चीन की चाल हुई बेनक़ाब ? LAC पर तैनात किए होवित्जर, मिसाइल

चीन के साथ गलवान हिंसा के बाद तनाव के हालात सुधारने के लिए भारत और चीन ने नौ राउंड की सैन्य वार्ता पूरी तो की है, लेकिन पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) 3488 किलोमीटर की वास्तविक नियंत्रण रेखा पर अपने हथियारों के साथ पीछे हटने के कोई संकेत नहीं दिखा रही है। बल्कि उसने तो तिब्बत में मिसाइल इकाइयों और स्व-चालित होवित्जर के साथ तैयारी और मजबूत कर ली है।

नेशनल सेक्योरिटी प्लानर के अनुसार, पीएल तीनों क्षेत्रों में पैंगोंग त्सो के फिंगर एरिया में  नए निर्माण के साथ सैनिकों और भारी उपकरणों की तैनाती को नए सिरे से कर रहा है।  रक्षा मंत्रालय को सबूत मिले हैं कि पूर्वी लद्दाख के चुमार में एलएसी से महज 82 किलोमीटर की दूरी पर स्थित शिंकाने पीएलए कैंप के आसपास 35 भारी सैन्य वाहनों और चार 155 एमएम पीएलजेड 83 सेल्फ प्रोपेल्ड होवित्जर की ताजा तैनाती के संकेत हैं।

वहीं, रूडोक निगरानी सुविधा के पास, एलएसी से 90 किमी दूर, सैनिकों के लिए चार नए बड़े शेड और विभाजन क्वार्टर के पास वाहनों की भारी तैनाती और नए निर्माण कार्य पिछले महीने देखे गए हैं। रुडोक और शिक्नेह दोनों कब्जे वाले अक्साई चिन क्षेत्र में हैं।

इधर, भारत चीन के साथ लगने वाली उत्तरी सीमाओं पर अपनी सर्विलांस क्षमता बढ़ाने जा रहा है। वहीं बड़ी संख्या में ड्रोन, सेंसर, सैनिक सर्वेक्षण और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध उपकरण तैनात करेगा ताकि पीएलए की गतिविधियों पर नज़र रखी जा सके और घुसपैठ का पता लगाने के लिए भी कदम मज़बूत हों।

बता दें कि बीते साल 15 जून को पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में पीएलए के जवानों ने भारतीय सैनिकों पर धोखे से हमला कर दिया था। इस हमले में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए जबकि चीन के 40 से ज्यादा सैनिकों की मारे जाने की खबर है। हालांकि, चीन ने अब तक मारे गए अपने सैनिकों की संख्या की पुष्टि नहीं की है। इस हिंसक झड़प के बाद भारत ने एलएसी पर चीन के प्रति अपने रवैये में बड़ा बदलाव करते हुए कई रणनीतिक चोटियों पर कब्जा कर लिया।

यह भी देखे:-

Ind vs Eng: चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला आज से, चार साल बाद चेन्नई में टेस्ट
ग्रेटर नोएडा एनटीपीसी के पास एक तेज रफ्तार कार ने बाइक को टक्कर मार दी
दिल्ली में हवा ने बदला मौसम का मिजाज, पूर्वोत्तर में आज बारिश के आसार
बाइकर्स गैंग का बोलबाला, महिला से दिन दहाड़े लूटी चेन 
जेवर गैंगरेप-लूट काण्ड में नया मोड़ - प्राइमरी रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नहीं : सीएमओ
राष्ट्रपति के आदेश से अनुच्छेद 370 खत्म, बीएसपी ने किया सरकार का समर्थन
BSP संस्थापक कांशीराम की जयंती पर भीम आर्मी ने किया आजाद समाज पार्टी ASP की घोषणा
राज्‍यसभा में आज सिर्फ जम्‍मू-कश्‍मीर पर चर्चा होगी
क्या ऑटो एक्सपो 2020 में होगा कोरोना वायरस का असर ?
COVID-19 : बिहार में कोरोना से हुई पहली मौत
16 नवंबर को शपथ ले सकते हैं नीतीश कुमार, PM मोदी ने कर दिया है नेतृत्व का एलान
UP Jila Panchayat Reservation List: जिलेवार जिला पंचायत अध्यक्षों की आरक्षण सूची जारी, यहां देखें पू...
पटना में लगे नीतीश के पोस्टर, लिखा-हो गईल जय-जयकार, फिर नीतीश...
यूपी पंचायत चुनाव : ख़ुद को मौका नही मिला तो जुगाड़ मे लगें नेता जी, सामान्य और ओबीसी के दावेदारों ने ...
Metroman E Sreedharan: जल्द आएंगे राजनीति मे मेट्रो मैन ई श्रीधरन, जानें- इनके बारे में
शहतूत डैम पर भारत-अफगान के बीच हुआ समझौता, वर्चुअल बैठक में MoU पर हस्ताक्षर