बिहार चुनाव 2020: BJP में हलचल शुरू, कामेश्वर चौपल हो सकते हैं अगले डिप्टी CM

पटना: बिहार में एक बार फिर एनडीए की सरकार बनने जा रही है. लेकिन इससे पहले सरकार गठन की कवायद को लेकर दिल्ली से राजधानी पटना तक बैठकों को दौर जारी है. शुक्रवार को एनडीए की बैठक होनी है और इसमें सरकार के गठन और शपथ ग्रहण समारोह को चर्चा हो सकती है. इसके साथ ही बैठक में आधिकारिक तौर पर नीतीश कुमार के नाम का ऐलान सीएम के तौर पर हो सकता है.

वहीं, रिपोर्ट्स के अनुसार, बीजेपी बिहार में कामेश्वर चौपाल को अगला डिप्टी सीएम बना सकती है. इस बात के संकेत बिहार बीजेपी में मिलने शुरू हो गए हैं. इन कयासों के बीच कामेश्वर चौपाल का बयान डिप्टी सीएम पद को लेकर सामने आया है. कामेश्वर चौपाल ने कहा, ‘पार्टी का कार्यकर्ता हूं, पार्टी जो भी जिम्मेदारी देगी मुझे स्वीकार है.’

कौन हैं कामेश्वर चौपाल
कामेश्वर चौपाल बिहार के सुपौल जिले के रहने वाले हैं जो मिथिला इलाके में पड़ता है. हिंदू धर्म में मिथिला इलाके को सीता का घर भी कहा जाता है. ओपेन मैगजीन में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कामेश्वर चौपाल ने बताया था- ”हम लोग जब बड़े हो रहे थे तो राम को अपना रिश्तेदार मानते थे. उनके मुताबिक मिथिला इलाके में शादी के दौरान वर-वधु को राम-सीता के प्रतीकात्मतक रूप में देखने की प्रथा है.”

कामेश्वर का गांव कोशी नदी के किनारे पड़ता है. कामेश्वर ने अपनी पढ़ाई लिखाई मधुबनी जिले में की. यहीं पर कामेश्वर संघ के संपर्क में आए. उनके एक अध्यापक संघ के कार्यकर्ता हुआ करते थे. यहीं से कामेश्वर ने हाईस्कूल तक की शिक्षा हासिल की. संघ से जुड़े उस अध्यापक की ही मदद से कामेश्वर को कॉलेज में दाखिला मिला.

राजनीतिक शुरुआत
पार्टी के आदेश पर कामेश्वर ने 1991 में राम विलास पासवान के खिलाफ चुनाव लड़ा था. लेकिन वो चुनाव हार गए. साल 2002 में वो बिहार विधान परिषद के सदस्य बने. 2014 में भी वो पार्टी के टिकट पर संसदीय चुनाव में रंजीता रंजन के खिलाफ चुनावी मैदान में खड़े हुए थे. लेकिन उन्हें वैसी कामयाबी नहीं हासिल हुई.

यह भी देखे:-

बिहार चुनाव: महागठबंधन के प्रेस कॉन्फ्रेंस में हुआ बवाल ,मुकेश सहनी ने कहा पीठ में घोंपा खंजर
राफेल सौदे पर सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार को बड़ा झटका
पत्रकार हत्याकांड में राम रहीम को मिली कठोर सजा, पढ़ें पूरी खबर
विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त को किया तलब
एक बार तीन तलाक देने वाले पति जायेंगे जेल, मोदी कैबिनट ने दी मंजूरी
ऐंटी बीजेपी वोटों को बांटकर बीजेपी की मदद कर रही है कांग्रेस - केजरीवाल
आरटीआई में हुआ खुलासा, सितम्बर  तक 71 बाघ खो चुके हैं हम , एनटीसीए ने दी जानकारी
एबीवीपी के प्रांतीय अधिवेशन में ग्रेटर नोएडा से जुड़े कार्यकर्ताओं को मिला अहम जिम्मेवारी
पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का 66 साल की उम्र में निधन
मोबाईल फ़ोन होंगे महंगे, जीएसटी काउंसिल की बैठक में लिए गए अहम निर्णय, पढ़ें पूरी खबर
नोएडा: एक्सपोर्ट कम्पनी में लगी भीषण आग
विस्तृत : सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच CBI करेगी : सुप्रीम कोर्ट
हौंडा सिटी कार मेट्रो की पोल से टकराई, चार युवक घायल 
COVID 19 पर जानिए आज तक की क्या है गौतमबुद्ध नगर की रिपोर्ट, 3 मई तक इन सोसाईटी में आने-जाने पर लगी...
जिलाअधिकारी गौतमबुद्धनगर के पद पर नहीं रहना चाहता हूं: बीएन सिंह
स्कूल बस में सीएनजी गैस रिसाव होने से अफरातफरी