उत्तराखंड में आई तबाही से भी बड़ा झेलना पड़ सकता है महाजलप्रलय : राजेंद्र सिंह, पर्यावरणविद

पर्यावरणविद व जलपुरुष के नाम से मशहूर मैग्सेसे पुरस्कार विजेता राजेंद्र सिंह, उत्तराखंड में रविवार को आए जलप्रलय पर बेहद चिंतित हैं। उनकी चिंता जीवनदायिनी नदियों को सीमा में बांधने पर भी है। वह उत्तराखंड के चमोली जिले में आई तबाही की असली वजह अलकनंदा नदी पर डैम बनाने को मानते हैं। कहते हैं कि अगर सरकारें अब भी नहीं चेती तो भविष्य में महाजलप्रलय झेलना पड़ेगा। तबाही का मंजर ऐसा होगा जिसकी किसी ने कल्पना नहीं की होगी। अलकनंदा, मंदाकिनी व भागीरथी नदियों को आजाद रखने की जरूरत है। तीनों नदियां देवप्रयाग में मिलती हैं। इनमें वनस्पतियों का रस मिला है। जब बांध बनाकर पानी रोकेंगे तो वह सिल्ट के साथ नीचे सतह में बैठ जाएगा। जल की शक्ति खत्म हो जाएगी। ऐसे में जलप्रलय सामने होंगे। विनाश का एक मुख्य कारक यह भी है। देखिए, आज हम पर्यटन के भूखे हैं। ऐसे में तीर्थाटन को भूल गए। जबकि, तीर्थाटन से आस्था जुड़ी होती है। संवेदना होती है, जिसके चलते हम उस जगह को संरक्षित रखने के बारे में सोचते हैं। पर्यटन सिर्फ मौज-मस्ती तक सीमित है। इस अंतर को समझने की जरूरत है। इसे सिर्फ प्रकृति का गुस्सा बताने से काम नहीं चलेगा। यह गुस्सा मानव निर्मित है। विकास के दौर में सुरक्षा को भूल जाने पर इस तरह की घटनाएं होंगी। अलकनंदा, मंदाकिनी व भागीरथी नदियां भूकंप प्रभावित क्षेत्र में हैं। वहां कोई भी बड़ा निर्माण नहीं कर सकते हैं। बड़ा निर्माण करेंगे तो खामियाजा भुगतना होगा। बिहार में पुरुलिया के पास एक झील की दीवार कमजोर हो रही है। उसके फटने से भी तबाही हो सकती है।

यह भी देखे:-

यूपी: 25 हजार सिपाहियों की भर्ती के लिए बोर्ड को भेजा प्रस्ताव, एक लाख पद अब भी हैं खाली
आईआईएमटी में 30 करोड़ की लागत से बनेगा स्किल सेंटर
9/11 हमले में नहीं था ओसामा बिल लादेन का हाथ, आतंकियों की पैरवी में जुटा तालिबान
जी.एल. बजाज संस्थान में BOSH के साथ मिल कर ‘सड़क सुरक्षा’ पर परिचर्चा
UP Board Result 2020: बागपत की रिया जैन ने हाईस्कूल और अनुराग मलिक ने इंटरमीडिएट में किया टॉप
वाराणसी: राहुल गांधी चीन के एजेंट है- सांसद मनोज तिवारी ,सैनिक पीछे जा रहे तो सीने में दर्द क्यों
मेरीगोल्ड पब्लिक स्कूल में आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता में सृष्टि और फैज़ान ने बाज़ी मारी
सीबीएसई के दसवीं के नतीजे घोषित, जानिए ग्रेटर नोएडा के स्कूलों का परिणाम, कौन बना टॉपर
लिटिल एंजलस स्कूल में पर्यावरण संरक्षण पर कार्यशाला आयोजित
साहिल खान पर केस दर्ज, मॉडल मनोज पाटिल को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप
‘‘विदिशा वाल्यान प्रथम मिस डेफ वल्र्ड का जी. एल. बजाज में स्वागत’’
प्रोफ़ेसर प्रीति बजाज बनी गलगोटिया विश्विद्यालय की कुलपति
बैकसन होमियोपैथी में कैंसर एवं होम्योपैथी पर सेमीनार का आयोजन
शारदा विश्वविद्यालय : "4 इंटरनेशनल डेंटल स्टूडेंट कांग्रेस 2019 कनेक्सॉन" का आयोजन
Cabinet Meeting : पीएम मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक, टैक्सटाइल क्षेत्र के लिए PLI ...
Covaxin: उत्पादन के लिए सरकार ने गुजरात के अंकलेश्वर में वैक्सीन विनिर्माण सुविधा को मंजूरी दी