फर्जी कॉल सेंटर खोलकर नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, एक गिरफ्तार, दो फरार

नोएडा के कोतवाली सेक्टर-58 पुलिस ने फर्जी कॉल सेंटर खोलकर नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह के ठग को गिरफ्तार किया है, जबकि उसके दो साथी अभी फरार हैं। पुलिस ने आरोपी के ऑफिस से वारदात में इस्तेमाल कीपैड के 14 मोबाइल, पांच कम्प्यूटर सिस्टम और एक स्मार्ट फोन बरामद किया है।

पुलिस कि गिरफ्त में खड़े राजेश कुमार को पुलिस ने उस समय पकड़ा जब वह दूसरी जगह ऑफिस शिफ्ट कर रहा था। एडीसीपी रणविजय ने बताया कि सेक्टर-58 सी ब्लॉक में फर्जी कॉल सेंटर खोलकर नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने की शिकायतें मिल रही थी। इन शिकायतों कि जांच कने के लिए पुलिस टीम ने सी-40 पर पुलिस ने छापेमारी की और गिरोह के ठग को गिरफ्तार किया। आरोपी की पहचान दिल्ली के गीता कॉलोनी निवासी राजेश कुमार के रूप में हुई। आरोपी के दो साथी हरीश और श्वेताभ अभी फरार है। उनकी तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। जांच में सामने आया है कि आरोपी अभी तक 50 से ज्यादा लोगों से ठगी कर चुके हैं।

एडीसीपी ने बताया कि आरोपी राजेश ने बताया कि वह सोशल मीडिया के माध्यम से बड़ी कंपनियों में नौकरी लगवाने का प्रचार करते थे और कंपनियों के बड़े अधिकारियों से अपनी जान पहचान बताकर लोगों को झांसे में लेते थे। फिर नौकरी के नाम पर बेरोजगारी से दो किस्त में पैसे लेते थे। पहली किस्त में 1800 और दूसरी किस्त में 4500 रुपये लेते थे। इसके बाद अपना मोबाइल नंबर बंद कर लेते थे। आरोपी एक महीने के लिए ही ऑफिस किराए पर लेते थे। 50 से 60 बेरोजगारों से ठगी करने के बाद ऑफिस बंद करके फरार हो जाते थे। जिस समय आरोपी राजेश को गिरफ्तार किया गया, वह दूसरी जगह ऑफिस शिफ्ट कर रहा था।

इससे पहले इस गिरोह ने दिल्ली के लक्ष्मीनगर और गुरुग्राम में ऑफिस खोलकर ठगी की। इसके बाद सेक्टर-58 में ऑफिस खोला। अब आरोपी सेक्टर-65 में नया ऑफिस खोलने की तैयारी कर रहे थे। पुलिस ने बताया कि आरोपी एक वेबसाइट से बेरोजगार युवकों का बॉयोडाटा चोरी कर उनके पास कॉल करते थे।

यह भी देखे:-

Ryanities on a mission for an Eco friendly festival of Lights
किडनी रोगियों के लिए  राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (GIMS)  में डायलिसिस इकाई का लोकापर्ण  
बीजेपी मंडल दनकौर ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती मनाई 
18 साल बाद वतन वापसी : पाकिस्तान में एक गलती की वजह से काटी 14 साल की सजा, धर्म सिंह लौटा देश
करप्शन फ्री इण्डिया की पांचवीं वर्षगांठ, मनु नागर बनी चित्रकला प्रतियोगिता की विजेता
हनुमंत कथा के अंतिम दिन उमड़ी श्रद्धालुओ की भीड़
डीएमआईसी से प्रभावित किसानों की मुआवजा वृद्धि के सम्बंध में आज मेरठ मण्डल कमिश्नर से हुई वार्ता, कमि...
ग्रेटर नोएडा :एडब्लूएचओ सोसाइटी में धूम-धाम से मना गरबा नवरात्री डांडिया उत्सव
जेवर एयरपोर्ट को लेकर योगी के कैबनेट का ये अहम फैसला, पढ़े पूरी खबर
ग्रेनो प्राधिकरण के बाबू के घर छापा, पुराने नोट बरामद, गिरफ्तार
एक बार फिर कोरोना केस का हुआ विस्फोट
अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में नई क्रांति की तैयारी कर रहा है ग्लोबल एसोसिएशन फॉर कॉर्पोरेट सर्विसेज
दरबारी लाल फाऊंडेशन वर्ल्ड स्कूल परिसर में पौधरोपण किया गया
निपाह वायरस : क्या यह अगली महामारी हो सकती है? जानें क्यों जताई जा रही ये आशंका
कार्यस्थलों पर महिलाओं के साथ यौन उत्पीड़न (रोकथाम, निषेध और निवारण पर कार्यशाला का आयोजन
रक्षित सिंह ने इतने बड़े संस्थान से क्यों छोड़ी नौकरी?, असली वजह ये है