यथार्थ सुपर स्पेशियल्टी हॉस्पिटल परिसर में पुलिस चौकी का उद्घाटन किया

ग्रेटर नोएडा: अस्पताल परिसर में मरीजों और डॉक्टरों की सुरक्षा बढ़ाने और क्लिनिकल प्रक्रिया को बढ़ावा देने के मकसद से ग्रेटर नोएडा स्थित यथार्थ सुपर स्पेशियल्टी हॉस्पिटल ने आज अपनी तरह की पहली परिसर स्थित पुलिस चौकी का उद्घाटन किया।

अस्पताल परिसर में स्थायी पुलिस चौकी की स्थापना न सिर्फ सुरक्षित क्षेत्र सुनिश्चित करेगी बल्कि देर रात कभी भी भीड़ के हमलों जैसी घटनाओं से भी बचाव करेगी। इस पुलिस चौकी का उद्घाटन बतौर मुख्य अतिथि गौतम बुद्ध नगर के पुलिस कमिश्नर श्री आलोक सिंह (आईपीएस), गौतम बुद्ध नगर के संयुक्त पुलिस आयुक्त श्री लव कुमार,
श्री राजेश के सिंह (डीसीपी), श्री विशाल पांडेय (अतिरिक्त डीसीपी), श्री बृजनंदन राय (एसीपी) और सम्म्मानित अतिथि श्री सुजीत उपाध्याय (थाना प्रभारी) जैसी प्रतिष्ठित हस्तियों की मौजूदगी में किया गया।

मुख्य अतिथियों का स्वागत करते हुए, उनका आभार व्यक्त करने के एक इशारे के रूप में, सभी डॉक्टरों, तकनीकी कर्मचारियों और अस्पताल के सदस्यों ने जनता को सभी प्रकार के अपराध से सुरक्षित रखने के लिए पुलिस विभाग को तालियों की तूफ़नी गड़गड़ाहट से स्वागत किया
गौतम बुद्ध नगर के पुलिस आयुक्त श्री आलोक सिंह ने कहा, ‘समाज की सबसे सर्वव्यापी संस्थाओं में से एक पुलिस विभाग सरकार का सीधा प्रतिनिधित्व करता है। अपनी बहुआयामी भूमिकाओं में कानून—व्यवस्था बनाए रखते हुए हमें यथार्थ सुपर स्पेशियल्टी हॉस्पिटल परिसर में नई चौकी का उद्घाटन करते हुए खुशी हो रही है। हम अस्पताल, डॉक्टरों, स्वास्थ्यकर्मियों और मरीजों पर किसी तरह की हिंसा को रोकना सुनिश्चित करते हैं। आम जनता से भी अनुरोध है कि वे चिकित्साकर्मियों की भूमिका और जवाबदेही को समझें जो हमेशा अपना और अपने परिवार की जिंदगी से ज्यादा हमारे जीवन को बचाने को अहमियत देते हैं और उन्हें हमेशा दैवी अवतार के रूप में देखना चाहिए। हम उन सभी चिकित्साकर्मियों को सलाम करते हैं जिन्होंने खासकर कोविड महामारी के इस दौर में भी हमारे जीवन की रक्षा के लिए कुशलतापूर्वक अपना काम जारी रखा है।

सर्दियों और धुंध के बीच खासकर राजमार्गों पर सड़क दुर्घटनाओं की घटनाएं होती रहती हैं और ऐसे मामलों में मरीजों को अस्पताल तक देरी से पहुंचाने के कारण मृत्यु दर बढ़ जाती है। अस्पताल परिसर में ही पुलिस चौकी होने से सड़क दुर्घटनाओं या आपात मामलों के पीड़ितों को चिकित्सा—कानून से जुड़ी औपचारिकताएं पूरी करने से पहले इलाज कराने की सहूलियत मिल जाएगी।

यथार्थ ग्रुप आफ हास्पिटल्स के प्रबंध निदेशक डॉ. कपिल त्यागी ने कहा, ‘किसी भी समाज में पुलिस को सबसे सुलभ, संवादपरक और गतिशील संस्था माना जाता है। समाज में स्वाभाविक रूप से उनकी भूमिकाएं, कार्यशैली और दायित्व जैसे अलग—अलग कार्य हैं। मैं गौतम बुद्ध नगर के पुलिस आयुक्त श्री आलोक सिंह और उनकी समस्त टीम को हमें दी जा रही सहायता के लिए धन्यवाद देता हूं। हमारा लक्ष्य हमेशा जनता का कल्याण करने के लिए रहा है और अब हम हर तरह से जनता की सेवा अधिक प्रभावशाली ढंग से कर सकेंगे। यह पहल वाकई एक नेक उद्देश्य के लिए शुरू की गई है।’

यह भी देखे:-

यूपी: प्रदेश में अब तक सर्वाधिक 9 करोड़ 42 लाख लोगों का टीकाकरण हुआ
पुलिस पर हमला करने वाला हरियाणा का सरपंच गिरफ्तार
भारतीय रेलवे का बड़ा फैसला,31 साल पुराने सभी डीजल इंजन होंगे बंद
क्राइम मीटिंग में एसएसपी लव कुमार ने दिए कई निर्देश
UNGA : दुनिया ने की विकास-व्यापार की बात, इमरान बोले- कश्मीर पर भारत का कब्जा
उद्यमियों की समस्याओं को लेकर ग्रेनो प्राधिकरण अधिकारी से आईआईए पदाधिकारियों ने की मुलाकात
आगामी 5 वर्षों में उत्तर प्रदेश का निर्यात 100% से ज़्यादा की दर से बढ़ सकता हैः एक्ज़िम बैंक
कल रविवार को चलेगा मतदाता सूची में नाम शामिल कराने का अभियान
बीएचयूः अस्पताल कर्मचारियों और छात्रों में मारपीट, विरोध में सिंह द्वार बंद, भारी पुलिस बल तैनात
परचून की दूकान में लगी भीषण आग, सामान जल कर ख़ाक
एनपीसीएल और सोसाइटी प्रतिनिधियों के बीच चर्चा , मल्टी कनेक्शन के गिनाए गए फायदे
जेवर एयरपोर्ट के उत्तर प्रदेश सरकार के लिए महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट - नंदगोपाल गुप्ता नंदी (नागरिक उड्ड...
दादरी विधायक तेजपाल नगर ने कराया बस का संचालन, जानिए क्या है ख़ास
जन शिक्षण संस्थान ने विश्व पर्यावरण दिवस पर किया पौधरोपण
DU Admission 2021: शुरू हुई दिल्ली विश्वविद्यालय में यूजी दाखिले की प्रक्रिया, देखें दिशा-निर्देश
हिन्दू -मुस्लिम एकता की मिसाल डॉक्यूमेंटरी "THE BROTHERHOOD" को मिली ट्रिब्यूनल की हरी झण्डी