ग्रेटर नोएडा वेस्ट में पंचशील ग्रीन सोसाइटी में फ्लैट की छत का हिस्सा गिरा, एक बच्ची घायल

ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित पंचशील ग्रीन सोसाइटी में बिल्डर के घटिया कंस्ट्रक्शन के करण शनिवार को सोसायटी के एक फ्लैट की छत का हिस्सा अचानक से बेड पर आ गिरा। जब ये हादसा हुआ उस परिवार के सभी लोग घर में मौजूद थे और उनकी दोनों बेटियां अपने रूम में सोई हुई थी, उस इस हादसे में एक बच्चे को चोट आई है. वहीं, फ्लैट मालिक का कहना है कि यह हादसा घटिया निर्माण की वजह से हुआ है जिसकी वजह से फ्लैट की छत से कमजोर कंक्रीट का हिस्सा नीचे गिर गया. इस मामले को लेकर फ्लैट मालिक ने कोतवाली बिसरख में शिकायत दर्ज कराई है।

फ्लैट के छत का प्लास्टर के कमरे में पड़े मलबे को देखकर ही अंदाजा लागाया जा सकता है कि की हादसा कितना घातक रहा होगा। घटना शनिवार की सुबह आठ बजे की है। ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित पंचशील ग्रीन सोसाइटी के फ्लैट नंबर C3 – 901 में तनु गुप्ता अपने पूरे परिवार के साथ रहते हैं और आईटी कंपनी में काम करते हैं। उन्होंने बताया कि शनिवार की सुबह उनकी दोनों बेटियां अपने रूम में सोई हुई थी। उसी दौरान करीब आठ बजे रूम की छत भरभरा कर गिर गई। इस हादसे में तनु गुप्ता की छोटी बेटी नव्या के पांव में चोट आई है। उनकी बड़ी बेटी मिली के भी ऊपर भी छत गिरी है। लेकिन ऊपर कंबल होने के कारण उनके चोट नहीं आई है। अभी पूरा परिवार काफी दहशत में है। तनु ने बिल्डर के खिलाफ बिसरख थाना में शिकायत दर्ज करवाई हैं। तनु गुप्ता ने बताया कि इससे पहले भी उनके ही फ्लैट में इसी रूम की छत टूट कर नीचे गिरी थी। लेकिन उसमें किसी को भी कोई चोट नहीं आई थी। इस बार उसी रूम की छत दुबारा टूट गई है। इस बार काफी ज्यादा छत टूटी है।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में इस तरह का हादसा कोई पहली बार नहीं हुआ है। लगातार इस तरह की घटनाएं सामने आ रही हैं। ग्रेटर नोएडा वेस्ट की हाउसिंग सोसाइटीज में फ्लैट्स की छतें गिरना आम बात हो गई है। पहले भी इस तरह के हादसे में कई लोगों को गंभीर चोट लग चुकी हैं। बीते वर्ष मई में ग्रेटर नोएडा वेस्ट में अजनारा होम्स में जे-1902 फ्लैट मे रहने वाले सिद्धार्थ जायसवाल के घर की छत का प्लास्टर बुधवार को गिर गया, जिसके कारण उनका नौ वर्षीय बच्चा घायल हो गया था।

काफी जद्दोजहद के बाद लोगो को अपने सपनों का आशियाना तो मिल गया है लेकिन अब ये आशियाना ही उनकी दिलो में दहशत पैदा कर रहा है कारण है बिल्डरों ने निर्माण इतना ज्यादा घटिया किया है की फ्लैट में कोई भी हिस्सा टूटकर खुद ही गिर जाता है। छोटा-मोटा आंधी-तूफान आने पर ग्रेटर नोएडा वेस्ट की हाउसिंग सोसाइटीज में बड़े नुकसान होते हैं। फ्लैट्स में रहने वाले लोगों को आंधी तूफान आते ही दहशत हावी हो जाती है। बालकोनी, छत, रेलिंग और ग्रिल टूट कर गिरने लगते हैं।

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा का दायरा बढ़ेगा, पार्ट 2 को बसाने का काम शुरू
ग्रेटर नोएडा : फिल्म पद्मावती के निर्देशक व कलाकारों के खिलाफ डाली गई याचिका कोर्ट में स्वीकार
बीटा- 2 सेक्टर के समस्या से रूबरू हुए ग्रेनो प्राधिकरण के अधिकारी
कार रैली निकाल कर सुपरटेक जार अपार्टमेंट ओनर मांगेंगे अपना अधिकार
जहांगीरपुर कस्बे में भगवान श्रीकृष्ण का डोला धूमधाम से निकाल गया
यमुना एक्सप्रेस वे पर दर्दनाक सड़क हादसा, युवक को कुचलते चले गए वाहन और ..
कविकुम्भ में ग्रेनो की कवयित्री अंजलि शिशोदिया सम्मानित
एनटीपीसी ने 202 ग्रामीण छात्राओं को साईकिल वितरण की
बीमा के करोड़ों की रकम हड़पने की साजिश का पर्दाफाश , पढ़ें पूरी खबर
विदेशी प्रतिनिधिमंडल ने एनटीपीसी दादरी विद्युत स्टेशन का भ्रमण किया
निर्माणाधीन साईट की ऊंचाई से गिरा मजदूर, सरिया पेट से आर-पार
इण्टरनेशनल टाइगर डे पर रंगोली प्रतियोगिता
खेरली नहर को जाम मुक्त करने के लिए जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन
ग्रेटर नोएडा :ब्रिगेड मार्शल आर्ट्स अकादमी के द्वारा 2 दिवसीय बेल्ट टेस्ट का आयोजन
निकाय चुनाव : मतदाताओं को रिझाने के लिए अपनाये जा रहे हैं कई हथकंडे
ग्रेटर नोएडा : आवारा कुत्तों ने सेक्टरवासियों का जीना किया मुहाल