बिहार चुनाव 2020: BJP में हलचल शुरू, कामेश्वर चौपल हो सकते हैं अगले डिप्टी CM

पटना: बिहार में एक बार फिर एनडीए की सरकार बनने जा रही है. लेकिन इससे पहले सरकार गठन की कवायद को लेकर दिल्ली से राजधानी पटना तक बैठकों को दौर जारी है. शुक्रवार को एनडीए की बैठक होनी है और इसमें सरकार के गठन और शपथ ग्रहण समारोह को चर्चा हो सकती है. इसके साथ ही बैठक में आधिकारिक तौर पर नीतीश कुमार के नाम का ऐलान सीएम के तौर पर हो सकता है.

वहीं, रिपोर्ट्स के अनुसार, बीजेपी बिहार में कामेश्वर चौपाल को अगला डिप्टी सीएम बना सकती है. इस बात के संकेत बिहार बीजेपी में मिलने शुरू हो गए हैं. इन कयासों के बीच कामेश्वर चौपाल का बयान डिप्टी सीएम पद को लेकर सामने आया है. कामेश्वर चौपाल ने कहा, ‘पार्टी का कार्यकर्ता हूं, पार्टी जो भी जिम्मेदारी देगी मुझे स्वीकार है.’

कौन हैं कामेश्वर चौपाल
कामेश्वर चौपाल बिहार के सुपौल जिले के रहने वाले हैं जो मिथिला इलाके में पड़ता है. हिंदू धर्म में मिथिला इलाके को सीता का घर भी कहा जाता है. ओपेन मैगजीन में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कामेश्वर चौपाल ने बताया था- ”हम लोग जब बड़े हो रहे थे तो राम को अपना रिश्तेदार मानते थे. उनके मुताबिक मिथिला इलाके में शादी के दौरान वर-वधु को राम-सीता के प्रतीकात्मतक रूप में देखने की प्रथा है.”

कामेश्वर का गांव कोशी नदी के किनारे पड़ता है. कामेश्वर ने अपनी पढ़ाई लिखाई मधुबनी जिले में की. यहीं पर कामेश्वर संघ के संपर्क में आए. उनके एक अध्यापक संघ के कार्यकर्ता हुआ करते थे. यहीं से कामेश्वर ने हाईस्कूल तक की शिक्षा हासिल की. संघ से जुड़े उस अध्यापक की ही मदद से कामेश्वर को कॉलेज में दाखिला मिला.

राजनीतिक शुरुआत
पार्टी के आदेश पर कामेश्वर ने 1991 में राम विलास पासवान के खिलाफ चुनाव लड़ा था. लेकिन वो चुनाव हार गए. साल 2002 में वो बिहार विधान परिषद के सदस्य बने. 2014 में भी वो पार्टी के टिकट पर संसदीय चुनाव में रंजीता रंजन के खिलाफ चुनावी मैदान में खड़े हुए थे. लेकिन उन्हें वैसी कामयाबी नहीं हासिल हुई.

यह भी देखे:-

देश के तीन करोड़ नौकरीपेशों लोगों को बड़ा तोहफा, बजट में बड़ी टैक्स छूट का ऐलान
परिवार से बिछड़ी पांच वर्षीय बच्ची को एक घंटे में बिलासपुर चौकी पुलिस ने परिवार से मिलाया
सांसद महेश शर्मा के वायरल वीडियो को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता ने साधा निशाना
गौतमबुद्ध नगर में लागू हुई धारा 144
दुनियाभर में देखा गया साल का अंतिम सूर्य ग्रहण "‘रिंग ऑफ फायर" , पीएम मोदी ने साझा की तस्वीर
खेल और खिलाड़ियों को लेकर लोगों की धारणा में बदलाव आया है : मुख्यमंत्री
Dog Attack In Ghaziabad : गाज़ियाबाद में कुत्तों ने मचाया आतंक, राह चलना हुआ मुश्किल
तैयारी : 25 नवंबर को प्रधानमंत्री करेंगे नोएडा एयरपोर्ट का शिलान्यास
विश्व हिन्दू परिषद स्थापना दिवस कार्यक्रम नोएडा में सम्पन्न , हिन्दू समाज का सुरक्षा कवच- VHP
पड़ोसी युवक ने की बुजुर्ग की हत्या
इस तारीख से ग्रेटर नोएडा में लगेगा ऑटोमोबाईल का महाकुम्भ - AutoExpo 2018
प्रथम श्री श्याम संकीर्तन महोत्सव का हुआ भूमि पूजन
अब सवर्णों को भी मिलेगा 10 फीसदी आरक्षण, मोदी सरकार का बड़ा फैसला
आदर्श आचार सहिंता लागू होते ही हटने लगे राजनीतिक होर्डिंग्स व पोस्टर
इलेक्रामा-2020 की शानदार शुरुआत - 1300 से अधिक प्रदर्शकों ने किया दुनिया को ऊर्जा देने वाले इनोवेशंस...
बीएस येद्द‍ियुरप्‍पा ने बेंगलुरु में राजभवन में पद और गोपनीयता की शपथ ली