सदैव अन्याय के खिलाफ उठा है भगवान परशुराम का फरसा

ग्रेटर नोएडा:भगवान परशुराम की जयंती पर शनिवार को कहीं कोई कार्यक्रम नहीं हो पाएगा। कोरोना महामारी के चलते देश भर लॉकडाउन के कारण लोगों को अपने घरों में ही भगवान परशुराम की जयंती मनाना होगा l


ऋषभ शर्मा ने कहा कि वैश्विक महामारी के प्रकोप से बचाने के लिए सभी को मिलजुल का भगवान परशुराम से प्रार्थना करनी चाहिए। परशुराम का अर्थ फरसा धारण किए हुए श्रीराम से है, अर्थात विष्णु अवतार परशुराम को परम पितृभक्त माना गया है। पिता ऋषि जगदग्री एवं माता रेणुका के पांच पुत्रों रुक्मान, सुखेण, वसु, विश्वानस तथा सबसे छोटे पुत्र हुए परश्ुाराम। ब्राह्मण होते हुए भी उन्हें क्षत्रियों की तरह एक वीर योद्धा के रूप में जाना जाता है।
भगवान परशुराम भारत की ऋषि परंपरा के महान वाहक हैं, उनका शस्त्र और शास्त्र दोनों पर ही समान अधिकार था। पंडित शिव किशोर वासुदेव ने कहा कि गंगा पुत्र भीष्म, आचार्य द्रोण तथा कुंती पुत्र कर्ण भी जैसे महायोद्धा उनके शिष्य थे।
भगवान परशुराम का मानना था कि अन्याय करना और सहना दोनों ही पाप हैं। इसलिए उनका फरसा सदैव अन्याय के खिलाफ उठा है। जब उन्हें यह ज्ञात हो गया कि धरती पर भगवान श्रीहरि ने सातवां अवतार श्रीराम के रूप में ले लिया है, तब उन्होंने अपने क्रोध की ज्वाला को शांत करने और तपस्या के उद्देश्य से महेंद्रगिरि पर्वत का रुख किया। ऐसा माना जाता है कि भगवान परशुराम आज भी महेंद्रगिरि पर्वत पर चिरकाल से तपस्यारत हैं। आओ हम मिलकर उन्हें उनकी जयंती पर स्मरण करें और विश्व शांति का उनसे आशीर्वाद प्राप्त करें।

यह भी देखे:-

चिंताजनक: टीकाकरण के बाद लोगों को हो रही बेचैनी और घबराहट, गंभीर हालत में अस्पताल पहुंच रहे मरीज
अवैध शराब सहित एक गिरफ्तार, 44 पेटी हरियाणा मार्का शराब बरामद
बंगाल और ओडिशा के तट से 26 को टकरा सकता है 'यास', पीएम मोदी ने की समीक्षा बैठक
समाजसेवी ओमवीर सिंह आर्य एडवोकेट “श्री संतोष शर्मा अवार्ड" से सम्मानित
नाले में डूबकर दो सफाईकर्मियों की मौत
नहर में गिरी तेज रफ़्तार कार , कार में सवार लोगों की ऐसे बचाई गई जान , पढ़ें पूरी खबर 
खाद्य पोषण के लिए विज्ञान एंव तकनीक का विकास आवश्यकः डॉ विलियम डर
वाराणसीः कोरोना ने वरिष्ठ पत्रकार रमेंद्र सिंह को भी छीन लिया
कंगना रनौत को मिल गया पार्टनर, शादी और बच्चों के प्लान पर खुद किया खुलासा
जीएनआईओटी एमबीए इंस्टिट्यूट द्वारा स्पिकमैके ओरिएंटेशन का आयोजन
अप्रैल से ग्रेटर नोएडा को मिलने लगेगा गंगाजल, गाजियाबाद से आ रही है पाइप लाइन
16 जुलाई को 20 जिले के किसान करेंगे कलेक्ट्रेट पर महापंचायत
पहली बार 307 के आरोपी पर लगाई रासुका, डीएम - एसएसपी की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस
किसान आंदोलन: आज होगा चक्का जाम, जाम से बचना है तो जान लें पूरा शेड्यूल
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मिलेंगे किसान नेता राकेश टिकैत
यूपी: सरकारी दफ्तरों में सभी कार्मिकों की उपस्थिति अनिवार्य, मुख्य सचिव ने जारी किया दिशानिर्देश