हौंडा कार्स इंडिया ने कहा, अपनी प्रगुणता बनाये रखने के लिए उत्पादन की कार्य-प्रणाली को संगठित किया है 

नई दिल्ली, 23 नवंबर 2020: हौंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (एचसीआईएल) ने आज अपनी कार्यकुशलता में सुधार के लक्ष्य हेतु अपनी विनिर्माण प्रक्रिया को पुनर्गठित करने की घोषणा की है! उत्पादन और आपूर्ति श्रृंखला क्षमता का लाभ उठाते हुए ऑपरेशन क्षमता को बनाए रखने के लिए, एचसीआईएल ने घरेलू बाजार में बिक्री एवं निर्यात के लिए वाहन एवं कलपुर्जा निर्माण की पूरी प्रक्रिया तत्काल प्रभाव से राजस्थान के तापुकारा संयंत्र में केंद्रित करने का फैसला किया है।

कंपनी ने ग्रेटर नॉएडा संयंत्र में उत्पादन बंद कर दिया है! हालांकि हौंडा का मुख्य कार्यालय, भारत में उनके अनुसंधान एवं विकास विभाग और ऑटोमोबाइल, टू-व्हीलर और पावर प्रोडक्ट बिज़नेस के लिए स्पेयर पार्टस (गोदाम सहित) के सभी कार्य पहले की तरह ग्रेटर नॉएडा संयंत्र से ही संचालित होते रहेंगे।

हौंडा कार्स इंडिया के प्रेजिडेंट एवं सीइऔ श्री गाकु नाकानिशी ने कहा, “पिछले तीन महीनों में बिक्री में बढ़ोतरी के बावजूदमौजूदा बाजार की स्थिति उद्योग के लिए अप्रत्याशित बनी हुई है। कोविड-19 के प्रभाव ने हमें अपनी कार्यकुशलता को बेहतर बनाने के लिए प्रेरित किया हैऔर इसी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एचसीआईएल ने तापुकारा संयंत्र को एकीकृत मैन्युफैक्चरिंग बेस बनाकर अपने विनिर्माण कार्यों को वहां केंद्रित करने का निर्णय लिया है। एचसीआईएल को भारतीय अर्थव्यवस्था की मजबूती पर पूरा विश्वास है और बाजार में तेजी से सुधार की उम्मीद है। हौंडा की वैश्विक रणनीति में भारत बेहद महत्वपूर्ण बाजार है और एचसीआईएल भविष्य में इलेक्ट्रिफाइड वाहनों सहित अपने नवीनतम और एडवांस तकनीक वाले मॉडल पेश करने के लिए प्रतिबद्ध है।

कोविड-19 के चलते लागू हुए लॉकडाउन के बाद ऑपरेशंस को फिर से शुरू करने के साथ, एचसीआईएल ने सफलतापूर्वक अपनी दैनिक उत्पादन क्षमता को सितंबर 2020 से पहले के कोविड पूर्व के स्तर तक पहुंचा दिया है। वहीं पिछले तीन महीनों से लगातार मासिक बिक्री में वृद्धि देखी जा रही है। त्योहारों के दौरान एचसीआईएल की बिक्री में अच्छी रिकवरी हुई और कंपनी को उम्मीद है कि आने वाले महीनों के दौरान इस बिक्री में यही तेजी बनी रहेगी।

 

तापुकारा संयंत्र, जिला अलवरराजस्थान के बारे में

एचसीआईएल का तापुकारा संयंत्र 450 एकड़ में फैला हुआ है। इसकी स्थापित उत्पादन क्षमता 1,80,000 इकाई प्रति वर्ष है। यह एक एकीकृत मैन्युफैक्चरिंग यूनिट है जिसमें फोर्जिंग, प्रेस शॉप, पावरट्रेन शॉप, वेल्ड शॉप, पेंट शॉप, प्लास्टिक मोल्डिंग, इंजन असेंबली, फ्रेम असेंबली और इंजन टेस्टिंग की सभी सुविधाएं शामिल हैं। हौंडा की सर्वश्रेष्ठ मैन्युफैक्चरिंग तकनीकों और वैश्विक परिचालन के अनुभवों को तापुकारा संयंत्र की निर्माण प्रक्रिया में शामिल किया गया है। यहां पूर्ण ऑटोमेशन, नवीनतम उपकरण और उच्च गुणवत्ता के लिए श्रेष्ठ लेआउट, सर्वोत्तम श्रमदक्षता, बेहतर परिचालन क्षमता और सुरक्षा के उच्चतम स्तर प्रदान किया गया है। यह संयंत्र पर्यावरण के संरक्षण और ऊर्जा और अन्य प्राकृतिक संसाधनों के कुशल उपयोग पर भी ध्यान केंद्रित करता है।

 

 

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा में लावारिस कुत्तों का पहला नसबंदी केंद्र शुरू , कुत्तों की नसबंदी के लिए नंबर जारी 
दादरी रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर सम्राट मिहिर भोज किया जाये - जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह, रेल मंत्री ...
इंडिया एक्सपो मार्ट में विशाल तिरंगे का हुआ ध्वजारोहण
भाई ने की ऐसी करतूत सुन कर दंग रह जाएंगे आप, रिश्ता हुआ शर्मसार
नोवरा ने छपरौली में चलाया मास्क अभियान 
रेलवे ने यूपी-बिहार से चलाई कई स्पेशल ट्रेनें, छठ से लौटने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी
VARANASI : हापुड़ में वकीलों पर लाठीचार्ज का वाराणसी में भारी विरोध, सड़कों पर उतरे वकील
महिला उन्नति संस्थान ने कैंडल जलाकर हाथरस की बिटिया के लिए मांगा इन्साफ 
आने वाले महीनों में फिर बढ़ेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम, ये है वजह
PM Narendra Modi in Kushinagar: कुशीनगर में रहेंगे पीएम मोदी, इंटरनेशनल एयरपोर्ट का करेंगे उद्घाटन
उत्तर प्रदेश : पेट्रोल 94.94 और डीजल 86.89 रुपये प्रति लीटर, दीपावली उपहार
कविन्दर नागर ने जिला ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश का बढ़ाया मान, बधाई देने वालो का लगा ताँता
आप सभी देश वासियों क्षेत्र वासियों को पावन पर्व शुभ दीपावली, गोवर्धन, भाई दूज एवं छठ पूजा की हार्द...
नोएडा की पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह को सराहनीय कार्य के लिए मिला गृह मंत्रालय का उत्कृष्ट सेवा पदक
सरकार ने किया साफ: कम नहीं होगा कोविशील्ड के डोज का अंतर, सबके लिए नियम एक समान
कोरोना अभी गया नही है पड़ सकता है अपनों को खोना , बरतें सावधानी