भारत को आत्मनिर्भर बनाने वाला है 2021 का बजट – प्रो. मनीष शर्मा

नोएडा। 06 फरवरी 2021, प्रेरणा शोध संस्थान न्यास द्वारा आयोजित बजट-2021: एक अवलोकन विषय पर हुए वेबिनार में प्रो. ए. पी. तिवारी जी और प्रो. मनीष शर्मा जी उपस्थित रहे।
मुख्य वक्ता एवं अर्थशास्त्री प्रो. मनीष शर्मा ने बजट 2021 पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कोरोना काल की आपदा से जूझने के बाद इस तरह का साहसिक बजट लाने के लिए सरकार की सराहना करनी चाहिए। बजट हर साल आता है और हम हर साल कुछ नया चाहते हैं। प्रो. शर्मा ने पावर प्वाइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से बजट का विश्लेषण करते हुए बताया कि अगर इस बजट में दिए गए प्रावधानों का पालन किया गया तो निश्चित ही भारत आने वाले दिनों में विश्व का एक अग्रणी देश होगा क्योंकि इस बजट में भारत की मूल सोच ‘‘सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे संतु निरामया सर्वे भद्राणि पश्यन्तु, मा कश्चित दुःखभाग भवेत’’ की परिकल्पना परिलक्षित है। प्रो. मनीष शर्मा ने कहा कि सरकार ने इस बजट में एक लाख दस हजार करोड़ रूपये से ज्यादा रेलवे को प्रदान किए हैं। सरकार ने छोटे और मझोले व्यापारियों को बहुत बड़ी राहत देते हुए 2 करोड से बढ़ाकर अब 20 करोड़ तक की टर्नओवर की कम्पनी को छोटी कंपनियों के दायरे में शामिल किया है। इससे यह स्पष्ट है कि यह बजट आत्मनिर्भर भारत की आरे बढ़ने का बहुत अच्छा प्रयास है। प्रो. शर्मा ने कहा कि बीमारी से पहले दौड़ने वाला कैसे बीमारी से उठने के बाद दौड़ेगा, धीरे धीरे अपनी गति पकड़ेगा और यही सोच हमे इस वर्ष के बजट के लिए रखना चाहिए। वैश्विक महामारी को झेलने के बाद जहा लगभग 23 अंक माइनस की तरफ हमारी अर्थ व्यवस्था चली गई थी उसे उपर लेने के लिए प्रस्तुत बजट में इंफ्रास्ट्रक्चर के बढ़ावे पर ध्यान दिया गया है जिसके दूरगामी परिणाम आएंगे।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रो. ए. पी. तिवारी ने इस अवसर पर कहा कि यह बजट विकासगामी बजट है। इस बजट में कृषि को 1 लाख करोड़ से ज्यादा आवंटित किया गया है क्योंकि सरकार चाहती है कि कृषि का विविधीकरण किया जाए। कृषि और गैरकृषि क्रियाओं को गांव से जोडने की सरकार की योजना है। कृषि वाणिकी, पशुपालन, मत्सय पालन, बागवानी, जड़ी बूटियों की खेती इत्यादि से गांव के विकास का रोड़ मैप सरकार ने इस बजट में बनाया है। यह बजट भारत के समृद्ध परंपरागत ज्ञान, नवाचार और भारत की जनता की क्षमता को ध्यान में रख कर बनाया गया है। इस बजट से रोजगार बढेगा और गरीबी दूर होगी।
प्रेरणा शोध संस्थान न्यास द्वारा आयोजित साप्ताहिक वेबिनार का संचालन करते हुए डा. श्रुति त्रिपाठी ने कहा कि बजट एक ऐसा विषय है जो हर व्यक्ति के जीवन को छूता है। उन्होंने आग्रह किया कि बजट को सही परिदृश्य में समझें और नागरिक होने का कर्तव्य निभाए।

यह भी देखे:-

कोका कोला द्वारा कैम्पस प्लेसमेंट ड्राइव का आयोजन
खेरली नहर में दो युवक डूबे,  एक को बचाया गया 
Covid-19:एबीवीपी आयोजित करवाएगी ऑनलाइन प्रतियोगिता परीक्षा
जानिए गौतमबुद्ध नगर के CONTAINMENT ZONE , डीएम ने किया TWEET
UP Panchayat Election Result 2021, जानिए गौतमबुद्ध नगर का हाल 
ग्रेटर नोएडा : ट्रैक्टर- ऑटो में भिड़ंत इंजीनियरिंग के छात्र की मौत
सैमसंग में रोजगार दिलाने को लेकर अधिकारीयों ने हाथ खड़े किये , किसान बिफरे
RYAN GREATER NOIDA AWARDED AT “FESTIVAL OF PEACE”
केक काटकर, दीप जलाकर दनकौर मंडल भाजपा ने पीएम मोदी का जन्मदिन मनाया 
एसटीएफ नोएडा के हत्थे चढ़ा दिनेश उर्फ़ दिन्ने बावरिया , सैकड़ों आपराधिक वारदातों को दे चूका है अंजाम 
लॉकडाउन के बाद पलायनः प्रवासी नागरिकों से एलजी बैजल की अपील- घबराहट में न छोड़ें दिल्ली
जब मोदी जी घर दिलाओ के लगे नारे, पढ़ें पूरी खबर
बिगड़ी कानून व्यवस्था को लेकर सड़क पर उतरेगी जिला कांग्रेस
'सांसों का सिलेंडर': जीटीबी अस्पताल में देर रात पहुंचा ऑक्सीजन टैंकर, भावुक डॉक्टर बोले- खो दी थी उम...
कोरोना टिकाकरण: निजी अस्पताल मे 250 मे लगेगा टिका, जानें क्या है अपडेट
संयुक्त किसान अधिकार आंदोलन ने किसानों के हक़ के लिए चलाया हस्ताक्षर अभियान