ग्रेटर नोएडा में अब रोबोट करेगा सीवर की सफाई 

ग्रेटर नोएडा में रोबोट से होगी सीवर की सफाई, शहरवासियों को सीवर के ओवरफ्लो होने की समस्या से निजात दिलाएगी सुपर सकर मशीन

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण शहर की व्यवस्थाएं भी विश्वस्तरीय करने की शुरुआत की दी है। शहर में सीवर की सफाई अब रोबोट से की जाएगी। इसकी शुरुआत प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण और जिला संचारी रोग नियंत्रण के नोडल ऑफिसर ने आवासीय सेक्टर डेल्टा-दो में की। इसके साथ ही ग्रेटर नोएडा रोबोट के माध्यम से सीवर की सफाई करने वाला उत्तर प्रदेश और दिल्ली एनसीआर क्षेत्र का पहला शहर बन गया है।

अथॉरिटी के सीईओ नरेंद्र भूषण ने बतया कि शहर में फिलहाल 10 लाख लोग निवासी कर रहे हैं। अगले 10 वर्षों में शहर की आबादी 25 लाख होने का अनुमान है। यहां तमाम राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय संस्थाएं काम कर रही हैं। भविष्य में इनकी संख्या में भी इजाफा होगा, जिनमें दुनियाभर के लोग काम करने के लिए यहां आएंगे। इसलिए उनका मकसद शहर के विकास को भी विश्वस्तरीय बनाना है। उन्होंने बताया कि शहर में सीवर की सफाई का काम अब अत्याधुनिक रोबोट के जरिये कराया जाएगा। यह कदम सफाई कर्मचारियों की सुरक्षा के मद्देनजर उठाया गया है। उन्होंने बताया कि ग्रेटर नोएडा रोबोट के माध्यम से सीवर की सफाई करने वाला उत्तर प्रदेश और दिल्ली एनसीआर क्षेत्र का पहला शहर बन गया है।

सीईओ नरेंद्र भूषण ने बताया कि यह रोबोट जमीन से 8 मीटर नीचे स्थित मेन होल, स्लज एवं ब्लाकेज की सफाई कर सकता है। इसमें एक स्वचालित कैमरा भी लगा हुआ है, जिसके माध्यम से पाइप में प्लग तथा ब्लाकेज की सूचना डैशबोर्ड पर उपलब्ध हो जायेगी। इस रोबोट के तैनात हो होने के बाद किसी भी सफाई कर्मचारी को मेन होल में नहीं उतरना पड़ेगा। यह एक दिन में कम से 10 मेन होल के गंदगी की सफाई में सक्षम होगा। रोबोट द्वारा सीवर सफाई के समय निकलने वाली जहरीली गैस की जानकारी भी उसके डैश बोर्ड पर प्रदर्शित हो जायेगी। इस रोबोट पर 40 लाख रुपये खर्च किए गए हैं। अभी तक इस तरह के रोबोट से हैदराबाद, केरल, आसाम और तमिलनाडु में सीवर की सफाई की जा रही है।

सीईओ ने बताया कि अथॉरिटी ने शहरवासियों को सीवर के ओवरफ्लो होने की समस्या से निजात दिलाने के लिए सुपर सकर मशीन भी खरीदी है। इस पर 1.20 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। सुपर सकर मशीन में दो डम्प टैंक होंगे। वर्तमान में जब पंम्प द्वारा सीवर लेन को खाली किया जाता है तो पानी चारो तरफ बिखर जाता है, जिससे गंदगी तथा बीमारी फैलने की सम्भावना बनी रहती है। इस तरह की समस्याओं से निजात पाने के लिय सुपर सकर मशीन का प्रयोग किया जायेगा। उन्होंने बताया कि शहर में सीवर से संबंधित सभी समस्याओं के निस्तारण के लिए प्राधिकरण ने विशेष इन्टीग्रेटेड कन्ट्रोल रूम की स्थापना की है। निवासी सीवर संबंधी शिकायतें मोबाइल नंबर 8595810523 एवं 8595814470 पर दर्ज करा सकते हैं।

यह भी देखे:-

ज़नाब गए थे राशन लेने, साथ लाये बीवी , जानिए क्या है दिलचस्प किस्सा
व्यापारियों को मिलेगी हर संभव मदद : डॉ अशोक वाजपेयी
आर्षायण ट्रस्ट ने मनाया मकर संक्रांति महोत्सव, 21 कुण्डीय यज्ञ में लोगों ने दी आहुति
बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने किया खुदकुशी
गौतमबुद्ध नगर : 40 गुण्डे जिला बदर, डीएम बी.एन. सिंह ने जनता से मांगी फीडबैक
सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली के सीएमडी समेत तीन निदेशकों को भेजा जेल
इन 3 और गुंडों पर लगाया गया गैंगस्टर
लॉकडाउन का उलंघन कर रहे 25 लोग गिरफ्तार
देखें VIDEO, जारचा SHO ने दिखाई बहादुरी, बंधक बनी माँ-बेटी को सिरफिरे के चंगुल से छुड़ाया
रोहित कुमार नोएडा ग्रामीण से सांसद प्रतिनिधि नियुक्त
जिम्स और शारदा हॉस्पिटल में कुल 16 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग
THE HIGHWAY FASHION WEEK SEASON 4 में डिज़ाइनर दिखायेंगे प्रतिभा की झलक
सिगरेट डीलर से लाखों की लूट
जी. डी. गोयंका पब्लिक स्कूल में श्रम दिवस मनाया गया
संयुक्त किसान अधिकार आन्दोलन के नेतृत्व में किसान देंगे ग्रेनो प्राधिकरण कार्यालय पर धरना
समाजवादी पार्टी बूथ कार्यकर्ताओं के सम्मलेन में बोले सांसद सुरेन्द्र सिंह नागर , भाजपा ने देश को किय...