किसान आंदोलन : पीएम ने दिया संसद मे जवाब, कृषि बिल पे आ सकता है नया फार्मूला।

संसद के दोनों सदनों में प्रधानमंत्री सरकार की राय तीनों नए कृषि कानूनों पर रख सकती है। गौरतलब है कि पीएम मोदी सोमवार को राज्यसभा तो अगले हफ्ते ही लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर हुई चर्चा का जवाब देने वाले हैं।
इस जवाब मे सबसे ख़ास यह रहने वाला है कि आंदोलन खत्म करने के लिए सरकार की ओर से क्या प्रयास किये गए ? साथ ही साथ सरकार की नई रणनीति आंदोलन ख़त्म करने के लिए क्या होगी ये भी जिक्र होने वाला है। ऐसे में सोमवार को राज्यसभा में पीएम का भाषण बेहद अहम होगा।
उक्त सूत्र के मुताबिक सरकार ने अपनी ओर से किसानों को डेढ़ साल तक तीनों कानूनों को रद्द करने और सर्वपक्षीय कमेटी बनाने का प्रस्ताव पहले ही दिया है। अब सरकार के पास इसके इतर कोई नया प्रस्ताव नहीं है। ऐसे में सरकार की ओर से किसानों से ही नए सिरे से बातचीत शुरू करने का प्रस्ताव मांगा जा सकता है।
खासबात यह है कि अगर नई पहल होती है तो इसके केंद्र में सरकार पंजाब के किसान यूनियनों की जगह राकेश टिकैत को रखेगी।

★ टिकैत का रुख अपेक्षाकृत लचीला :-
सरकार के रणनीतिकार मानते हैं कि पंजाब के किसान यूनियनों की तुलना में टिकैत का रुख अपेक्षाकृत लचीला है। छह फरवरी को राष्ट्रीय स्तर पर चक्काजाम से यूपी, दिल्ली और उत्तराखंड को दूर रख कर टिकैत ने इस आशय का संकेत भी दिया है।
इससे आंदोलन किसान मोर्चा में मतभेद के सुर भी उपजे हैं। आंदोलन के अंतिम पड़ाव में टिकैत किसानों का नया चेहरा बन कर उभरे हैं। ऐसे में सरकार टिकैत के माध्यम से बीच का रास्ता निकालने की संभावना तलाशने पर विचार कर रही है।

★ लंबे समय तक के लिए टल सकता है कानून :–
वैसे भी तीनों कृषि कानूनों के लंबे समय तक टलने के आसार बन रहे हैं। सरकार खुद डेढ़ साल तक कानून टालने के लिए तैयार है। नए सिरे से बातचीत में टालने का समय और बढ़ाया जा सकता है।
ऐसे में जब फिर नए सिरे से कानून लागू करने की बारी आएगी तो सिर पर कई राज्यों के अहम विधानसभा चुनाव और उसके बाद लोकसभा चुनाव की बारी आ जाएगी। जाहिर तौर पर सियासी रूप से ऐसे संवदेनशील समय में सरकार इन कानूनों को ला कर बड़ा विवाद खड़ा करने से बचेगी।

यह भी देखे:-

GNIOT मे अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य मे टॉक शो का आयोजन
जिला जेल में सप्त दिवसीय योग शिविर , बंदियों को बताया गया  योग आध्यात्मिक उन्नति का मार्ग है
थैंक्यू नरेंद्र मोदी...कनाडा की सड़कों पर छाए पीएम के होर्डिंग्स, जानें वजह
दिवाली के बाद NCR की वायु गुणवत्ता हुई 'गंभीर', दिल्ली में AQI का स्तर 500 के पार
मुख्यमंत्री योगी ने महिला दिवस पर दी शुभकामनाएं, बोले- प्रदेश की प्रगति में महिलाओं की भागीदारी महत्...
कोरोना संकट : संक्रमण की नई लहर मई मध्य तक पहुंच सकती है अपने चरम पर
पोलेथिन मुक्त भारत के लिए कार्यशाला का आयोजन
किसान एकता संघ करेगा 3 जनवरी को ग्रेटर नोएडा एनपीसीएल का घेराव
मोटो जीपी भारत के जरिए यूपी की सशक्त छवि को प्रस्तुत करेगी योगी सरकार
यूपी सरकार द्वारा किसानों की आय वृद्धि के लिए आयोजित कार्यशाला में लॉयड ने कृषि उपयोगी ड्रोन का प्रद...
जिला पंचायत चुनाव: BJP ने लहराया परचम , मैनपुरी के साथ रामपुर में भी जीते
कोरोना संकट, पीएम मोदी हालात की समीक्षा के लिए कल करेंगे ताबड़तोड़ बैठकें, रद किया बंगाल का दौरा
ग्रेटर नोएडा : किसान सभा व सीटू ने जिलाधिकारी कार्यालय पर किया प्रदर्शन
केंद्र का बड़ा फैसला: अमेरिका, ब्रिटेन, जापान के टीकों को मंजूरी की जरूरत नहीं, अमित शाह ने बताया
जानें WhatsApp की शानदार ट्रिक, बिना टाइप किए ऐसे भेज सकते हैं मैसेज
भीषण गर्मी में बिना पानी के पेड़ों की ग्रीन बेल्ट और पार्को की हालत खस्ता - आलोक नागर