Bihar Election: खुद हारकर चिराग पासवान ने बीजेपी को दिला दी बड़ी जीत…

पटना: बिहार विधान सभा चुनाव में लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) को सिर्फ एक सीट मिली और पार्टी को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा, लेकिन चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने खुद हारकर भाजपा (BJP) को बड़ी जीत दिला दी. बीजेपी को बिहार चुनाव में 74 सीटों पर जीत मिली, जबकि नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने 43 सीटों पर जीत दर्ज की. तो चलिए बताते हैं किस तरह चिराग पासवान ने बीजेपी को फायदा पहुंचाया.

वोटर्स को महागठबंधन में जाने से रोका
15 साल से लगातार बिहार में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की सरकार है और जनता को सरकार से जो थोड़ी बहुत नाराजगी थी. ऐसे में वोटर्स महागठबंधन के पक्ष में जा सकते हैं थे, लेकिन लोजपा ने इन वोटों को महागठबंधन में जाने से रोका. इसके अलावा चिराग पासवान (Chirag Paswan) की पार्टी ने दो दर्जन से अधिक सीटों पर जदयू को सीधा नुकसान पहुंचाया और इसका फायदा बीजेपी को हुआ, जो एनडीए की नंबर एक पार्टी बन गई.

क्या भाजपा ने बनाई थी ये रणनीति?
चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद चिराग पासवान ने अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया और नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया, हालांकि वह कभी भी बीजेपी के खिलाफ नहीं थे. लोजपा ने जेडीयू के खिलाफ उम्मीदवार उतारे, जबकि बीजेपी के कई बागी नेताओं को टिकट दिया. इसके बाद यह चर्चा हुई थी कि नीतीश सरकार से नाराज वोटर्स को विपक्षी खेमे में जाने से रोकने के लिए बीजेपी ने यह रणनीति बनाई है.

आगे क्या है चिराग की प्लानिंग
बिहार में हार के बाद चिराग की आगे की प्लानिंग केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने की है. बताया जा रहा है कि वह अपने पिता की जगह केंद्रीय मंत्री बनना चाहते हैं. इसके अलावा वह पिता की जगह अपनी मां को राज्य सभा (Rajya Sabha) भेजना चाहते हैं.

 

यह भी देखे:-

पशुओं की अचानक मृत्यु होने पर सरकार देगी मुआवजा, जानिए क्या है Pasgudhan Bima Yojna 
India-Bangladesh Business Forum achieves 4iR R&D alliance between Highbar of India and eGeneration o...
GST Council Meeting: जानिए क्या रहा ख़ास
सुरक्षाबलों ने पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड अब्दुल गाजी को घेरा, सेना के 4 जवान शहीद
वाट्सअप चैट और ईमेल पे हथियारों की लोकेशन भेजता था आतंकी का आक़ा
समलैंगिकता और निजता का अधिकार , क्या कहता है कानून
बिहार चुनाव:23 अक्टूबर को गया से प्रधानमंत्री मोदी करेंगे एक्चुअल रैली का आगाज
पीएम मोदी एक बार फिर देशवासियों से होंगे रूबरू, LOCKDOWN पर हो सकता है बड़ा फैसला
'पाकिस्तान मुर्दाबाद...' नारे लगाने पर मिल रही है चिकन लेग पीस पर 10 रुपये की छूट
22 नवंबर से होगा विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय अधिवेशन का आगाज
राम मंदिर सुनवाई:19 जनवरी 1885 से 2019 तक के न्यायालय का सफर आखिरी पड़ाव पर..
लोकसभा चुनाव 2019: सीपीआई के खोते जनाधार को कन्हैया का सहारा
Auto Expo 2020: ऑटो एक्सपो 2020 की कुछ झलकियां
डिफॉल्टर आम्रपाली पर बैंकों और प्राधिकरण ने खूब की मेहरबानी
दुनिया के धनवान : जेफ बेजोस बनें एक बार फ़िर सबसे धनवान, जानिए शीर्ष 10 धनकुबेरों की कितनी है संपत्ति
RBI गवर्नर की प्रेस कॉन्फ्रेंस, जानिए आपके काम की बड़ी बातें