के ज़िन्दगी महँगी नही है हमने बना दिया था ……

के ज़िन्दगी महँगी नही है हमने बना दिया था,
अन्न महंगा नही है हमने, भूख को ब्रैंड बना लिया था।

रचनाकार- फोटो : राजेश मिश्रा

सिनेमा मल्टीप्लेक्स के बिना भी हम जी सकते है,
संग घर मे लूडो कैरम खेल, दिल बहला सकते है।
दाल चावल से मुँह बिचका फास्टफूड खाते थे
भूल गए थे कि भूख रोटी चावल से भी मिटा सकते हैं।
के ज़िन्दगी महँगी नही थी हमने बना दिया था,
अन्न महंगा नही है हमने भूख को ब्रैंड बना लिया था।

शॉपिंग करना नेसेसरी था ब्रांड्स पहनना ज़रूरी था,
भ्रम था हमारा क्योंकि कपड़ा तो दो ही सेट ज़रूरी था।
घरों से दूर हो गए थे ज़्यादा से ज़्यादा नोट कमाने को

घर से ही दूर सुकूँ है हमने ये भ्रम पाल लिया था।
के ज़िन्दगी महँगी नही है हमने बना दिया था,
अन्न महंगा नही है हमने भूख को ब्रैंड बना लिया था।

गाँव से दूर शहर मे बसने को गाँव बेच दिया था,
पक्के मकान की चाहत मे कच्चा तोड़ दिया था।
अपनी जड़ों से दूर निकल आये थे कई साल पहले
न मालूम क्यों हम सब ने जिला जवार छोड़ दिया था।
के ज़िन्दगी महँगी नही है हमने बना दिया था,
अन्न महंगा नही है हमने भूख को ब्रैंड बना लिया था।

नेचर से भी बड़े हम इंसान है ऐसा सोचने लगे थे,
अंधी इस दौड़ मे हम नेचर को ही ख़त्म करने लगे थे।
इस धरती पे सबका हक़ है इंसान भूलने लगा था,
इंसान जीव जंतुओं को खा के विनाश करने लगा था।
के जीवन इतना भी कठिन नही हमने बना लिया था
हमसे कोई बड़ा नही ,इस सोच को हमने बैठा लिया था।

के ज़िन्दगी महँगी नही है हमने बना दिया था,
अन्न महंगा नही है हमने भूख को ब्रैंड बना लिया था।

राजेश मिश्रा

यह भी देखे:-

शांति का नोबेल: फिलीपींस की पत्रकार मारिया रेसा-रूस के दिमित्री मुरातोव पत्रकार को मिला सम्मान ,
ईयू के सात देशों और स्विट्जरलैंड ने दी कोविशील्ड को मंजूरी ,भारतीय कर सकेंगे यूरोप की यात्रा
CBSE Board Exam 2021 : सीबीएसई दसवीं व बारहवीं की परीक्षा को लेकर शिक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान 
मुहर लगी , लखनऊ -नोएडा में लागू होगी पुलिस कमिश्नर प्रणाली, पुलिस को मिलेंगे ये अधिकार
प्रसपा की रथ यात्रा को सफल बनाने के लिए कार्यकर्ताओं की बैठक
रोटरी क्लब ग्रीन ग्रेनो ने किया पौधारोपण
गौतमबुद्धनगर कोरोना अपडेट : लगातार बढ़ रही है संक्रमित मरीजो की संख्या, जानिए किन इलाकों में बढे मरीज
राजनीति: गृह मंत्री अमित शाह से मिले एनसीपी प्रमुख शरद पवार, सियासी अटकलें तेज
एक क्लिक में जानें क्या है आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन , कैसे मिलेगा इसका फायदा
फोर्स के लिए क्यों और कैसे पहेली बना नक्सली मास्टरमाइंड हिड़मा?
सीबीएसई बोर्ड 12 वीं की परीक्षा 2021 रद्द, पीएम मोदी ने कहा  छात्रों की सुरक्षा और स्वास्थ्य सरकार ...
फिल्म पद्यमावती के खिलाफ क्षत्रिय समाज करेगा प्रदर्शन
एक मार्च से चलेंगी लोकल ट्रेन्स, जानें किन किन स्टेशनों पे रुकेंगी ये ट्रेन्स
मरते दम तक हक व सच की लड़ाई लड़ूंगा-- Navjot Singh Sidhu
दिल्ली-चंडीगढ़ राजमार्ग बना देश का पहला इलेक्ट्रिक वाहन-फ्रेंडली हाईवे
पीएम मोदी के जनसंवाद कार्यक्रम को ग्रेनो की महिलाओं ने सराहा