सपा कार्यकर्ताओं ने स्मृति ईरानी को चीन द्वारा किए गए हमले पर चूड़ियां भेजी गई 

नोएडा: आज नोएडा मुलायम सिंह युथ ब्रिगेड के पूर्व महानगर अध्यक्ष के नेतृत्व मैं केंद्रीय मंत्री स्मृति जुबेन ईरानी जी को चूड़ियां भेजी गई।डॉ आश्रय गुप्ता ने बताया कि चूड़ियां भेजने का कारण ये था कि पिछली केंद्रीय सरकार मैं स्मृति ईरानी जब भी कोई मामला होता था या चीन,पाकिस्तान जब हमले करता था तो सबसे पहले पूर्व प्रधानमंत्री जी को चूड़ियां भेजती थी ताकि उनकी सरकार जागे और कोई करवाई करे।उन्ही से प्रेरित होकर और देश के वर्तमान हालात को देखते हुए जब पिछले कई दिनों से चीन और नेपाल हमारे सैनिकों पर हमले कर रहा है और कई सैनिक शहीद हो गए है उसी क्रम मे, आज मैंने अपने समाजवादी साथियो के साथ मिलकर सोशल डिस्टेनसिंग का ध्यान रखते हुए स्मृति जुबेन ईरानी जी को उनके दिल्ली स्तिथ आवास पर चूड़ियों को सरकारी स्पीड पोस्ट के जरिये भेज गया ताकि वो हमारे देश के मा. प्रधानमंत्री ,मा. ग्रह मंत्री,मा. रक्षा मंत्री जी को चूड़ियां भेजे और उन्हें नींद से जगाए ताकि वो चीन और नेपाल द्वारा किये गए हमले पर प्रतिक्रिया दे और हमारे शहीद हुए सैनिकों का बदला एक के बदले 10 सर लाने वाले वादे को पूरा करे ।इस अवसर पर कुंवर बिलाल बरनी,अनिल शर्मा,बलराम यादव मौजूद थे।

यह भी देखे:-

विश्व जल दिवस के उपलक्ष्य मे नुक्कड़ नाटक कर ग्रामीणो को जागरूक किया
डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी एक व्यक्ति नहीं विचार का नाम है :चेतन
खड़ी गाड़ियों से करते थे डीजल चोरी, दादरी पुलिस ने दबोचा
CORONA UPDATE : गौतमबुध नगर में कोरोना पॉजिटिव मरिजों की संख्या में इजाफा
लॉकडाउन का उलंघन करने वालों पर सख्त गौतमबुद्ध नगर पुलिस
ब्रेकिंग न्यूज़ : देश में लॉकडाउन बढाया गया
पीएम मोदी ने कहा, कोरोना से लड़ेंगे और जीतेंगे , नोएडा समेत कोलकोता व मुंबई में  HI TECH Corona Test...
समाधान दिवस में 164 शिकायतें हुई दर्ज, 10 का मौके पर निस्तारण
ग्रेटर नोएडा-नोएडा में कल , 7 अक्टूबर को मतदान विशेष अभियान
पुलिस एनकाउंटर में घायल हुआ वांटेड बदमाश गिरफ्तार
नतीजे रुझान आने के बाद पीएम मोदी का पहला ट्वीट, पढ़ें क्या है
ट्रेन से गिरकर घायल युवक का मामला , रेल मंत्रालय ने GRENONEWS की खबर का लिया संज्ञान
शारदा विश्विद्यालय में जल संरक्षण पर "जल है तो कल है " कार्यक्रम का आयोजन
आईजीसी 2018 शिविर : एनसीसी कैडेटों को एकता और अनुशासन की दी गई सीख
संविधान है एक जैविक दस्तावेज -पद्मभूषण सुभाष कश्यप
आईटीएस डेन्टल में एमडीएस के विद्यार्थियों का नया सत्र हुआ प्रारम्भ