जीबीयू और आईपीयूए के बीच समझौता ज्ञापन एमओयू पर हस्ताक्षर

ग्रेटर नोएडा: गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय (जी बी यू) और इंडियन पॉलीयूरेथेन एसोसिएशन (आईपीयूए) के बीच आगामी शैक्षणिक सत्र 2020-2021 से एप्लाइड केमिस्ट्री, स्कूल ऑफ वोकेशनल स्टडीज एंड एप्लाइड साइंसेज विभाग में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन पॉलीयूरेथेन टेक्नोलॉजी नाम से एक नया कोर्स शुरू करने के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। एमओयू पर जीबीयू के रजिस्ट्रार श्री बच्चू सिंह और आइपीयूए के अध्यक्ष डॉ महेश गोपालसमुन्दरम ने माननीय कुलपति प्रो0 भगवती प्रकाश शर्मा प्रो- श्वेता आनंद डीन एकेडेमिक्स, प्रो0 पी0 के0 यादव, डीन अनुसंधान एवं योजना, प्रो- एन पी मेलकानिया स्कूल के डीन, एप्लाइड केमिस्ट्री विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ जया मैत्रा, एप्लाइड केमिस्ट्री विभाग , डा0 मनमोहन सिंह शिशौदिया और डा0 राजेश कुमार गुप्ता, संकाय सदस्य स्कूल ऑफ वोकेशनल स्टडीज एंड एप्लाइड साइंसेज की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए।

भारतीय पॉलीयूरेथेन एसोसिएशन आईपीयूए भूमंडलीकृत समाज में विविध अनुप्रयोगों में पॉलीयूरेथेन के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए पॉलीयूरेथेन पेशेवरों द्वारा शुरू किया गया एक संगठन है। आईपीयूए कच्चे माल, मशीनरी निर्माताओं योजक आपूर्तिकर्ताओं प्रोसेसर शिक्षाविदों प्रयोगशालाओं और कई अंतिम उपयोगकर्ताओं से पॉलीयूरेथेन उद्योग के पूरे स्पेक्ट्रम का प्रतिनिधित्व करता है जिसने विभिन्न अंतरराष्ट्रीय आयोजनों और सम्मेलनों में भाग लेकर भारतीय पॉलीयूरेथेन उद्योग को वैश्विक मानचित्र पर रखा है। आईपीयूए का मुख्य उद्देश्य पॉलीयूरेथेन उद्योग और संबद्ध उत्पादों से संबंधित सभी प्रकार के वैज्ञानिक और आर्थिक अनुसंधान और विकास को संस्थान, प्रोत्साहित विकसित और प्रगति करना है शिक्षा प्रशिक्षण और जनशक्ति विकास में सहायता करना है। इस एमओयू के पीछे मुख्य विचार है पेशेवरों को तैयार करना जो आधुनिक भूमंडलीकृत विश्व अर्थव्यवस्था के इस नए और अछूता उद्यम में एक प्रमुख भूमिका निभा सकते है। माननीय कुलपति प्रो भगवती प्रकाश शर्मा ने कहा कि हम पॉलीयूरेथेन प्रौद्योगिकी और संबद्ध उद्योगों में नई ऊंचाइयों को बढ़ाने के लिए इतिहास रचेंगे।

स्कूल ऑफ वोकेशनल स्टडीज एंड एप्लाइड साइंसेज गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के आठ स्कूलों में से एक है जो राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय ख्याति के संस्थानों प्रयोगशालाओं और उद्योगों के सहयोग से अनुसंधान प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है । हम स्कूल में हमेशा विचारों संसाधनों और ज्ञान के आदान-प्रदान के लिए उद्योग इंटरफेस प्लेटफार्मों का एक विस्तृत स्पेक्ट्रम बनाने की कोशिश कर रहे हैं जिसका उद्देश्य यूजी / पीजी अनुसंधान स्तरों में उद्योग अकादमिक सहयोग इंटरफेस अवसरों के लिए स्काउट करना है । आईपीयूए के साथ यह नया टाईअप जीबीयू को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर रखेगा।
समझौता ज्ञापन की भविष्य की दृष्टि पॉलीयूरेथेन और संबंधित उद्योगों के लिए पेशेवरों को तैयार करने के उद्देश्य के साथ अग्रणी अकादमिक उद्योग सहयोग को चित्रित करना है। कार्यक्रम कौशल और व्यक्तित्व विकास को बढ़ाने के लिए सिद्धांत व्यावहारिक और उद्योग इंटर्नशिप का एक समामेलन है । इसमें दोनों पक्षों की सहमति से निकट भविष्य में जीबीयू में पॉलीयूरेथेन अनुसंधान मूल्यांकन परीक्षण सत्यापन आदि के लिए तकनीकी केंद्र स्थापित करने की संभावनाएं भी प्रदान की जाएंगी । एप्लाइड केमिस्ट्री डिपार्टमेंट के इस ब्रॉड विजन के साथ जीबीयू और आईपीयूए संयुक्त रूप से आगामी शैक्षणिक सत्र 2020-2021 से 30 सीटों के साथ एक साल का पीजी डिप्लोमा प्रोग्राम शुरू करने जा रहे हैं।

यह भी देखे:-

गलगोटियास विश्वविद्यालय में मनाया गया चौथा दीक्षांत समारोह
गलगोटिया विश्विद्यालय ने CAMPUS SELECTION में स्थापित किया कीर्तिमान, पढ़ें पूरी खबर
दिल्ली टेक्निकल कैंपस में "मैन्युफैक्चरिंग एंड मटेरियल दुनिया का भविष्य" पर सेमिनार
सावित्री बाई फूले बालिका इंटर कॉलेज में "वन महोत्सव" का आयोजन 
शारदा विश्वविधालय में "दीप श्रृंखला - एक दीप शहीदों के नाम ''
गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन की बड़ी कार्यवाही, कई गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों पर जड़ा ताला
शारदा विश्वविद्यालय : महात्मा गाँधी की 150 वीं जयंती पर, बापू के अनमोल विचारों की पेश की गई झलक
स्काईलाईन ग्रुप ऑफ़ इंस्टिटयूट : कनाडा में रोजगार प्राप्त करने हेतु सेमिनार
RYAN GREATER NOIDA RANKED TOP 5 ALL INDIA ENVIRONMENT FRIENDLY SCHOOLS AWARD
मेगा जॉब फेयरः जी.एन. ग्रुप में खुला नौकरियों का पिटारा
“जीएनआईओटी में ‘विश्व महिला दिवस’ मनाया गया”
सावित्री बाई फुले जयंती : स्कूल में दी गई श्रद्धांजलि
जीडी गोयनका में दीक्षांत समारोह का आयोजन
शारदा विश्विद्यालय में अंतरष्ट्रीय छात्रों का समुदाय मनाएगा दिवाली , ओम बिड़ला होंगे मुख्य अतिथि
युनाइटेड कॉलेज मे 200 पौधो का हुआ वृक्षारोपण
पुरानी यादें ताजा कर भावुक हुए जी.एन.आई.ओ.टी. कॉलेज के छात्र