MLC शिक्षक चुनाव में श्रीचंद शर्मा ने दर्ज किया शानदार जीत

ग्रेटर नोएडा: MLC शिक्षक चुनाव में भाजपा उम्मीदवार श्रीचंद शर्मा ने शानदार जीत दर्ज किया है। अपने निकटतम प्रतिद्वंदी ओम प्रकाश शर्मा को 4232 मतों से पराजित किया है। मत संख्या 1 की गिनती पूरी होने के बाद यह परिणाम निकल कर आया है।भाजपा नेता चेतन वशिष्ठ ने ग्रेनोन्यूज से बातचीत में बताया कि “श्रीचंद शर्मा हम जैसे हजारों भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए प्रेरणा स्रोत हैं कई दशकों से भाजपा का और आम लोगों का श्रीचंद शर्मा ने सेवा किया है ,आज जनता ने और प्रबुद्ध वर्ग के शिक्षक लोगों ने जो भरोसा जताया है उसके लिए मैं आभार प्रकट करता हूं”.
प्रत्याशी का नाम।प्राप्त मत
धर्मेंद्र कुमार 988
श्रीचंद शर्मा 7187
अरविंद कुमार सिंह 199
उमेश चंद त्यागी 1962
ओम प्रकाश शर्मा. 2954
कुलदीप मलिक 205
नितिन कुमार तोमर. 1630
रजनीश चौहान 581
राजपाल 275
रामपाल सिंह जांगड़ा 891
श्री शर्मा 19
स्वराज पाल 462
समीर कुमार 84
डॉ सुशील कुमार 411
ज्ञान प्रकाश गुप्ता. 42

मतगणना के दौरान 1121 मतों को रद्द किया गया है।

यह भी देखे:-

PPF व अन्य पोस्ट ऑफिस योजनाओं से निकासी पर कटेगा 5 फीसद तक TDS, जानिए क्या हैं नए नियम
समसारा विद्यालय ने मनाया योग दिवस
श्री रामलीला सेवा ट्रस्ट गौर सिटी रामलीला : शिव -सती संवाद प्रसंग देख भाव विभोर हुए दर्शक
सिंगापुर और यूएई से आक्सीजन टैंकर मंगाने की तैयारी, अमित शाह ने गैस का उत्पादन बढ़ाने के लिए दिए कई ...
"आवर लाइफ एक्सपीरिएन्सेस" विषय पर जीएल बजाज संस्थान में हुई पैनल चर्चा
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन
एसटीएफ नोएडा के हत्थे चढ़ा दिनेश उर्फ़ दिन्ने बावरिया , सैकड़ों आपराधिक वारदातों को दे चूका है अंजाम 
"अभिनंदन को रिसीव करने जाना मेरे लिए सम्मान की बात" - कैप्टन अमरिंदर
मेट्रो में बढ़ने वाले हैं कोच : मिलेगा अधिक यात्रियों को सफर का मौका
नोएडा : होम बायर्स ने लगाए नारे, प्रधानमंत्री जी घर दिलाओ
चौकी प्रभारी ने परिवार से बिछड़ी तीन वर्षीय माही  को परिजनों से मिलाया
अपनी मांगों को लेकर अड़े किसान, ग्रेनो प्राधिकरण कार्यालय पर दूसरे दिन भी धरना जारी
स्वारागिनि संगीत महाविद्यालय ने मनाया वार्षिक उत्सव
रणदीप भाटी गैंग का सक्रिय सदस्य गिरफ्तार , हाल में लगा था गैंगस्टर
उत्तप्रदेश में आईएस/पीसीएस अधिकारियों के तबादले
घरों की छत पर नहीं लगा सकते मोबाइल टावर, जीने के अधिकार का हनन है: हाई कोर्ट