वाराणसी : बेटी होने पे नही लेती कोई चार्ज, मोदी भी है इनके फैन, डॉक्टर शिप्रा धर

वाराणसी :  कहते है कि डॉक्टर भगवान का दूसरा रूप होता है और जब ये हकीकत मे देखने को मिलता है तो विश्वास और बढ़ जाता है। प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी मे एक महिला डॉक्टर है जो डॉक्टर मे भगवान होने की कहावत को सच साबित करती है।

इनका नाम है डॉ. शिप्रा धर। डॉ धर एक ऐसी स्त्री रोग विशेषज्ञ है जो महिलाओं के स्वास्थ्य के प्रति समय समय पर जागरूकता फैलाती रहती है। इसी के साथ प्रधानमंत्री के “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” की मुहिम मे बढ़ चढ़ के योगदान देती है और इस मुहिम को एक कदम आगे बढ़ाते हुए ये अपने नर्सिंग होम “काशी मेडिकेयर ” मे पैदा होने वाली बच्चियों की मुफ़्त डिलेवरी करती है। इसी के साथ नर्सिंग होम मे खुशी खुशी मिठाई भी बँटवाती है।
इस काम में डॉ. धर की सहायत उनके पति डॉ.एमके श्रीवास्तव भी बखूबी करते हैं। दोनों मिलकर इस अच्छे काम को करने की कोशिश करते हैं। डॉक्टर शिप्रा ने बीएचयू से एमबीबीएस और एमडी किया है और पिछले कई सालों से शिप्रा धर वाराणसी में यह काम कर रही हैं। अब तक धर ने तकरीबन 405 बेटियों के जन्म पर कोई भी चार्ज नहीं लिया है।

डॉ. धर और उनके पति डॉ.एमके श्रीवास्तव के कार्य को सभी ने सराहा है। इन दोनों दम्पति की ओर से अस्पताल में बेटी के जन्म पर कोई फीस नहीं लेने की बात जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पता चली तो वो डॉ. धर से मिले भी थे। दरअसल, जब ये बात प्रधानमंत्री को चली तो थी तो वो उन दिनों प्रधानमंत्री वाराणसी आए हुए थे मंच से कहा था कि सभी डॉक्टरों को भी किसी एक दिन फ्री में डिलिवरी करवानी चाहिए।

यह भी देखे:-

कोरोना अपडेट : गौतमबुद्ध नगर में कोरोना ने रिकॉर्ड तोडा, पूरे प्रदेश में क्या है हाल जानिए 
2 अक्टूबर से "हर घर सोलर अभियान"आयोजित करेगी योगी सरकार
RYAN GREATER NOIDA'S GIRLS OUTSHINE AT THE “ITS QUIZ”
WhatsApp पर मौजूद है दो कमाल के सीक्रेट फीचर्स, चुपके से पढ़ें किसी के मैसेज, चैटिंग करते हुए किसी क...
यथार्थ सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल द्वारा ग्रेटर नोएडा में वाकाथॉन का हुआ आयोजन
आई0 टी0 एस0 डेन्टल कॉलेज  में मनाया गया योगा डे
उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर आईएएस अधिकारीयों के तबादले
रोटरी क्लब ने किया पोलियो शिविर का आयोजन
शारदा अस्पताल ने मनाया विश्व ग्लूकोमा (काला मोतिया)दिवस
जेवर में दलित महिला से गैंगरेप की घटना का पूर्व सीएम मायावती ने लिया संज्ञान, पुलिस में मचा हड़कंप
जांबाज सिपाही रजनीश को डीजीपी ने किया सम्मानित
AKTU: परीक्षा फॉर्म भरने की बढ़ाई गयी तिथि
नवंबर में होने वाली NDA प्रवेश परीक्षा में शामिल हो सकेंगी महिला उम्मीदवार : सुप्रीम कोर्ट
गलगोटिया विश्वविद्यालय में विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया गया
पलायन करने वाले सभी हों वापस, UP में अब गुंडों का दमन करने वाली सरकार- CM योगी आदित्यनाथ
AKTU: पीजी पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन