उत्तर प्रदेश में भगवान चित्रगुप्त की 71 फुट की विश्व की सबसे बड़ी मूर्ति को लगाई जायेगी 

  • “पहला  वैश्विक वर्चुअल कायस्थ सम्मेलन 5-6-7 सितम्बर को – जुटेंगे कई देशो के कायस्थ प्रतिनिधि
  • कायस्थ समाज की वर्तमान समाजिक एवं राजनितिक विषय पर होगी मंथन “
 
ग्यारह करोड़ कायस्थ समाज का एकमात्र राष्ट्रीय स्वरूप वाला गैर राजनितिक संगठना “अखिल भारतीय कायस्थ महासभा” (पंजी) 2150 , नई दिल्ली के राष्ट्रीय संयोजक मनीष श्रीवास्तव ने बताया -“हम लोग उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में 71 फुट की भगवान चित्रगुप्त की विश्व की सबसे बड़ी मूर्ति की स्थापना करने जा रहे है इसके लिए भूमि पूजन का कार्यक्रम 16 नवम्बर 2020 को तय किया गया है /  पहला बैश्विक वर्चुअल कायस्थ सम्मेलन जो हम 5-6-7 सितम्बर 2020 को विश्व के कई देशो के कायस्थ प्रतिनिधियों के साथ मिलकर करने जा रहे है / इसमें कायस्थ समाज के पिछले 100 साल की उपलब्धियों पर चर्चा की जायेगी और समाजिक एवं राजनितिक स्तिथि के लिए विचार मंथन का आयोजन होगा . ज़ूम एप्प , फेसबुक ,ट्विटर ,यूट्यूब समेत कई सोसल साइट्स पर इस लाइव वेविनार का लाइव स्त्रिमिग होगा / उत्तर प्रदेश , बिहार, बंगाल , उड़ीसा , मध्य प्रदेश , महाराष्ट्र , त्रिपुरा , राजस्थान समेत कई राज्यों में कायस्थ यदपि अधिक संख्या में है लेकिन कायस्थ समाज को राजनितिक रूप  से वह जगह नहीं मिल पा रहा है जिसका कायस्थ समाज हकदार है / हमारा सन्गठन -कायस्थ एवं हिंदुत्व एक दुसरे का पूरक होता है के विचार धारा को मानता है / हम मानते है की कायस्थ समाज को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ जी से बहुत आशा है , हमे पूर्ण विशवास है की भाजपा सरकार कायस्थ समाज को उचित प्रतिनिधित्व प्रदान करेगी / हमारे सन्गठन का किसी भी भ्रामक होर्डिग या विरोध से कोई सबंध नहीं है / हमारा सन्गठन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी जी के हिंद्त्व एवं विकास के हर पथ पर साथ खड़ा है / कायस्थ समाज को योगी सरकार और मोदी सरकार पर पूरी आस्था है / आखिर में हम कायस्थ समाज क्यों नहीं उत्तर प्रदेश में भाजपा को समर्थन करे जबकि कायस्थ समाज को भाजपा सरकार में त्रिपुरा में मुख्यमंत्री पद दिया गया , बंगाल में मुख्यमंत्री का उम्मीदवार पिछली बार बनाया गया , झारखड में जहा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ही कायस्थ समाज से है और राज्यसभा भी दी गयी , बिहार में मोदी केबिनेट में श्री रविशंकर प्रशाद समेत दर्जन नेतावो को केन्द्रीय और प्रदेश टीम में रखा गया है , राजस्थान से राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एव राज्यसभा सांसद ओम माथुर जी है , मध्यप्रदेश में विशवास सारंग जी को केबिनेट मंत्री बनाया गया और कई नाम है / उत्तर प्रदेश में भाजपा प्रदेश नेतृत्व द्वारा कायस्थ समाज को जगह ना देने से बेशक कायस्थ समाज में रोष है लेकिन कायस्थ समाज अभी भी आशा करता है की भाजपा २०२२ बिधान सभा चुनाव में उपयुक्त हिस्सेदारी देगी /  योगी सरकार में केबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिह जी है और राजू श्रीवास्तव जी भी है , हम भाजपा शीर्ष नेतृत्व से जरुर अपील करेगे की कायस्थ समाज को  संख्या के हिसाब से हिस्सेदारी सुनिश्चित कराए /हम लोग सपा .कोग्रेस ,बसपा को भी याद दिलाना चाहेगे की इनकी सरकारों में कायस्थ उत्पीडन की घटनाए बहुत हुई है  इस लिए सपा , बसपा , कोग्रेस कायस्थों की हितैसी बनने की दिखावा ना करे /  राम मन्दिर के निर्माण कार्य शुरू होने के साथ योगी सरकार के विरोधी पार्टियों की कायस्थ समाज को बरगलाने की साजिश को हमारा संगठन पूरी तरह जनता में जाकर बेनकाब करेगा , योगी सरकार बहुत अच्छा कार्य कर रही है /”

यह भी देखे:-

वाराणसी: राहुल गांधी चीन के एजेंट है- सांसद मनोज तिवारी ,सैनिक पीछे जा रहे तो सीने में दर्द क्यों
गणतंत्र दिवस पर डीजीपी प्रशंसा चिह्न से नवाजे जाएंगे गौतमबुद्ध नगर के ये पुलिस अधिकारीयों व कर्मिय...
नोएडा और लखनऊ में कमिश्नर प्रणाली : सूत्र
दहेज़ एक अभिशाप है समाज के प्रति इसका विरोध करे: राजेन्द्र आर्य प्रजापति
नोएडा और लखनऊ में डीसीपी की हुई तैनाती
उत्तर प्रदेश : IPS अधिकारीयों के तबादले, वैभव कृष्ण बने एसएसपी गौतमबुद्ध नगर
उत्तर प्रदेश में 15 एसडीएम के तबादले
एकेटीयू द्वारा रद्द किए गए परीक्षाओं की नई समय सारणी जारी
सीबीआई छापे के बाद इन डीएम व अधिकारियों का हुआ तबादला
उत्तरप्रदेश में आईएएस अधिकारीयों का तबादला
सहारनपुर के मां शाकंभरी देवी मंदिर पहुंचीं प्रियंका गांधी, कुछ देर में महापंचायत को करेंगी संबोधित
उत्तर प्रदेश में कई एडिशनल एसपी का हुआ तबादला
जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह के साथ प्रस्तावित जेवर एयरपोर्ट के प्रभावित किसानों ने की सीएम योगी से मु...
किसान आंदोलन पर स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने कहा- प्रदर्शन करने वालों को भगवान सद्बुद्धि दे
किसान एकता संघ ने काले कानून रद्द करने को राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन
जानिए, सीएम योगी के इस बड़े निर्णय से ग्रेनो, नोएडा ,यमुना प्राधिकरण में मचा हड़कंप