किसान आंदोलन के चक्का जाम पर पुलिस ने किए नोएडा में सुरक्षा के कड़े इंतजाम

  • दिल्ली नोएडा बॉर्डर को जोड़ने वाली सड़क पर पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम
  • चक्का जाम करने के बाद उत्पात मचाने वालो पुलिस ने किया चिन्हित

 

नोएडा : केन्द्र सरकार तीनों नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठन के नेताओं के 6 फरवरी को चक्का जाम के  आह्वान के बाद, 26 जनवरी को दिल्ली में  हुई ट्रैक्टर परेड में हिंसा के पुराने अनुभव को देखते हुए दिल्ली सटे गौतमबुद्ध नगर में पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। पुलिस अधिकारियो ने बताया कि आम नागरिकों को कई परेशानी ना हो इस बात को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने पूरी तैयारी की है।

एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि शनिवार को किसान संगठनों द्वारा प्रस्तावित प्रदर्शन तथा चक्का जाम के मद्देनजर गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने पुख्ता इंतजाम किए हैं। किसी भी व्यक्ति को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। अगर कोई ऐसा करता है तो उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। तीन कृषि कानून का विरोध कर रहे कई किसान संगठनों के द्वारा कहा गया कि हम दिल्ली और एनसीआर के क्षेत्र में प्रदर्शन नहीं करेंगे इसके अलावा अन्य इलाकों में 3 घंटे का आंशिक प्रदर्शन जारी रहेगा, किसान संघटनो के ऐलान को लेकर नोएडा प्रशासन की ओर से इनपुट जारी किया गया और पुलिस प्रशासन के द्वारा सभी तैयारियां पूरी कर ली गई ताकि किसी भी स्थिति में आम जनता को परेशानी का सामना न करना पड़ सकें, फिलहाल नोएडा में किसी भी संगठन ने चक्का जाम करने का आह्वान नहीं किया है लेकिन सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए चक्का जाम की आशंका को देखते हुए दिल्ली नोएडा बॉर्डर को जोड़ने वाली सड़क पर विशेष तौर पर सुरक्षा के इंतजाम किए गए है ताकि दिल्ली नोएडा बॉर्डर पर यातायात सामान्य रूप से चलता रहे और किसी भी राहगीर को किसी प्रकार की परेशानी ना हो।

भारतीय किसान यूनियन (अराजनैतिक) युवा के जिला अध्यक्ष विभोर शर्मा ने बताया कि चक्का जाम के मद्देनजर उनके संगठन ने पूरी तैयारी की है। संगठन के विभिन्न पदाधिकारी जनपद गौतमबुद्ध नगर में विभिन्न स्थानों पर चक्का जाम करेंगे। ग्रेटर नोएडा कि किसानों के द्वारा दिल्ली जाने की आशंकाओं को देखते हुए नोएडा पुलिस और ग्रेटर नोएडा पुलिस लगातार संपर्क में है अगर इस प्रकार की किसी भी स्थिति का सामना करना पड़ता है तो पुलिस अपने स्तर से किसानों से निपटने के लिए तैयार हैं। एडीसीपी का कहना है कि जनपद में कई स्थानों पर जहां किसान चक्का जाम करने के बाद उत्पात मचा सकते हैं, उन्हें चिन्हित किया गया है। एडीसीपी ने बताया कि आम नागरिकों को कई परेशानी ना हो इस बात को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने पूरी तैयारी की है।

यह भी देखे:-

नोवरा ने बांटे आर्थिक रूप से कमज़ोर लोगों को कपडे एवं कम्बल
नोवरा का सीईओ को पत्र , ग्रामीणों को मिले सुपरवाइज़र की नौकरी
उत्तरप्रदेश स्थापना दिवस पर रंगारंग कार्यक्रम
त्योहारों पर ना हो छापे मारी : नरेश कुच्छल
एमिटी की एमबीए छात्रा ने फांसी लगाकर की ख़ुदकुशी
फारुख अब्दुल्ला के बयान पर भड़का आतंकवाद विरोधी मोर्चा, जलाया पुतला
डीएम बी.एन सिंह ने आरडब्ल्यूए द्वारा आयोजित कार्यक्रम में किया वृक्षारोपण
कोरोना से लड़ना भी है और विकास कार्य भी संचालित करना है : सीएम योगी 
DUSU ELECTION 2019: नोएडा, ग्रेटर नोएडा के सैकड़ों कार्यकर्ता करेंगे प्रचार-प्रसार
पॉलिथीन पर्यावरण को प्रदूषित करने में सबसे बड़ा घटक : श्री राकेश जैन
पुलिस गश्त होगी मजबूत, हीरो मोटोकाॅर्प ने नोएडा पुलिस को दिए नए दुपहिया वाहन
Mega camp will organize on 2 Feb 2020 by ISPC
रेहड़ी पटरी के दुकानदारों ने सीटू के नेतृत्व में प्राधिकरण के अधिकारियों से मुलाकात कर दिया ज्ञापन
ओखला वर्ल्ड सेंचुरी मेट्रो स्टेशन के सामने ओल्ड फर्नीचर मार्केट में लगी भीषण आग
सपा कार्यकर्ताओं ने हाथरस की बेटी को दी श्रद्धांजलि
छात्रा आत्महत्या मामला : परिजनों ने स्कूल गेट पर किया प्रदर्शन, लगाया जाम