मनचलों ने ली टॉपर बिटिया की जान, छेड़छाड़ के दौरान  दुर्घटना में होनहार छात्रा की मौत 

  • गौतमबुद्धनगर के दादरी में रहने वाली सुदीक्षा भाटी ने पिछले साल इंटरमीडिएट में बुलंदशहर जनपद को टॉप किया था.
  • HCL से 3 करोड़ 80 लाख रुपये की स्कॉलरशिप मिलने के बाद सुदीक्षा भाटी अमेरिका में उच्च शिक्षा ग्रहण करने चली गई थी.

उत्तर प्रदेश में मनचले शोहदे के हौसले किस कदर बुलंद हैं, इसकी एक बानगी बुलंदशहर में देखने को मिली है. बुलंदशहर में अमेरिका से स्वदेश लौटी होनहार छात्रा सुदीक्षा भाटी की मनचलों की छेड़खानी से बचने के दौरान सड़क हादसे में मौत हो गई. गाजियाबाद में भांजी को छेड़खानी से बचाने के दौरान पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या को लोग भूल भी नहीं पाए थे कि बुलंदशहर की घटना से एक बार फिर प्रदेश के अभिभावकों का कलेजा कांप गया है.

छात्रा अमेरिका के बॉब्सन कालेज में भारत सरकार के खर्च पर पढ़ रही थी. HCL की तरफ से पिछले साल छात्रा सुदीक्षा भाटी को 3.80 करोड़ रुपये की स्कॉलर शिप दी गयी थी. फिलहाल पुलिस ने छात्रा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और अज्ञात बाइकर्स के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

जानकारी के मुताबिक सुदीक्षा भाटी की सड़क हादसे में उस वक्त मौत हो गयी, जब बुलट सवार कुछ युवक बाइक पर बैठी छात्रा से फ़्लर्ट कर छेड़छाड़ कर रहे थे. आरोप है कि फ़्लर्ट के दौरान बुलट सवार युवक बार बार बाइक को ओवरटेक कर रहे थे, कि उसी दौरान मनचलों से बचने के चक्कर में सड़क हादसे में सुदीक्षा भाटी की मौत हो गयी.

बता दे कि गौतमबुद्धनगर के दादरी में रहने वाली सुदीक्षा भाटी ने पिछले साल इंटरमीडिएट में बुलंदशहर जनपद को टॉप किया था. HCL द्वारा 3 करोड़ 80 लाख रुपये की स्कॉलरशिप दिए जाने के बाद सुदीक्षा भाटी अमेरिका में उच्च शिक्षा ग्रहण करने चली गई थी.

सुदीक्षा के परिजनों के मुताबिक कोरोना के चलते सुदीक्षा अमेरिका से स्वदेश लौटी थी और आज अपने ही चाचा के साथ बाइक से अपने मामा से मिलने जा रही थी. उसे कुछ दिन बाद उसे वापस अमेरिका पढ़ाई के लिए लौटना था मगर उसे क्या पता था कि आज हादसे में उसकी मौत हो जाएगी और फिर वह कभी अमेरिका नहीं जा पाएगी.

पुलिस ने अज्ञात बाइकर्स के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश शरू कर दी है और आरोपों की जांच कर कार्रवाई करने का दावा कर रही है.

गाजियाबाद के विक्रम जोशी हत्याकांड के बाद सुदीक्षा भाटी की मौत उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था की गवाही दे रहे हैं. सवाल उठ रहे हैं कि क्या प्रदेश के अपराधियों और मनचलों के दिल से कानून और पुलिस का खौफ खत्म हो गया है? एक तरफ अपराधी अपने काम में व्यस्त हैं तो वहीं दूसरी तरफ पुलिस रटे रटाए जवाब दे रही है.

यह भी देखे:-

उत्तर प्रदेश : निरीक्षक से पुलिस उपाधीक्षक पद पर इनका हुआ प्रोमोशन, देखें सूची
गणतंत्र दिवस पर डीजीपी प्रशंसा चिह्न से नवाजे जाएंगे गौतमबुद्ध नगर के ये पुलिस अधिकारीयों व कर्मिय...
स्कूली बच्चों की सुरक्षा को लेकर यूपी डीजीपी का पुलिस कप्तानों को मिला ये निर्देश
उत्तर प्रदेश में आईपीएस अधिकारीयों के तबादले , कई जिले के कप्तान बदले
कांग्रेस-सपा-बसपा में गठबंधन को लेकर बातचीत अभी भी जारी - सूत्र
मुलायम की बहू अर्पणा पर भड़का राजपूत संगठन
कोरोना से लड़ना भी है और विकास कार्य भी संचालित करना है : सीएम योगी 
उत्तर प्रदेश में सभी शिक्षण संस्थानों में छुट्टी ....पढ़ें पूरी खबर
राज्यसभा चुनाव उत्तर प्रदेश : सुरेंद्र नागर का निर्विरोध निर्वाचन तय
COVID-19:गलगोटिया विश्वविद्यालय के उदासीन रवैए से छात्र परेशान
'हम SP-BSP गठबंधन के साथ' - जयंत चौधरी
बुलंदशहर: सड़कों को गड्ढा मुक्त कराने के लिए करप्शन फ्री इण्डिया ने किया प्रदर्शन
उत्तर प्रदेश में कई एडिशनल एसपी का हुआ तबादला
प्रियंका गांधी का बड़ा एक्शन, भंग की जिला कमेटियां
उत्तर प्रदेश में आईपीएस अफसरों के ट्रांसफर
उत्तर प्रदेश : शराब के शौकीनों के लिए अच्छी खबर , कैसे? पढ़े पूरी खबर