यथार्थ अस्पताल में गर्भवती महिलाओं के लिए विशेष प्रोग्राम “किलकारी” का उद्घाटन

ग्रेटर नोएडा: लोगों के लिए हेल्थकेयर की सभी सुविधाओं को उपलब्ध कराने के उद्देश्य से यथार्थ सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल ने महिलाओं और बच्चों के लिए एक विशेष सेवाओं का उद्घाटन किया।

किलकारी- यथार्थ सेंटर फॉर वुमन एंड चिल्ड्रेन ने गर्भवती महिलाओं के लिए एक एंटीनेटल प्रोग्राम लॉन्च किया, जिसमें फिजियोथेरेपी, योगा सेशन्स, डाइट काउंसलिंग, बेबी फीड काउंसलिंग (लैक्टेशन), मेटर्निटी फोटोशूट, गिफ्ट हैंपर्स आदि शामिल हैं। इस नए प्रोग्राम का उद्घाटन गौतम बुद्ध नगर के चीफ मेडिकल ऑफिसर, डॉक्टर अनुराग भार्गव ने किया । कार्यक्रम में गायनाकोलॉजिस्ट की टीम -डॉ सोनाली गुप्ता, डॉ ममता झा, डॉ सुमन मेहला, डॉ लतिका सिनसिनवार- सहित नियोनेटोलोजिस्ट, एनेस्थेटिस्ट, डाइटीशियन, लैक्टेशन काउंसलर और फिजियोथेरेपिस्ट का सहयोग रहेगा। ऐसे प्रोग्राम गर्भवती महिलाओं की सही डाइट, उचित एक्सरसाइज और उनके समग्र स्वास्थ के लिए बेहद लाभकारी और जरूरी होते हैं, जिससे नॉर्मल डिलीवरी की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

किलकारी- यथार्थ सेंटर फॉर वुमन एंड चिल्ड्रेन बेहतरीन उपकरणों, लेवल 3 नियोनेटल इंटेंसिव केयर यूनिट (एनआईसीयू) और एडवांस पेडिएट्रिक इंटेंसिव केयर यूनिट (पीआईसीयू) से लैस है। स्त्रीरोग विशेषज्ञ और बाल रोग विशेषज्ञों की 24 घंटे उपलब्धता एवम देखभाल, आधुनिक उपकरण और ऑपरेशन थिएटर की सुविधाएँ के रहते यह केंद्र रोगियों के लिए एक वरदान है।

यथार्थ सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के प्रबंध निदेशक, डॉक्टर कपिल त्यागी ने बताया कि, “13 बेड वाले एनआईसीयू और 10 बेड वाले पीआईसीयू और बेहतरीन डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ वाला आधुनिक सेंटर मरीजों के लिए 24 घंटे खुला है । आधुनिक तकनीकों और हेल्थकेयर की बेहतरीन सुविधाओं के साथ हम महिलाओं और बच्चों को बेहतर सुविधा प्रदान करने के लिए तत्पर हैं ।”

देश में एनआईसीयू की उपलब्धता में कमी के कारण बच्चों की मृत्यु के मामलों में वृद्धि हुई है। बच्चों के लिए उचित सुविधाओं की कमी के कारण यह मेडिकल क्षेत्र का एक कमजोर हिस्सा बना हुआ है। यथार्थ का यह सेंटर नवजात बच्चों एवम गंभीर रूप से बीमार बच्चों की विशेषकर देखभाल प्रदान करने में सक्षम है।

यथार्थ सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के निदेशक, यथार्थ त्यागी ने बताया कि, “किलकारी महिलाओं के सम्पूर्ण स्वास्थ्य के लिए उचित है, जहां दर्दरहित (पैनलेस) डिलीवरी, हाई रिस्क प्रेग्नेंसी, लेट प्रेग्नेंसी आदि जैसी समस्याओं से राहत दिलाने के लिए आधुनिक तकनीकों द्वारा उपचार किया जाता है। हर उम्र की महिलाओं को अलग-अलग प्रकार की समस्याएं होती हैं, किलकारी इन सभी समस्याओं का बेहतरीन इलाज प्रदान करता है।”

यह अपने आप में पहला कदम है, जो स्थानीय और पड़ोसी शहरों के लोगों के लिए बेहद लाभकारी साबित होगा। किलकारी के एक्सपर्ट्स महिलाओं और बच्चों से संबंधित सभी बीमारियों का इलाज करने में सक्षम हैं। जिन मरीजों को तत्काल इलाज की आवश्यकता है, उनके लिए इमरजेंसी का विशेष प्रबंधन भी किया गया है।

यह भी देखे:-

PM मोदी ने लॉन्च किया e-RUPI, जानिए किस तरह काम करता है यह डिजिटल पेमेंट सॉल्यूशन
क्या ओलंपिक बनेगा सुपर स्प्रेडर: अमेरिकी एथलीटों ने टीके से इनकार किया, दुनियाभर के कई खिलाड़ी बिना ...
बदमाशों ने की आॅटो रिक्शा चालक से लूटपाट
वामपंथी कन्हैया और जिग्नेश आज होंगे कांग्रेसी, क्या होगा परिणाम
पुलिस चेकिंग के दौरान लाखों कैश जब्त, चुनाव के दौरान खपाने की आशंका 
कठुअा व उन्नाव की घटना पर महिलाओं व युवाओ में आक्रोश, कैंडल मार्च निकाला
कड़कड़ाती ठंड से बचाव के लिए नन्हक फाउंडेशन ने किया गर्म कपड़े का वितरण
अलर्ट: हरिद्वार से छोड़ा 3.75 लाख क्यूसेक पानी, यूपी में उफान पर गंगा, इन दो जिलों पर मंडरा रहा बाढ़...
प्रख्यात मधुमेह रोग विशेषज्ञ  FACE  की प्रतिष्ठित फैलोशिप से सम्मानित, अमेरिका में हुआ कन्वेंशन समार...
यूपी: शुरू हो रही है 25 जुलाई से शुरू  कांवड़ यात्रा- मुख्यमंत्री योगी , तैयारियां पूरी करने के निर्...
कोरोना संक्रमण रोकने के लिए पीएम मोदी का पांच सूत्रीय रणनीति पर जोर, राज्यों में केंद्रीय टीम भेजने ...
Corona Cases in India: त्योहारी सीजन में मंद पड़ी कोरोना की रफ्तार, बीते 24 घंटे में 12 हजार नए मामल...
बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का सपाइयों ने किया दौरा
Bank Holidays List: July में इन तारीखों को बंद रहेंगे बैंक
भारतीय योग संस्थान द्वारा ऑनलाइन योग दिवस धूमधाम से मनाया 
नोएडा : निर्माणाधीन बिल्डिंग की दीवार गिरी, दो की मौत, तीन घायल