जी एन आई ओ टी एम बी ए इंस्टिट्यूट में दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का समापन

ग्रेटर नोएडा : जी.एन.आइ.ओ.टी. एम् बी ए इंस्टिट्यूट मे सेमिनार के दूसरे दिन की शुरुआत “व्यवसाय संचालन में प्रौद्योगिकी की भूमिका ” विषय पर मुख्य अतिथि श्री एच के शर्मा (एडिशनल डायरेक्टर जनरल – सप्लाई ,मिनिस्ट्री ऑफ़ कॉमर्स & इंडस्ट्री , गवर्नमेंट ऑफ़ इंडिया) जी ने करते हुए कॉन्ट्रैक्ट और सप्लाई चेन के आपसी संबंधों की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए संगोष्ठी में आये हुए प्रतिभागियों को उसके प्रायोगिक उपयोग के बारे में बताया।

श्री संजीव कुमार भाटिया -चीफ जनरल मैनेजर (इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड )जी ने आई जी एल द्वारा अपनाये गए विभिन्न तकनीकियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस के उपयोग के बारे मे बताया कि स्पीच रिकग्निशन : गूगल का वौइस् सर्च फीचर , इमेज रिकग्निशन : फेस डिटेक्शन , जोकि फेसबुक में , कैमरा में इसका फीचर दिखाई देता है यह सब इसी के उदहारण है।चैट बोट्स : हर बड़ी कंपनी के सर्विस सेक्शन में चैट बोट्स होता है, इसमें कंप्यूटर ही आप के प्रश्न के जवाब दे देता है। और यह 24x 7 चालू रहता है।

चेयरमैन -एम् एस डी-4 श्री वी के जैन जी ने 3D प्रिंटिंग के उपयोग के बारे मे बताया ,तेजी से प्रोटोटाइप के अलावा, 3 डी प्रिंटिंग का उपयोग तेजी से विनिर्माण के लिए भी किया जाता है। रैपिड मैन्युफैक्चरिंग मैन्युफैक्चरिंग का एक नया तरीका है, जहां व्यवसाय कम रन / छोटे बैच कस्टम निर्माण के लिए 3 डी प्रिंटर का उपयोग करते हैं।3 डी प्रिंटर का उपयोग विभिन्न प्रकार के चिकित्सा उपकरणों के निर्माण के लिए किया जाता है, जिनमें जटिल ज्यामिति या विशेषताएं शामिल हैं जो रोगी की अनोखी शारीरिक रचना से मेल खाती हैं। अन्य उपकरण, जिन्हें रोगी-मिलान या रोगी-विशिष्ट उपकरण कहा जाता है, एक विशिष्ट रोगी के इमेजिंग डेटा से बनाए जाते हैं।

भारतीय सामग्री प्रबंधन संस्थान से आये सी ए अजित कुमार जी ने बताया कि आजकल आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस कि मदद से ड्रोन का उपयोग किया जा रहा है l जो नई पीढ़ी के स्व-उड़ान ड्रोन का मार्ग प्रशस्त कर रहा है, जो मानव ऑपरेटर की आवश्यकता के बिना कार्यों को पूरा कर सकता है। संभावनाएं अनंत हैं, स्वचालित सुरक्षा निरीक्षणों से लेकर 24/7 डिलीवरी सेवाओं तक।

डायरेक्टर जी.एन.आइ.ओ.टी. एम् बी ए इंस्टिट्यूट डॉ सविता मोहन ने कहा कि समकालीन अवधि में, इंटरनेट तेजी से विकास दिखा रहा है। जब हम इंटरनेट के बारे में बात करते हैं, तो सोशल मीडिया वेबसाइट जैसे फेसबुक, ट्विटर आदि इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की प्रचुर संख्या में मौजूद हैं। इसलिए, ऐसे युग में जहां इंटरनेट की मदद से सब कुछ किया जा सकता है साइबर सुरक्षा भी इंटरनेट के समानांतर बढ़ रही है l
कार्यक्रम के समापन मे संगोष्ठी मे तीस से अधिक शोध पत्र प्रदर्शित हुए जिसमे से उत्कृस्ट शोध पत्र को प्रशस्ति पत्र दिया गया l सभी प्रतिभागियों को भागीदारी का प्रमाण पत्र भी प्रदान किया गया ।

ग्रुप के चेयरमैन श्री राजेश गुप्ता जी ने आये हुए अतिथियों को प्रशष्ति पत्र देकर सम्मान किया एवं सभी का आभार व्यक्त किया

यह भी देखे:-

फीस वृद्धि एंव मनमानी रोकने के लिए अभिभावकों को स्वंय आगे आना होगा : धीरेन्द्र सिंह
शारदा विश्वविद्यालय: महेश भट्ट की मौजूदगी में हुआ मीडिया मेले का शानदार समापन
जी डी गोयनका पब्लिक स्कूल : ऑनलाइन मेडली: द इंटर स्कूल एक्जामिक चैंपियनशिप
शारदा विश्वविद्यालय में 5 वां वार्षिक टेक फेस्ट, 'कंट्रीवान्स' का शुभारभ
यूपीएससी की वेबसाइट पर लिखा था 'डोरेमॉन!!! फोन उठाओ'
दुःखद : सावित्री बाई फूले बालिका इंटर कॉलेज की प्रिंसिपल का निधन
देखें VIDEO, अभिभावक संघ व शिक्षा समिति के लड़ाई में पीस रहे मासूम बच्चे
कलक्ट्रेट पर धरने पर बैठे JRE के छात्र, प्रबंधन की आपसी खींचतान में सैकड़ों छात्रों का भविष्य अधर मे...
आईआईएमटी कॉलेज में सफीक रंगरेज संग छात्रों ने की जमकर मस्‍ती
सेमेस्टर एग्जाम में छात्रों के सहूलियत के लिए AKTU ने उठाया कदम
जी.एल. बजाज संस्थान में BOSH के साथ मिल कर ‘सड़क सुरक्षा’ पर परिचर्चा
आईआईएमटी कॉलेज में शिक्षक मिलन समारोह ‘समागम- 2019’ का आयोजन
सावित्री बाई फुले बालिका इंटर कॉलेज में राष्ट्रीय पुस्तक सप्ताह
RYAN BAGGED NATIONAL GAMES AND AWARD BADMINTON CHAMPIONSHIP
IITian बनना चाहता है UP बोर्ड 12 वीं के जिले का टॉपर आशीष गंगवार
बिजनेस स्टार्टअप में हर्षल और पारस ने मारी बाजी