नोएडा में कोरोन के मरीजों की संख्या चार हुई, 1000 लोग आईसोलेट किये गए

नोए़डा: यहाँ के सेक्टर 41 में चौथे कोरोना पॉजिटिव केस की पुष्टि हुई है. स्वास्थ्य विभाग ने इसकी पुष्टि कर दी है है. दरअसल कोरोना पॉजिटिव मरीज इंडोनेशिया से वापस लौटा था. फिलहाल कोरोना पॉजिटिव पीड़ित को GIMS मेडिकल कॉलेज में आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है. बता दें कि गौतमबुद्ध नगर में अब कुल चार मामले सामने आ चुके हैं.

गौतमबुद्ध नगर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अनुराग भार्गव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव मरीज हाल ही में इंडोनेशिया से वापस आया था और उसने ही इसकी जानकारी स्वास्थ विभाग को दी थी. जिसके बाद उन्हें घर पर ही आइसोलेट कर दिया गया था. कोरोना पॉजिटिव आने के बाद मरीज को जिम्स मेडिकल कॉलेज में आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया गया है. नोएडा में अभी तक जिन र लोगों में कोरोना पोजिटिव मिला है ये सभी विदेश यात्रा से वापस लौटे हैं . सीएमओ डॉ. अनुराग भार्गव ने बताया लगभग 1000 से ज्यादा लोगों को आइसोलेट किया गया है. सभी मरीजों को घरों पर आइसोलेट किया गया है. बता दें कि मंगलवार देर रात गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ. महेश शर्मा के नेतृत्व में हाई लेवल मीटिंग की गई. मीटिंग में कोरोना वायरस के बचाव और उपायों पर चर्चा की गई. नोएडा-ग्रेटर नोएडा कि सभी आरडब्लूए और निजी संस्थाओं से अपील करते हुए सहयोग की बात भी कही गई है.

यह भी देखे:-

गार्डों की मदद से फ़ैक्टरियों में चोरी करने वाले गिरोह का फर्दाफाश, 7 गिरफ्तार
रोटरी क्लब ने फ्री नेत्र जांच व मोतियाबिंद ऑपरेशन शिविर लगाया
COVID-19: नोएडा ,ग्रेटर नोएडा में 1 महीने का किराया माफ करने का आदेश
एसएसपी ने दो पुलिसकर्मियों को किया निलंबित
पुलिस एनकाउंटर में तीन बदमाश घायल, सिगरेट गोदाम में डाला था डाका
करंट लगने से होटल कर्मी की मौत
नोवरा का सीईओ को पत्र , ग्रामीणों को मिले सुपरवाइज़र की नौकरी
स्वास्थ्य परिचर्चा के साथ सुरों की महफ़िल में अनदेखी प्रतिभा विकास कार्यक्रम श्रंखला "जो आये वो गाये"...
डीएम बी.एन सिंह व एसएसपी लव कुमार ने दिया दीपावली शुभकामना संदेश
नोएडा गैंगरेप में वांटेड दोनों आरोपी गिरफ्तार , 25 हज़ार का था ईनाम
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
गाड़ी के सर्विस सेंटर के बाहर धरने पर बैठा एक परिवार
कोरोना काल में की गई सेवा के लिए आलोक नागर सम्मानित
प्रेमी निकला शादीशुदा तो प्रेमिका ने दे दी जान
GIMS 24 घण्टे उत्तम व गुणवत्तापरक इलाज मुहैया करने के लिए दृढ़ संकल्प : डा0 (ब्रिगे0) राकेश गुप्ता
"हेलमेट नहीं तो तेल नहीं" फैसले का स्वागत