शारदा अस्पताल में डॉक्टर्स व स्वास्थकर्मियों ने लगवाया कोरोना टीका 

ग्रेटर नोएडा : शारदा अस्पताल में FIRST PHASE  के तहत  चौथे दिन वैक्सीनेशन की शुरूआत सुबह 9.30 बजे से शुरू हुई। आज तीन बूथों पर 237 लोगों को टीका लगाया गया। इसमें अस्पताल के सीनियर डाॅक्टर्स और प्रफेसर्स के अलावा नर्स और पारा मेडिकल स्टाफ भी रहे।

गुरूवार को मेडिकल काॅलेज के प्रफेसर इमरटस 70 वर्षीय डाॅ. अशोक कुमार अग्रवाल और भारत सरकार के पूर्व डीजी हेल्थ डाॅ. ए.के गडपाइले ने टीका लगवाया। इसके बाद उन्हें ऑब्जरवेशन  में लाया गया। यहां आधा घंटा बिताने के बाद डाॅ. अग्रवाल और डाॅ. गडपाइले ने कहा कि यह वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित और कोरोना को हराने में कारगर है। वैक्सीनेशन को लेकर घबराने की जरूरत नहीं है। सभी लोग टीका लगवाएं। वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है इसको लेकर किसी तरह का भ्रम ना पालें। जब सरकार सभी के लिए इसे उपलब्ध करा दे तो सभी लोगों को लगवा लेना चाहिए। इससे उनकी बाॅडी में हर्ड इम्युनिटी बढ़ेगा  जो हर तरह के वायरस से लडने में सक्षम होगा। कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन को लेकर शारदा अस्पताल में गुरूवार सुबह 9 बजे ही सभी तैयारियां पूरी कर ली गईं। इसके बाद सरकारी टीम डाॅ. अभिषेक त्रिपाठी अपनी पूरी टीम के साथ अस्पताल पहुंचे। उन्होंने लिस्ट को वेरीफाई किया। इसके बाद डाॅ. अशोक कुमार अग्रवाल और डाॅ. गठपाइले व डाॅ. पुनिया ने टीके लगवाए। इसके बाद उन्हें आॅब्जर्वेशन रूम में 30 मिनट तक रखा गया। कोई दिक्कत या तकलीफ न होने पर उन्हें वहां से विदा किया गया। आॅब्जर्वेशन रूम से बाहर निकलने के बाद डाॅक्टरों ने कहा कि इसका कोई साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिला है। उन्होंने तमाम लोगों से अपील की कि अपनी बारी आने पर सूई जरूर लगवाएं, ताकि बीमारी से बचा जा सके।

शारदा अस्पताल के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डाॅ. आशुतोष निरंजन ने सभी तरह की तैयारियों का जायजा लिया और कहा कि 17 डाॅक्टरों और नर्सों की पूरी टीम तैनात है। यदि किसी को कोई भी दिक्कत होती तो हमारे एक्सपर्ट उसे हैंडल करने में सक्षम थे। गुरूवार शाम में सीएमओ डाॅ. दीपक ओहरी ने अपनी पूरी टीम के साथ अस्पताल का दौरा किया। उन्होंने वैक्सीनेशन प्रक्रिया का जायला लिया और सुविधाओं को देखकर कर संतुष्टि जताई। अस्पताल के प्रवक्ता डाॅ. अजीत कुमार ने बताया कि सरकारी मेडिकल टीम को मदद करने और पूरी व्यवस्था देखने के लिए करीब 100 से ज्यादा स्टाफ तैनात रहे। वैक्सीनेशन के बाद किसी को कोई दिक्कत या अन्य तरह की परेशानियां नहीं आईं। शुक्रवार को फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीके लगाए जाएंगे। इसके लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं। हमलोग जरूरत पडने पर 10 बूथ में टीके लगाने की सुविधा देने को तैयार हैं। इसके लिए डाॅक्टरों, नर्स और पारा मेडिकल स्टाफ पूरी तरह से तैयार हैं।

प्रशासन के आदेश पर सभी जरूरी कदम उठाए जाएंगे। आज 375 में 237 लोगों को टीके लगाए गए। इनमें कुछ लोग वैसे हैं जिन्होंने पिछली तारीखों पर टीके नहीं लगवाए थे।

यह भी देखे:-

डर ही वायरस है, सुरक्षा ही वैक्सीन : आशु पहलवान घंघौला
COVID-19:निजामुद्दीन में जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए 6 लोगों की मौत
शारदा विश्विद्यालय मेडिकल साइंसेज में विश्व क्षय रोग दिवस मनाया गया
COVID-19 : बिहार में कोरोना से हुई पहली मौत
ग्रेटर नोएडा,दादरी तहसील व यमुना प्राधिकरण  के इन गांवों में कराया गया सैनिटाइजेशन  
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
"RUN4HEART" मिनी मैराथॉन के विजता बने सचिन भाटी, विश्व हृदय दिवस पर शारदा अस्परताल ने किया था आयोज...
यथार्थ हॉस्पिटल - नोएडा एक्सटेंशन , क्षेत्र का सबसे बड़ा प्राइवेट कोविड  हॉस्पिटल, जानिए क्या है सुवि...
कोरोना से डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ग्रेटर नोएडा में तैनात पुलिसकर्मी की मौत
कोरोना को मात दी 87 वर्ष के बुजुर्ग दम्पति जोडे ने
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल 
गौतमबुद्ध नगर में कोरोना का क्या है हाल, जानिए 
आईटीएस डेंटल कॉलेज में तम्बाकू रहित दिवस पर वेबिनार का आयोजन
कोरोना से भारत में पहली मौत की खबर, डरो नहीं , जयपुर में एक मरीज ठीक होने का दावा, मिल गया ठीक होने ...
बिसरख धाम पहुंचे महामंडलेश्वर स्वामी प्रबोधानंद गिरी जी महाराज, जल्द होगा हिन्दू रक्षा सेना ईकाई का ...
#RespectPractitioners:ये डॉक्टर-झोला छाप..