हिन्दी साहित्य को नया अमली जामा पहना रहा है वेब-चौपाल “तीखर”

ग्रेटर नोएडा। हिन्दी साहित्य का नया शिल्पकार तीखर आज के डिजिटल युग में हिन्दी साहित्य की नई परम्परा का संवाहक है। यह एक नए रूप में बड़े ही रोचक कलेवर के साथ जिस अनूठे अंदाज में हिन्दी का प्रस्तुतिकरण कर रहा है, वह वाकई प्रशंसनीय है। हिन्दी साहित्य जगत में ‘तीखर’ फेसबुक का एक ऐसा लोकप्रिय पेज है जो हिंदीभाषा की सेवा व समृद्धि के लिए निरंतर लगा हुआ है। यह एक छोटा मगर प्रतिबद्ध और समर्पित प्रयास है। दरअसल, यह पेज साहित्य/कला के प्रेमियों, सुधि पाठकों, कवियों लेखकों, विचारकों एवं समीक्षकों का अपना जमघट है। इसने नवोदित लेखकों को एक प्रोत्साहन दिया है ताकि वे हिन्दीभाषा व साहित्य मे अपने योगदान को लेकर गौरवान्वित हो सकें।

साथ ही साथ तीखर उन साहित्यकारों के लिए भी क्रियान्वित है जो अभाव के चलते हाशिये पर रहे हैं, जो समाज से उपेक्षित रहे हैं। ग्रेटर नोएडा निवासी इसके संस्थापक संपादक प्रवीण अग्रहरि बताते हैं कि यह महज़ एक पेज ही नहीं बल्कि एक वेब-चौपाल है, जहाँ पर हम बात करते हैं उन साहित्यकारों की जिन पर गुजरे समय के साथ धूल की एक परत जमा हो गई है। जिनके धुँधले चेहरे और कुछ बातें ही देखने या सुनने को मिलती हैं। तीखर बस एक छोटा सा प्रयास है उस धूल को हटाकर, उन सभी चेहरों और उनकी बातों को हम सब के बीच लाने का। ऐसे मूर्धन्य लोग जिनका एक महत्वपूर्ण योगदान रहा है तत्कालीन समाज को कलमबद्ध करने का और बताने का कि हमनें क्या गलतियाँ की हैं और कहाँ पर कितनी गलतियाँ की हैं। साथ ही हम ये भी समझें कि कितनी सुन्दरता वो अपनी लेखनी में कैद करके रख गए थे जब कोई कैमरा नहीं था। हर मौसम के रंग और खुशबू को कागजों में सहेज कर रख दिया गया था, हर फूल और फल की महक और स्वाद को इतना सुन्दर तरीके से वर्णन किया कि आप उसे सिर्फ महसूस ही नहीं करें अपितु जी भी सकें। इस प्रकार यह उन साहित्यकारों को समर्पित है, जिनके नाम भी अब शायद कुछ ही लोगों को याद है। यह हिन्दीसाहित्य की जागरूकता को लेकर समय समय पर ऑनलाइन प्रतियोगिता भी करवा चुका है।

यह भी देखे:-

शारदा विश्विद्यालय के पाठ्यक्रम में शामिल हुआ साइबर सुरक्षा
RYANITES VIEWS THE DIRECT INTERACTION OF HON'BLE PRIME MINISTER WITH STUDENTS
फोर्टिस में समय पर इलाज मिलने से 91-वर्षीय मरीज़ को अपनी रोज़मर्रा की गतिविधियों में आत्मनिर्भर होने...
गलगोटिया के छात्रों ने जीता प्रथम पुरस्कार
जिम्स  निदेशक  ब्रिगेडियर डॉ. राकेश गुप्ता द्वारा ईशान कॉलेज के छात्रों को फ्री मेडिकल किट का वितरण
गौतमबुद्ध नगर : हाईस्कूल में वैभव नागर तो इंटरमीडिएट में अनुभा नागर ने टॉप किया, दोनों बनना चाहते ह...
यूपी बोर्ड परीक्षा को लेकर पुलिस अलर्ट, अधिकारियों ने किया परीक्षा केंद्र का निरीक्षण
एक्यूरेट में फ्रेशर पार्टी, फाजिलपुरिया के गाने "लड़की ब्यूटीफुल ... " पर झूमे छात्र
राष्ट्रीय ध्वज 130 करोड़ भारतीयों की एकता का प्रतीकः डॉ. मयंक अग्रवाल
 GBU Exhibit its Drone Centre at Bharat Drone Mahotsav 2022
किसी को भूखा सोने नही देना है, जाते जाते बता गए किशोर, क्या है रोटी बैंक
'कोरस -19' का धमाकेदार आगाज़ आज, तैयारियों में डूबा विश्व विद्यालय परिसर
शिक्षण संस्थानों में धूम-धाम से मनाई गयी जन्माष्टमी
ग्रेटर नोएडा में 16 जुलाई को टेक्नोत्थलोन परीक्षा, विजेता जायेंगे नासा
"एक्यूरेट में नवप्रवेशित छात्रों के लिए हुआ फ्रेशर्स पार्टी का आयोजन"
BIMTECH धूम-धाम से मनाएगा अपना 31 वां स्थापना दिवस , आम लोग भी संस्कृतिक महोत्सव “सबरंग” का उठा सके...