आईटीबीपी स्थापना दिवस परेड का आयोजन, गृह राज्य मंत्री ने ली परेड से सलामी

ग्रेटर नोएडा भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के 58वें स्थापना दिवस परेड आईटीबीपी की 39वीं वाहिनी, ग्रेटर नोएडा में आयोजित की गई। जी किशन रेड्डी, केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री, भारत सरकार ने परेड से सलामी ली। श्री रेड्डी ने बल के सभी पदाधिकारियों को आईटीबीपी स्थापना दिवस पर बधाई दी और आईटीबीपी द्वारा देश के हिमालयी क्षेत्र में स्थित अति कठिन एवं दुर्गम अग्रिम चैकियों पर उत्साह और चौकसी से की जा रही ड्यूटियों के लिए हिमवीरों की प्रशंसा की।

परेड में बल की सभी सीमांत की टुकडियों ने भाग लिया इसके रूप में महिला, कमांडो, स्कीइंग, माउं‍टेनियरिंग, पैराट्रूपर्स, डॉग स्क्वाइड व अश्वारोही सवार दस्ते क्रमानुसार सम्मिलित रहे । परेड में बल के सभी पहलुओं को दर्शाया गया जिसमें बल में शामिल किए गए उपकरण तथा वाहनों के साथ साथ विभिन्न प्रकार के ऑल टेरेन व्हीकल्स, विभिन्न हाई पावर एस.यू.वी., पोलनेट इत्यादि सम्मिलित थे। परेड में बल के पदद्मश्री और तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवार्ड विजेता कर्मियों को भी शामिल किया गया ।

एस. एस. देसवाल, महानिदेशक, आईटीबीपी ने मुख्य अतिथि एवं अन्य गणमान्य अतिथियों का स्वागत किया और बल के विभिन्न क्रिया-कलापों और पिछले कुछ वर्षों में बल की उपलब्धियों पर प्रकाश डाला।

इस मौके पर आईटीबीपी के 06 पदाधिकारियों को वीरता के लिए पुलिस पदक, 06 पदाधिकारियों को विशिष्टं सेवा के लिए राष्ट्रीपति पुलिस पदक, 24 अन्य पदाधिकारियों को सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक तथा 08 पदाधिकारियों को यूनियन होम मिनिस्टर्स मेडल फॉर एक्सीलेंस इन पुलिस ट्रेनिंग से विभूषित किया गया।
माननीय गृह मंत्री ने वर्ष के सर्वश्रेष्ठ संस्थानों को ट्रॉफी प्रदान की जिनमें सर्वश्रेष्ठी प्रशिक्षण केंद्र की ट्रॉफी एस.टी.एस., शिवपुरी (म.प्र.) ने प्राप्त की तथा स्वच्छता ट्रॉफी 38वीं वाहिनी, राजनंदगांव ने प्राप्त की।

वर्ष 2019 के लिए बल की 13वीं वाहिनी, लिंगडम को सर्वश्रेष्ठी बॉर्डर बटालियन 26वीं वाहिनी, लुधियाना को सर्वश्रेष्ठप नॉन बॉर्डर बटालियन तथा 38वीं वाहिनी, राजनंदगांव को सर्वश्रेष्ठि ए.एन.ओ. बटालियन घोषित किया गया और ट्रॉफी भेंट की गईं।
इस मौके पर बल की वर्षभर की उपलब्धियों को संजोए एक वार्षिक विषेशांक पुस्तिका का भी विमोचन किया गया। परेड के बाद अनेक प्रदर्शन दिखाए गए जिसमें महिला पाइप बैंड, असेंडिंग एंड डिसेंडिंग टेकनीक एंड आर्टिफिशियल वॉल, मलखम’’ एवं जाँबाज मोटर साइकिल के प्रदर्शन शामिल थे।

आईटीबीपी का गठन 1962 में किया गया था। वर्तमान में यह बल उच्च तुंगता वाले क्षेत्रों में 3000 से 18900 फीट की ऊँचाई पर स्थित अग्रिम चैकियों पर तैनात रहकर 3488 किमी0 लंबी भारत-चीन सीमा की सुरक्षा का कार्य कर रही है। इसके अतिरिक्त यह बल नक्सल प्रभावित इलाकों के साथ-साथ आंतरिक सुरक्षा व वीआईपी सुरक्षा ड्यूटियों में भी तैनात है।

यह भी देखे:-

इन शहरों में  कर सकते हैं PAYTM के जरिये चालान का भुगतान
पहली बार 307 के आरोपी पर लगाई रासुका, डीएम - एसएसपी की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस
श्री आदर्श रामलीला सूरजपुर : रावण ने छल से किया सीता हरण
आईआईए द्वारा जीएसटी पर कार्यशाला आयोजित
एयरटेल के डिस्ट्रीब्यूटर से कि 7 लाख की लूट
रेप के आरोप में पड़ोसी गिरफ्तार
एस्टर पब्लिक स्कूल में वार्षिक खेल सांस्कृतिक महोत्सव, बच्चों ने दिखाई प्रतिभा
एसएसपी धर्मेंद्र सिंह की प्रेस कांफ्रेंस - केन्याई छात्रा के साथ नहीं हुई मारपीट
मायावती के भाई आनंद पर धोखाधड़ी का आरोप, मुकदमा दर्ज 
गौतमबुद्ध नगर लोकसभा के इस प्रत्याशी पर आचार सहिंता उलंघन मामले में एनसीआर दर्ज
आतंक के खिलाफ हर कदम पर सहयोग करेंगे - मो. बिन सलमान
राज्य मंत्री महेश चन्द्र गुप्ता ने किया जिम्स संस्थान का निरीक्षण, किया अमृत फार्मेसी का लोकार्पण
अब वरिष्ठ समाजसेवी अन्ना हजारे किसानों को हक़ दिलाएंगे
नवरात्र सप्तमी पर बिलासपुर में धूमधाम से निकाली गयी माँ काली की शोभायात्रा
एनकाउंटर केस में पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की अर्जी कोर्ट ने की ख़ारिज , एक बदमाश ने क...
वकील से मारपीट का मामला , सात पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज