शारदा विश्विद्यालय पहुंचे आईएएस 3rd टॉपर जुनैद अहमद, अपने अनुभव और सुझावों को साझा किया

ग्रेटर नोएडा: शारदा विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी ने इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी विषय में पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों के जीवन में जोश और उत्साह भरने के लिए प्रेरणादायक वार्ता का आयोजन किया गया । इस वार्ता में संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा में तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले शारदा विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र जुनैद अहमद ने अपने विद्यार्थी जीवन से अपनी भारतीय प्रशासनिक सेवक बनने की यात्रा के बारे में विद्यार्थियों को बताया | स्वागत स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के डीन डॉ परमानन्द ने स्मृति चिन्ह भेट करके किया ।

श्री अहमद ने कहा कि वह आज शारदा विश्वविद्यालय में अपनी भारतीय प्रशासनिक सेवक के रूप में अपने जीवन की नई पारी के लिए अपने शिक्षकों से आशीर्वाद लेने आया हूँ । उन्होंने शारदा विश्वविद्यालय में अपने यादगार दिनों को याद किया और छात्रों के साथ यू.पी.एस.सी. सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी के अपने अनुभव और सुझावों को साझा किया। उन्होंने कहा कि भारतीय प्रशासनिक सेवा परीक्षा के लिए उनकी सफलता का पहला मंत्र उद्देश्य रखना है, उद्देश्य के बिना जीवन दिशाहीन हो जाता है। दूसरी सबसे महत्वपूर्ण चीज है कठोर परिश्रम। उन्होंने बताया मेहनत का कोई विकल्प नहीं है। तीसरा और सबसे महत्वपूर्ण अपनी विफलताओं से सीखना तथा उनसे सबक लेना है।

श्री जुनैद अहमद ने छात्रों को अपने कौशल के साथ अपने-अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने छात्रों से सरकारी सेवाओं में शामिल होने का भी आग्रह किया ताकि वे अपने समाज के लिए कुछ ऐसा कर सकें जिससे समाज निरंतर प्रगति करे ।

शारदा विश्वविद्यालय के चांसलर पी के गुप्ता ने कहा कि कठिनाई हर किसी को निराश करती है, लेकिन निरंतर दृढ़ता, कड़ी मेहनत और चैनलाइज़्ड विज़न के साथ सफलता प्राप्त करने के लिए जीवन की संकल्पना प्रबल हो जाती है। प्रो-चांसलर वाई के गुप्ता ने कहा कि जब हमारी जीतने की इच्छा होगी और सफल होने की निरंतर इच्छा शक्ति हमारे अंदर होगी तभी हम अपने लक्ष्य कि प्राप्ति कर सकेंगे । कुलपति प्रो. जी.आर.सी. रेड्डी ने कहा कि छात्रों को अपने कौशल का सही उपयोग करना चाहिए और सिविल सेवा में करियर तलाश कर समाज के प्रति अधिक झुकाव रखना चाहिए।

स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के डीन प्रो परमानंद ने छात्रों को संबोधित किया और उन्हें सकारात्मक सोच विकसित करने और अपने स्वयं के मिशन और दृष्टि की अवधारणा करने की सलाह दी और धन्यवाद ज्ञापन किया ।

यह भी देखे:-

शारदा विश्वविद्यालय में 5 वां वार्षिक टेक फेस्ट, 'कंट्रीवान्स' का शुभारभ
शारदा विश्विद्यालय के छात्रों को मिला बीएमडब्लू इंजन
ऐतिहासिक कांफ्रेंस : एन.ए.सी.आई.ए.सी.पी-2018 गोल्डन जुबली का भव्य उद्घाटन संपन्न
RYANITE WINNER AT TCS IT WIZ AT DELHI
"एक अध्यापक ही अच्छे राष्ट्र का निर्माण करता है" : दीप चंद्रा
आईआईएमटी कॉलेज की छात्रवृत्ति परीक्षा में 2900 छात्र-छात्राएं शामिल हुए
सीबीएसई 12वीं का परिणाम घोषित, नोएडा की मेघना श्रीवास्‍तव इण्डिया टॉपर
रामईश संस्थान में राष्ट्रिय सेमिनार का आयोजन
गलगोटिया विश्वविद्यालय में रक्तदान शिविर, छात्रों ने दिखाया उत्साह
छात्रों ने निकाली जागरूकता अभियान रैली
जी. डी. गोयंका पब्लिक स्कूल में माँ गायत्री के हवन से नए साल का स्वागत
रंगारंग कार्यक्रम में सावित्री बाई स्कूल की छात्राओं ने पेश की विभिन्न राज्यों की झलक
एस्टर पब्लिक स्कूल ग्रेनो वेस्ट ने मनाया चौथा वार्षिकोत्सव
87 प्रतिशत के औसत अंकों के साथ 363 विद्यार्थीग्रेजुएट हुए
UP Board 10th-12th Result 2017 जारी, ऐसे चेक करे परिणाम
गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय के शत-प्रतिशत छात्र UPTET परीक्षा में हुए उत्तीर्ण