महिलाऔं व बच्चों के सुरक्षा घेरे को मजबूत करना गौतमबुद्ध नगर पुलिस की पहली प्राथमिकता : पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह

नोएडा में महिलाओं और बच्चों को मिली नई धार*
*सीएम योगी की परिकल्पना को नोएडा पुलिस ने पहनाया अमली जामा*
*महिलाऔं व बच्चों के सुरक्षा घेरे को मजबूत करना गौतमबुद्ध नगर पुलिस की पहली प्राथमिकता*
*गौतमबुद्ध नगर पुलिस में डीसीपी और एसीपी महिला सुरक्षा की तैनाती*
*आलोक सिंह*
*पुलिस कमिश्नर, गौतमबुद्ध नगर*
*5 जून 2020,नोयडा*
*( गौतम बुद्ध नगर)* ।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की एक महत्वपूर्ण परिकल्पना को धरातल पर उतारने का कार्य पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह द्वारा किया गया है। उनके द्वारा महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों का संज्ञान लेकर एक विशेष कार्ययोजना तैयार की गई है।इस योजना के तहत अब जनपद गौतमबुद्धनगर में महिला और बाल सुरक्षा की जिम्मेदारी के लिए महिला डीसीपी और एसीपी की तैनाती की जा रही है। पुलिस को इस योजना की बीते काफी समय से प्रतीक्षा थी।
इस योजना की नींव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा लखनऊ और गौतमबुद्धनगर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली की घोषणा करने के दौरान रखी गई थी, जिसको अब अमली जामा पहना दिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने पुलिस कमिश्नर प्रणाली की घोषणा के समय कहा था कि वह इन अधिकारियों से अपेक्षा करते हैं कि वे महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों को रोकने के लिए प्रभावशाली पहल करेंगे। महिलाओं व बच्चों के खिलाफ अपराधों की जांच में शीघ्रता के साथ गुणवत्ता को भी वरियता देंगे।
पुलिस कमिश्नर गौतमबुद्ध नगर आलोक सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के इन निर्देशों की अनुपालन में दिनांक 04.06.2020 से इस योजना को लागू कर दिया गया है।
 *योजना की मुख्य विशेषताएं :*
*1.* प्रत्येक पुलिस स्टेशन में एक महिला सुरक्षा डेस्क और एक महिला इकाई का संचालन किया जाएगा। महिला डेस्क द्वारा ही पुलिस स्टेशन में आने वाली सभी महिलाओं और बच्चों की समस्याओं का सर्वप्रथम संज्ञान लिया जाएगा,जिससे महिलाअेां व बच्चों को अपनी समस्याओं का साझा करने में कोई परेशानी और हिचक ना हो और समस्याओं का विषय के आधार पर  निस्तारण की उचित प्रक्रिया शुरू की जा सके।
*2.* इस योजना के तहत महिला इकाई में दो उप-निरीक्षक, पुरुष और महिला (पुरुष और महिला कांस्टेबल के साथ उनकी मदद के लिए) शामिल होंगे जो विशेष रूप से महिलाओं के खिलाफ अपराधों के सभी मामलों की जांच करेंगे। जांचकर्ताओं के इस समर्पित कैडर को सामयिक, समय पर और सबूत आधारित जांच के लिए विशेष तौर पर प्रशिक्षित किया जाएगा।
*3.* किसी भी जांच अधिकारी को प्रति वर्ष 40 से अधिक मामलों की जांच करने के लिए नहीं दिया जाएगा। गुणवत्ता के साथ ही समय पर जांच सुनिश्चित करने के लिए ही इस दृष्टिकोण को अपनाया गया है।
