73 वें स्वतंत्रता दिवस से पूर्व प्रोफ़ेसर करेंगे एक दिवसीय उपवास

आई टी एस इंजीनियरिंग कॉलेज के प्रोफेसर एवं मेरठ सहारनपुर मंडल से आगामी एमएलसी चुनाव (शिक्षक वर्ग) के प्रत्याशी डॉ. कुलदीप मलिक मेरठ जिले के जिलाधिकारी कार्यालय पर 73 वें स्वतंत्रता दिवस से पूर्व एक दिवसीय उपवास पर रहकर देश के प्रधानमंत्री एवं राज्य के मुख्यमंत्री से शिक्षा क्षेत्र के लिऐ विशेष आर्थिक राहत पैकेज की मांग करेगे। साथ ही साथ इस उपवास के द्वारा वह सरकार की वर्तमान शिक्षा नीति का भी विरोध करेगे।

ज्ञात रहे डॉ. कुलदीप मलिक पिछले काफी समय से शिक्षा क्षेत्र में विशेष राहत पैकेज की मांग एवं सरकार की वर्तमान शिक्षा नीति के खिलाफ प्रदर्शन करते रहे हैं। हाल ही में उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र के 9 जिलों में सरकार से शिक्षा क्षेत्र में विशेष राहत पैकेज के लिए एक अभियान भी चलाया चलाया था, जिसकी शुरुआत उन्होंने 29 जून से सहारनपुर में के जिलाधिकारी को ज्ञापन देने से पूर्व सांकेतिक उल्टी चाल चलके की थी।

डॉ. मलिक के अनुसार वर्तमान समय में उत्तर प्रदेश के प्राइवेट शैक्षणिक संस्थान वैश्विक महामारी कोविड-19 के चलते पिछले कई महीनों से बंद है, इन संस्थानों की आय का एकमात्र साधन छात्रों द्वारा दिया गया शुल्क है, जो पिछले कई महीनों से संस्थानों को प्राप्त नहीं हो रहा है। इस स्थिति में प्रबंधक शिक्षकों/कर्मचारियों को वेतन देने में असमर्थता व्यक्त कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में प्राइवेट शैक्षणिक संस्थानों का शिक्षक भुखमरी की कगार पर पहुंच चुका है और वह आज आत्महत्या करने को मजबूर है।

दूसरी तरफ सरकारी शिक्षक लंबे समय से पुरानी पेंशन की बहाली एवं एनपीएस के सुचारू रखरखाव सहित शिक्षा व्यवस्था एवं शिक्षकों के हित में कई सारी मांग करते चले आ रहे हैं, जिस पर सरकार लंबे से मोन है। वही कोविड-19 के चलते शिक्षकों के भत्तों पर रोक लगा दी है।

अपने इस उपवास के माध्यम से डॉ मलिक सरकार का ध्यान इस तरफ आकर्षित करना चाहते हैं कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते सरकार ने लगभग सभी क्षेत्रों में आर्थिक सहायता प्रदान की है, लेकिन प्राइवेट शैक्षणिक संस्थानों के लिए अभी तक सरकार किसी भी प्रकार की आर्थिक मदद के लिए आगे नहीं आई है।

यह भी देखे:-

दिल्ली विधानसभा चुनाव के एलान के साथ आचार सहिंता लागू
इन लोकसभा चुनाव क्षेत्र के परिमाण आने में हो सकती है देरी, पढ़ें पूरी खबर
पूर्वोत्तर में कांग्रेस की करारी हार के बाद राहुल गाँधी ने तोड़ी चुप्पी
नरेंद्र भाटी एडवोकेट बने बसपा दादरी विधानसभा प्रभारी
अनिल कसाना बने बीकेयू अम्बावत ग्रेटर नोएडा उपाध्यक्ष 
नोएडा एबीवीपी ने बीएचयू प्रशासन का पुतला फूँका
पीएम मोदी व भागवत का पुतला फूँक रहे युवा कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार
हम लोगों को छुआछूत ख़त्म करना चाहिए : वीरेन्द्र डाढ़ा
भाजपा का दादरी विधानसभा मतदाता कार्यशाला का आयोजन
पैराशूट प्रत्याशी सहन नहीं करेंगे कांग्रेसी
ग्रेटर नोएडा : रन फॉर यूनिटी में एकता का सन्देश लेकर दौड़े लोग
समाजवादी पार्टी को एक और झटका, सुरेंद्र नागर का राज्यसभा से इस्तीफा, लग रही है ये अटकलें
मुलायम सिंह युथ ब्रिगेड ने गरीबो के बीच मनाया नेताजी के 81वां जन्मदिन
श्री मोहन मंदिर एवं योग आश्रम बिसरख धाम के तत्वधान में सैकड़ों लोग बीजेपी में शामिल होंगे
17 अप्रैल को भाकियू कुछ इस अंदाज़ में मनाएगी अन्तर्राष्ट्रीय किसान दिवस
प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर सपा ने दिया धरना