वेतन की मांग को लेकर वीवो के कर्मचारियों का हंगामा

ग्रेटर नोएडा : ईकोटेक एक कोतवाली क्षेत्र के टेक जोन में बनी वीवो कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों ने आज शाम को कंपनी गेट पर जमकर हंगामा किया। आरोप है कि नौकरी से निकाले जाने पर कर्मचारियों ने विरोध किया तो बाउंसर ने उनके साथ मारपीट की। बाउंसरो की मारपीट में आधा दर्जन कर्मचारी घायल हुए। मारपीट से गुस्साए कर्मचारियों ने कंपनी के अंदर तोड़फोड़ कर दी । कपनी के अधिकारियों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने कंपनी पर पहुंचकर हालात पर काबू पाया। तोड़फोड़ के बाद कंपनी के बाहर एक हजार के करीब कर्मचारी एकत्र हो गए। नौकरी से निकाले गए कर्मचारियों ने बताया कि पिछले एक महीने में करीब तीन हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकाला जा चुका है। आरोप है कि निकाले गए कर्मचारियों को दो महीने का वेतन भी नहीं दिया गया।

टेक जोन में स्थित वीवो कंपनी में हजार की संख्या में कर्मचारी कार्यरत है। कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि पिछले एक महीने से उनके साथ लगातार अभद्र व्यवहार किया जा रहा है। कभी उनके गले से कार्ड छीन लिया जाता तो कभी उनको गेट से अंदर नहीं आने दिया जाता। कोई कर्मचारी इसका विरोध करता तो उसके साथ मारपीट की जाती। दो महीने का वेतन भी कर्मचारियों को नहीं मिला है। पिछले एक महीने से लगातार कर्मचारियों को नौकरी से निकाला जाता रहा है। आरोप है कि कभी सौ तो कभी दो सौ कर्मचारियों को बिना बताए कंपनी प्रबंधन कर्मचारियों को निकाल देता। मंगलवार शाम जब 650 कर्मचारियों को एक साथ बाहर निकाला गया तो कर्मचारियों के सब्र का बांध टूट गया। कर्मचारियों ने इसका विरोध किया तो कंपनी के बाउंसरो ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। कंपनी के अंदर भगदड़ मच गई। गुस्साई भीड़ ने कंपनी के अंदर जमकर तोड़फोड़ की। शीशे तोड़े गए और आग लगाने का प्रयास किया गया। कंपनी के अंदर हालात बिगड़ते देख मामले की सूचना पुलिस को दी गई। नौकरी से निकाले गए लोगों की भीड़ ने गेट पर हंगामा करना शुरू कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने कर्मचारियों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन कर्मचारी नहीं माने और गेट पर विरोध प्रदर्शन करते रहे।

कर्मचारी कर रहे हैं वेतन और पीएफ की मांग

कर्मचारियों की मांग है कि उनको नौकरी से निकाला गया है तो कंपनी को उनका बकाया वेतन देना चाहिए और कर्मचारियों का पीएफ देना चाहिए। कर्मचारियों का कहना है कि यदि कंपनी ने उनका बकाया नहीं दिया तो वह लोग विरोध करेंगे।

एसएसपी लव कुमार ने बताया कि कंपनी पर कर्मचारियों के द्वारा तोड फोड करने की सूचना पर पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। हालात काबू में हैं लेकिन मेरी कर्मचारियों से अपील है कि वह कानून अपने हाथ में न लें और शांति से अपनी बात रखे।

यह भी देखे:-

दिल्ली में लॉकडाउनः 50 प्रतिशत क्षमता के साथ 30 मिनट के अंतराल पर चलेगी मेट्रो
the major issues in the budget 2020-21 are to balance between consumption and investment :Prof Yami...
नॉएडा चित्रगुप्त सभा के अस्तित्व पर हुई चर्चा, होगा पुनर्गठन, लाल बहादुर शास्त्री जी के जन्म दिवस प...
मोहब्बत की सजा मौत: भाइयों ने पकड़े हाथ-पैर, मां ने दबाया बेटियों का गला, फंसने के डर से ऐसे ठिकाने ...
अन्ना सत्याग्रह के चलाया जागरूकता अभियान
ग्रेनो वेस्ट निवासियों व नेफोवा ने पाकिस्तान का पुतला जलाया
ग्रेनो वेस्ट के आठ सोसाईटी में बीजेपी की आधिकारिक टीमों की घोषणा
क्या सुधरेंगे भारत-पाकिस्तान के संबंध? इमरान खान ने बुलाई है हाई-लेवल बैठक, व्यापार शुरू करने को लेक...
हिमाचल से बनारस आयी महिला, पबजी खेलते खेलते हुआ प्यार, प्रेमी को देख वापस लौट गई ,जानें पूरी कहानी
PARA ASIAN GAMES 2018 में वरुण भाटी ने झटका सिल्वर मेडल , गाँव में ख़ुशी की लहर
ग्रेटर नोएडा में जोमैटो की सुविधा ठप्प
SSC CHSL Exam 2020: स्थगित हुई सीएचएसएल टियर 1 परीक्षा, कोविड-19 के चलते कर्मचारी चयन आयोग ने की घोष...
जीएसटी में पंजीयन कराने पर व्यापारियों को मिलेगा 10 लाख रूपये का मुफ्त बीमा : डिप्टी कमिश्नर
4 और गुंडों पर लगाया गया गैंगस्टर
किसान आदर्श इंटर कॉलेज मे शिक्षार्थियों के साथ शिक्षा जागरूकता अभियान
जीन्स विवाद: सीएम तीरथ सिंह रावत ने मांगी माफी, कहा-भावनाएं आहत हुई हैं तो क्षमा मांगता हूं