*4.* एसीपी रैंक के अधिकारी को दहेज हत्या, एससी/एसटी समुदाय के सदस्यों के खिलाफ यौन अपराध की जांच करने की जिम्मेदारी होगी। जबकि एसीपी महिला सुरक्षा को अनैतिक गतिविधियों की रोकथाम अधिनियम के तहत अपराध, किसी भी अन्य जघन्य अपराधों द्वारा महिलाओं के खिलाफ सभी गंभीर अपराधों की जांच की जिम्मेदारी होगी।
*5.* डीसीपी और एसीपी महिला सुरक्षा को महिलाओं के खिलाफ अपराधों के पूरे स्पेक्ट्रम जैसे सभी यौन अपराधों और शादी से संबंधित सभी अपराधों की  बारीकी से निगरानी करने की जिम्मेदारी होगी।
*6.* महिलाओं और बच्चों से संबंधित पूर्व-मौजूदा इकाइयों और सेवाओं जैसे कि महिला सहायता, एंटी-ह्यूमन ट्रैफ़िकिंग यूनिट, विशेष पुलिस किशोर इकाई, 1090 आदि के निगरानी की जिम्मेदारी भी DCP महिला सुरक्षा की होगी। महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा के लिए विभिन्न पहलों के बीच तालमेल बिठाने और पर्यवेक्षण का कार्य भी किया जाएगा।
*7.* नए मॉडल के तहत वैवाहिक विवाद के मामलों में पेशेवर परामर्श सेवाएं प्रदान करने के लिए नॉलेज पार्क पुलिस स्टेशन में एक पारिवारिक विवाद निवारण सेंटर की स्थापना की जा रही है। इसके साथ ही महिलाओं और बाल सुरक्षा के लिए मोबाइल गश्ती वाहनों का बेड़ा भी उपलब्ध कराया जा रहा है।
*8.* इस योजना का उद्देश्य पुलिस और बाल कल्याण समिति, किशोर न्याय बोर्ड, चिकित्सा प्राधिकरण, चाइल्डलाइन और महिलाओं और बच्चों के कल्याण के लिए काम करने वाले विभिन्न गैर सरकारी संगठनों के बीच बेहतर तालमेल बनाना भी होगा।

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा: बेस्ट टैलेंट ऑफ इंडिया में ग्रेनो के बच्चों का चयन, कलर्स चैनल पर होगा जल्द प्रसारित
निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं: चौधरी प्रवीण भारतीय
कांग्रेस के बाद आज बीजेपी का उपवास
कावड़ यात्रा : सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को भेजा नोटिस , जानें क्यों
AUTO EXPO 2018 : यामहा ने YZ R-15 की लांचिंग की
GNIOT मे अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य मे टॉक शो का आयोजन
भूल गए हैं UPI PIN, Google Pay पर ऐसे करें चेंज, यह है आसान तरीका
8 मार्च अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आयोजित विधिक साक्षरता शिविर
Delhi Ncr Water Crisis : दिल्ली और एनसीआर के नोएडा और गाजियाबाद के इलाकों में रहेगी पानी की किल्लत, ...
घूसा जड़ने वाले Zomato के डिलीवरी बॉय ने किया यह बड़ा दावा, महिला ने खुद को किया घायल
Coal Scam News: डोमको प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक बिनय प्रकाश समेत 3 दोषी करार, सजा पर बहस आज
Gandhi Jayanti: राजनाथ सिंह करेंगे लक्षद्वीप में महात्मा गांधी की पहली प्रतिमा का अनावरण
यूपी: स्नातक-परास्नातक के इन छात्रों को किया जाएगा प्रमोट, अंतिम वर्ष के लिए यह है योजना
जहांगीरपुर: भाजपाइयो ने जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया सूखा राशन और मास्क
ब्रेकिंग ग्रेटर नोएडा ईस्टर्न पेरिफेरल हाईवे पर सुबह तड़के कुर्सियों टेम्पो में अज्ञात वाहन ने मारी ...
इरोज सम्पूर्णम के निवासियों का मेंटिनेंस शुल्क बढ़ाने के विरोध में साथ आए विधायक तेजपाल नागर