COVID-19: मुश्किल वक्त में मुकेश मासूम बने अपने गांव का सहारा

ग्रेटर नोएडा: COVID-19 के कारण संपूर्ण देश में लॉकडाउन लगा हुआ है । ग्रेटर नोएडा के जेवर स्थित दयानतपुर गांव में ऐसे कई परिवार हैं, जिन्हें मजदूरी न मिलने के कारण परिवारों का पालन पोषण बहुत मुश्किल हो गया है। इसी गांव के रहने वाले व्यवसाई और समाजसेवी मुकेश मासूम मुंबई में रहते हैं। उन्होंने सैकड़ों परिवारों को राशन देकर    सराहनीय कार्य किया है।

सैकड़ों किलोमीटर दूर रहने वाले उसी गांव के व्यवसाई द्वारा सैकड़ों परिवारों को राशन दिया गया है। बताया जा रहा है कि गांव के सैकड़ों परिवार मजदूरी करते हैं। रोजमर्रा की जिंदगी में उन्हें रोज कमाकर रोज खाना पड़ता है। हालांकि लॉकडाउन के बाद उनके परिवार का पालन पोषण काफी मुश्किल हो गया था। । कई मजदूर परिवारों के चूल्हे तक जलने में दिक्कत जो रही थी । गांव के कुछ लोगों ने मुंबई में रह रहे व्यवसायी का ध्यान इस तरफ आक्रष्ट कराया । समाजसेवी मुकेश कुमार मासूम जो मुंबई रहते हैं एवं जो मुंबई में प्रसिद्ध व्यवसाई है। और फिल्म राइटर एसोसिएशन के सदस्य हैं। जिन्होंने अपने गांव के सैकड़ों लोगों को एक राशन मुहैया कराया । ब्रह्म सिंह , बनी सिंह , भरतलाल , देवराज गौतम, बीरपाल कंडक्टर आदि ने व्यवस्था का कार्य संभाला ।

यह भी देखे:-

मैक्स हॉस्पिटल वैशाली में खुला नया कोविड टीकाकरण केंद्र
देश में कोरोना के ढाई लाख से ज्यादा नए केस, 10 दिन में दोगुने हो गए ऐक्टिव केस
विनय शर्मा बने बीकेयू के ब्लॉक मीडिया प्रभारी
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की 110 वीं बोर्ड बैठक सम्पन्न
सपा अध्यक्ष का हमला: अखिलेश यादव बोले- किसानों के साथ लगातार छल कर रही सरकार
Srinagar Encounter: सुरक्षाबलों ने मार गिराए लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकी, सर्च ऑपरेशन जारी
ग्रेटर नोएडा वेस्ट के साथी हाथ बढाना सामजिक सहायता ग्रुप की पहल,वैक्सीनेशन रेजिस्ट्रेशन के लिए करेगा...
ईंटे में दबा मृत मिला लापता बच्चा
गलगोटिया विश्विद्यालय की छात्रा प्रियंका मौर्या ने क्लैट एल.एल.एम में पाया छठवां स्थान
नक्सलियों को उनके घर में घेरकर मारने की तैयारी, गृह मंत्रालय ने बनाई रणनीति, शाह के साथ बैठक में अहम...
मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत को लेकर सुरक्षा कड़ी, राकेश टिकैत बोले- हमें रोका तो बैरियर तोड़ देंग...
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर भाजपा की बैठक
लखनऊ : पानी में मिला कोरोना वायरस, तीन जगह लिए गए सैंपल, गंगा में शव मिलने के बाद शुरू हुई जांच
ऑक्सीजन के लिए मोदीनगर से मेरठ तक बना ग्रीन कॉरिडोर, 75 मरीजों की बची जान
जी. डी. गोयंका पब्लिक स्कूल में श्रम दिवस मनाया गया
बिल्डर कर रहे फ्लेट बॉयर्स का शोषण : नेफोमा