सूरजपुर पुलिस ने बड़ी लूट की वारदात को किया विफल ,वांटेड सुपारी किलर समेत तीन को दबोचा

ग्रेटर नोएडा : बीती रात सूरजपुर पुलिस ने चेकिंग के दौरान अनिल पैना समेत तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार करते हुए बड़ी लूट की वारदात को विफल कर दिया है।

गिरफ्त में आये बदमाशों की पहचान अनिल पैना , अरुण उर्फ़ चंकी और प्रदीप बैसोया निवासी लोनी के रूप में हुई है। पुलिस ने इनसे चोरी की अपाचे, स्प्लेंडर, 2 पिस्टल और तीन चाकू बरामद किया है। बरामद पिस्टल
में से 1 वही पिस्तौल है जिससे इसने ट्रोनिका सिटी इलाके में पिता बालेश्वर त्यागी और लेती त्यागी पर जानलेवा हमला किया था। इसमें बालेश्वर त्यागी की मौत हो गई थे और बीटा ललित त्यागी बच गए थे।

लूट की बनाई थी योजना

सीओ प्रथम ग्रेटर नोएडा अमित किशोर श्रीवास्तव ने बताया गिरफ्त में आया अनिल पैना शातिर किस्म का बदमाश है। इनकी योजना सिकंदराबाद में कैश वैन और डेरी लूटने की थी। सीओ ने बताया सिकंदराबाद जिला बुलंदशहर स्थित साईट – 4 में वर्करों का पैसा बैंक से स्कॉर्पियो लेकर आती है। इसमें लाखों रूपये होते हैं। जिसके लूटने की योजना पैना गैंग की थी। इसके अलावा शाह डेरी में भी रोजाना 1.5 लाख रूपये कलेक्शन के आते हैं , जिसे पैना गैंग को लूटना था। इसके लिए ये चार दिन पहले ही अपनी बुआ के गाँव चीती में छुपे पड़े थे। इससे पहले गैंग वारदात को अंजाम देता , तीनो बदमाश सूरजपुर इलाके में पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

लंबा है आपराधिक इतिहास

सीओ अमित किशोर श्रीवास्तव ने बताया अनिल पैना का लम्बा आपराधिक इतिहास रहा है। पैना पिछले नौ वर्षों से आपराध की दुनिया में सक्रीय है। अनिल पर 8 लूट के मामले जिसमे 1 में गोली मारकर लूटने, चार सुपारी लेकर हत्या, चार हत्या का प्रयास, लूट चोरी के लगभग 2 दर्जन मामले दर्ज हैं। इसके दूसरे साथी प्रदीप पर भी गैंगस्टर और लूट का मुकदमा लोनी थाना में दर्ज हैं। इनका तीसरा साथी अरुण उर्फ़ चिंकी अभी मात्र 18 साल का है। उसपर लोनी में चोरी का मुकदमा दर्ज है।

सुपारी लेकर महंत को उतरा था मौत के घाट

सीओ अमित किशोर श्रीवास्तव ने बताया वर्ष 2013 में लोनी के रामपार्क कॉलोनी में स्थित सिद्ध बाबा मंदिर के महंत चेतन दास (42 वर्ष ) की गोली मारकर हत्या कर दी थी। बाबा का भूमि को लेकर विवाद चल रहा था। वारदात के समय महंत, मंदिर कैंपस में चाय पी रहे थे।

ट्रोनिका सिटी के चर्चित त्यागी हत्याकांड में था वांटेड

सीओ अमित किशोर श्रीवास्तव ने बताया अनिल पैना ने बीते 30 मार्च को 5 लाख की सुपारी लेकर ट्रोनिका सिटी के बालेश्वर त्यागी और उनके बेटे ललित त्यागी पर हमला किया था। इसमें पिता बालेश्वर त्यागी की मौत हो गई थी वहीँ बेटा ललित बाल-बाल बच गए थे। हत्या पारिवारिक रंजिश में दीपक और हिमांशु ने सुपारी देकर कराई गई थी। वारदात को अंजाम देने के बाद अनिल पैना फरार था। आज सूरजपुर पुलिस ने उस पिस्टौल को भी बरामद कर लिया है जिससे पैंदा ने त्यागी पिता-पुत्र को गोली मारी थी।

यह भी देखे:-

चोरों का आतंक, घर से तिजोरी उठा ले गए बदमाश, ग्रामीणों में रोष
खनन माफियाओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज
नोएडा थाना 20 पुलिस के हत्थे चढ़े शराब तस्कर
नोएडा -ग्रेटर नोएडा में चलेगा ऑपरेशन टॉरगेट क्रिमिनल अभियान
एनजीटी ने 12 लोगो को दिया जुर्माने का नोटिस
सड़ी गली हालत में मिला शव , शिनाख्त में जुटी पुलिस
ऐसा क्या हुआ नाबालिग बेटे ने ले ली बाप की जान, पढ़े पूरी खबर
प्लेसमेंट एजेंसी संचालक ने नौकरी दिलाकर की घिनौनी हरकत
ईनामी हिस्ट्रीशीटर ने कोर्ट में किया सरेंडर, पुलिस कर रही थी सरगर्मी से तलाश
देशरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद जयंती की पूर्व संध्या पर कायस्थ संगम समिति करेगी भव्य सांस्कृतिक कार्यक...
नार्वे देश की महिला न्याय के लिए लगा रही थाने के चक्कर
नाबालिग को छेड़ने के आरोप में इलेक्ट्रिशियन गिरफ्तार
गैंगस्टर बदमाश अनिल दुजाना गैंग का शातिर बदमाश गिरफ्तार
चोरी की बाइकों के साथ वाहन चोर गिरफ्तार
पुलिस एनकाउंटर में घायल हुआ वांटेड इनामी बदमाश, दो गिरफ्तार
मुख्यमंत्री योगी का आपत्तिजनक फोटो बनाकर सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वाला गिरफ्तार