उद्योग बंधू बैठक : मार्च माह का वेतन कर्मचारियों को दें नहीं तो होगी ये सख्त कार्यवाही

डीएम वार रूम गौतम बुद्ध नगर से।

  • जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. ने उद्योग बंधु की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दिये आवश्यक दिशा निर्देश।
  • कर्मचारियों और मजदूरों के हितों को ध्यान में रखें जनपद के उद्योग बंधु: डीएम।

कोविड-19 कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए जिलाधिकारी गौतम बुध नगर सुहास एल.वाई. ने कैंप ऑफिस नोएडा के सभागार में उद्योग बंधु के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि जनपद गौतम बुध नगर में स्थापित औद्योगिक इकाइयों को देश की कैपिटल के रूप में देखा जाता है और कोविड-19 कोरोना वायरस जैसी महामारी से लड़ने में जनपद गौतम बुद्ध नगर के उद्योग बंधुओं की अहम भूमिका है। अतः जनपद के समस्त बंधुओं के द्वारा अपने अपने कर्मचारियों एवं मजदूरों के हितों का ध्यान रखते हुए मार्च 2020 का वेतन सभी को समय से उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए, ताकि आपातकाल की स्थिति में कर्मचारियों एवं मजदूरों को अपना जीवन यापन करने में किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। डीएम ने स्पष्ट किया है कि यदि सरकार की मंशा के अनुरूप किसी भी औद्योगिक इकाई के द्वारा मार्च माह का वेतन अपने मजदूरों एवं श्रमिकों को देना संज्ञान में नहीं आएगा तो ऐसे प्रकरण में जिला प्रशासन सख्ती के साथ कार्यवाही सुनिश्चित करेगा।

इस अवसर पर आयोजित महत्वपूर्ण बैठक में जिलाधिकारी को कोविड-19 कोरोनावायरस के संबंध में उद्योगपतियों की एसोसिएशन के अध्यक्ष ने अपने अपने सुझाव प्रस्तुत किए। उद्योग बंधु प्रतिनिधियों ने डीएम को अवगत कराया कि मार्च का वेतन 90% से अधिक सभी औद्योगिक इकाइयों ने अपने कर्मचारियों को कर दिया गया है परंतु उन्होंने इकाइयां बंद होने पर अप्रैल का वेतन देने के संबंध में अपनी कठिनाइयों के संबंध में जिलाधिकारी को अवगत कराया। इस संबंध में जिलाधिकारी ने कहा कि सभी उद्योग बंधुओं के द्वारा अपने अपने सुझाव एवं समस्या प्रस्तुत करें, ताकि उनकी समस्याओं व सुझाव से भारत सरकार व प्रदेश सरकार को अवगत कराया जा सके।

जिलाधिकारी ने उद्योग बंधु का यह भी आह्वान किया कि इस आपात की स्थिति में आवश्यक वस्तुएं एवं स्वास्थ्य संबंधित वस्तुओं का उत्पादन करने में सावधानी बरतते हुए सोशल डिस्टेंसिंग, फैक्ट्री के अंदर सैनिटाइजेशन एवं कर्मचारियों व मजदूरों से कम से कम काम लिया जाए, ताकि कर्मचारियों को किसी भी तरह की समस्या का सामना ना करना पड़े। उन्होंने इस अवसर पर यह भी कहा कि लॉक डाउन को दृष्टिगत रखते हुए आगामी भविष्य में औद्योगिक इकाइयों को किस प्रकार से संचालित किया जा सकता है। इस संबंध में भी सभी उद्यमी प्रतिनिधियों के माध्यम से सुझाव भी मांगे गए ताकि संबंधित सुझाव उत्तर प्रदेश सरकार एवं भारत सरकार को भेज कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके। इस महत्वपूर्ण बैठक में उपायुक्त उद्योग केंद्र अन्य संबंधित प्रशासनिक अधिकारियों एवं सम्मानित उद्योग बंधुओं के द्वारा प्रतिभाग किया गया।  —  जारीकर्ता :  जिला सूचना अधिकारी गौतम बुध नगर।

यह भी देखे:-

ग्रामीण  समस्याओं और समाधानों  को लेकर सीईओ से मिला नोवरा
कोयला संकट: एक्शन में आए गृह मंत्री शाह ने बुलाई बैठक, बिजली और कोयला मंत्री पहुंचे
IIT BHU B.TECH की पढ़ाई अँग्रेजी के बजाय हिंदी मे पढ़ायेगा, देश का पहला ऐसा विश्वविद्यालय
ग्रेनो वेस्ट के निवासियों को दिवाली पर मिलेगा ओपन जिम का तोहफा
चिंताजनक: भारतीयों को लगी ऑनलाइन रहने की आदत, कोरोना बना बड़ी वजह
नोएडा फर्जी एनकाउंटर पर सियासत तेज, नेताओं का लगा जमावड़ा
पंजशीर पर कब्जे का जश्न मना रहे तालिबानी, अब पूरे अफगानिस्तान पर हमारा नियंत्रण
ब्रेकिंग ग्रेटर: नोएडा में किन्नर मंडली एक बार फिर डीसीपी कार्यालय पहुंची।
रेस्टोरेंट एवं होटल को होगा प्लास्टिक प्रतिबंध से सबसे बड़ी समस्या
ग्रेनो के 14 गांव बनेंगे स्मार्ट, मायचा से हुई शुरुआत
कविन्दर नागर ने जिला ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश का बढ़ाया मान, बधाई देने वालो का लगा ताँता
बसपा पहली बार करने जा रही नया प्रयोग, यूपी चुनाव जीतने के लिए मायावती की यह है प्लानिंग
COVID 19 : गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन ने बनाया आधुनिक मल्टीपल यूज़ कंट्रोल रूम
गणतंत्र दिवस : लॉयन्स क्लब नोएडा द्वारा विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन
सतर्कता एवं सख्ती :शराब के अवैध कारोबार के खिलाफ अभियान
शिक्षक पर्व 2021: NEP के कई पहल लांच, पढें पूरी रिपोर्ट