इन लोकसभा चुनाव क्षेत्र के परिमाण आने में हो सकती है देरी, पढ़ें पूरी खबर
करप्शन फ्री इंडिया ने मनाई नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती
बिलासपुर मे कूड़े की समस्या को लेकर करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने दिया ज्ञापन
मुख्तार अंसारी के बहाने BJP नेता का ममता बनर्जी पर तंज, बोले- एक हार के डर से व्हीलचेयर पर, दूसरा मा...
स्वर्गीय चौधरी वेद राम सिंह नागर की पुण्यतिथि पर होगा कवि सम्मेलन का आयोजन
शहीद भगत सिंह के बताये रास्ते पर चले युवाः देवेंद्र गुर्जर