सोशल मीडिया के लिए जिला प्रशासन ने जारी की एडवाइजरी

डीएम वार रूम गौतम बुद्ध नगर से◽◽◽◽◽◽

विद्यार्थियों तथा नागरिकों को सोशल मीडिया के सुरक्षित उपयोग के संबंध में जिला प्रशासन ने जारी की एडवाइजरी

जिलाधिकारी गौतम बुध नगर बी एन सिंह ने समस्त जनपद के विद्यार्थियों तथा नागरिकों से आह्वान किया है कि सोशल मीडिया के सुरक्षित उपयोग के संबंध में शासन के द्वारा आवश्यक जानकारी के माध्यम से सभी को जागरूक करने की अपेक्षा की गई है। इस संबंध में सोशल मीडिया का प्रयोग करते हुए जनपद के समस्त विद्यार्थी नागरिक गण विशेष ध्यान रखें। सोशल मीडिया का समाज/ देशहित में सुरक्षित व सकारात्मक उपयोग किये जाने हेतु अपने दर्शको और सहयोगियों का सम्मान रखें एवं ध्यान रखें कि ऐसा कोई आचरण न करें जो किसी समुदाय/नागरिक/व्यक्ति/ संगठन/सरकार को स्वीकार्य न हो। सभी पोस्ट/टिप्पणी का तत्काल जवाब देने की आवश्यकता नहीं है। इसके अलावा जहाँ भी प्रतिक्रिया आवश्यक है, आपकी पोस्ट सीमित और प्रकरण से सम्बन्धित हो। फर्जी खबरों से प्रभावित न हों। प्रोपगेण्डा से बचें। ऐसे अग्रसारित संदेश/पोस्ट को भेजने/पुनः पोस्ट करने से दूर रहें जो दुर्भावनापूर्ण हैं और प्रामाणिक नहीं हैं। सुनिश्चित करें कि आप सही एवं सटीक जानकारी दे रहे हैं, ताकि आप किसी समुदाय/नागरिक/व्यक्ति/संगठन/सरकार को गलत तरीके से पेश न कर रहे हो। याद रखे कि आप जो कुछ भी पोस्ट करते हैं उसके परिणाम या दुष्परिणाम हो सकते हैं, अतः अपनी सामग्री पर सावधानीपूर्वक विचार करें। यदि आप ऐसा कुछ पोस्ट करने वाले हैं जो आपको थोड़ा सा भी असहज करता हो तो इस बारे में पुनर्विचार करें कि क्या सामग्री पोस्ट की जाए अथवा नहीं। हमेशा स्पष्ट रूप से पहचाने कि आप कौन हैं, तथा समाज/संस्था में आपकी क्या भूमिका है तथा प्रथम व्यक्ति के रूप में प्रकाशित करें।जहाँ आवश्यकता हो, डिस्क्लेमर का उपयोग करें। जब तक कि आप ऐसा करने के लिए प्राधिकृत न हो, विशेषकर विचाराधीन, कानूनी मसौदों, अथवा अन्य व्यक्तियों से सम्बन्धित मामलों मे टिप्पणी और प्रतिक्रिया न दे।अपने क्षेत्र से संबंधित मुद्दों पर तथा प्रासंगिक और उचित टिप्पणियां करें। यह संभाषण को रचनात्मक बना देगा और एक तार्किक निष्कर्ष तक पहुंचने में सहायक होगा, विनम्र रहे सभी के प्रति सम्मान रखें तथा किसी भी व्यक्ति अथवा संस्था के प्रति अथवा उसके विरुद्ध व्यक्तिगत टिप्पणी न करें। साथ ही, व्यवसायिक चर्चा का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए। सकारात्मक हों अथवा नकारात्मक टिप्पणियों के विरुद्ध खुलापन रखें। प्रत्येक टिप्पणी का जवाब देना आवश्यक नहीं है। प्रासंगिक नियमों और विनियमों का अनुपालन करें।बौद्धिक सम्पदा अधिकारों, दूसरों के कापीराइट्स का उल्लंघन न करें। अन्य व्यक्तियों के बारे में निजी जानकारी को प्रकट न करें, साथ ही अपने निजी और व्यक्तिगत विवरण को प्रकाशित न करें, जब तक कि आप उन्हें दूसरों के द्वारा उपयोग किए जाने के लिए सार्वजनिक न करें। अपनी यूजर आई0डी0 और पासवर्ड किसी को भी न बतायें। किसी भी दुर्भावनापूर्ण साइबर हमले अथवा साइबर सुरक्षा उल्लंघन के मामले में सोशल मीडिया एजेन्सी को सूचित करें और किसी कानूनी दुष्परिणाम से बचने के लिए अभिलिखित रूप में रखें। सोशल मीडिया पर प्रकाशित/पोस्ट की गई सामग्री बहुत अधिक ध्यान आकर्षित करती है, अतः ऐसी सामग्री जो दिशानिर्देशों का पालन नहीं करती है, उसे पोस्ट करने से किसी भी कीमत पर बचना चाहिए। जिलाधिकारी ने सोशल मीडिया के प्रयोग के संबंध में नियमों का पालन सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से सभी विभागों, संस्थाओं, निगमों, निकायों, प्राधिकरणों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के द्वारा भी शासन के निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करने का आह्वान किया है। राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गौतम बुध नगर।

यह भी देखे:-

COVID-19:गलगोटिया विश्वविद्यालय के उदासीन रवैए से छात्र परेशान
जेवर नगर पंचायत बोर्ड की बैठक मे सभासदो का हंगामा, बैठक स्थगित
यमुना प्राधिकरण के गाँव अब बनेंगे स्मार्ट विलेज
अपडेट : दर्दनाक सड़क हादसे में दो इंजीनीयर की मौत
सिलिंडर फटने से युवक की मौत, दो झुलसे
ग्रेटर नोएडा में होगा राष्ट्रीय संगीत सम्मलेन
आरडब्ल्यूए के चुनाव में सियासी नारों की गूंज
विश्व पर्यावरण दिवस पर महिला उन्नति संस्थान ने किया पौधारोपण
एसपी कुमार रणविजय सिंह ने संभाला कार्यभार, गिनाई प्राथमिकताएं, पढ़े पूरी खबर
लोकसभा चुनाव : डीएम -एसएसपी ने पारा मिलिट्री फोर्स के साथ पैदल गश्त किया
धूमधाम से मनाएंगे योगी का जन्मदिन
ग्रेटर नोएडा : बंदरों का आतंक, मुसीबत में जान
पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए एबीवीपी ने निकाला कैंडल मार्च
आधे अधूरी सुविधाओं के साथ फ़्लैट दे रहे हैं बिल्डर - नेफोमा
प्रशासन की बड़ी कार्यवाही , हल्दीराम की उत्पादन ईकाई से नमूने लिए, जेवर में मिलावटी मिठाई नष्ट किया ,...
राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान में मेडिकल पाठ्यक्रम में बदलाव पर कार्यशाला